बीकानेरराजस्थान

इस तारीख तक अपलोड करने हैं 10वीं और 12वीं के मार्क्स, बोर्ड सचिव ने लिखा पत्र

राजस्थान माध्यिक शिक्षा बोर्ड राज्य सरकार द्वारा तय फॉर्मूले के आधार पर 10वीं और 12वीं का रिजल्ट तैयार करने की कवायद जुटा हुआ है. इसी क्रम में राजस्थान बोर्ड ने सभी शिक्षा अधिकारियों को पत्र लिखा है. बोर्ड की ओर से लिखे गए पत्र में 12वीं के मार्क्स सात जुलाई तक और 10वीं के मार्क्स 12 जुलाई तक ऑनलाइन पोर्टल पर अपलोड करने हैं. यह जानकारी राजस्थान बोर्ड के सचिव अरविंद सेंगवा ने दी है. राजस्थान में 10वीं और 12वीं का रिजल्ट तैयार करने का फॉर्मूला पहले ही तय किया जा चुका है. इस फॉर्मूले के तहत पिछली दो कक्षाओं के मार्क्स और वर्तमान कक्षा में प्रदर्शन के आधार पर रिजल्ट तैयार किया जाएगा.

फॉर्मूले के अनुसार, 10वीं और 11वीं के मार्क्स और 12वीं के इंटर्नल मार्क्स के आधार पर 12वीं का फाइनल रिजल्ट तैयार होगा. इसमें 10वीं कक्षा के मार्क्स को 10 प्रतिशत, 11वीं के मार्क्स को 20 प्रतिशत और 12वीं के इंटर्नल को 20 प्रतिशत वेटेज दिया जाएगा. साथ ही सत्रांक का वेटेज पहले की तरह 20 प्रतिशत ही रहेगा. इस तरह 12वीं में स्कूल के पास छात्र को 40 नंबर देने की जिम्मेदारी होगी. इसी तरह 10वीं का रिजल्ट तैयार करने के लिए आठवीं और नौवीं का फाइनल रिजल्ट व 10वीं के इंटर्नल मार्क्स आधार होंगे. आठवीं के रिजल्ट को 45 प्रतिशत, नौवीं के रिजल्ट को 25 प्रतिशत और 10वीं के प्रदर्शन को 10 फीसदी वेटेज दिया जाएगा.

एक जुलाई तक अपलोड करने हैं सत्रांक
बता दें कि राजस्थान बोर्ड के 10वीं और 12वीं के छात्रों का रिजल्ट तैयार करने के क्रम में स्कूलों द्वारा ऑनलाइन सत्रांक और इंटर्नल मार्क्स जमा किया जा चुका है. इसकी अंतिम तिथि 28 जून थी. यह प्रक्रिया 21 जून से शुरू हुई थी. बोर्ड ने नोटिस जारी करके कहा था कि सत्रांक और इंटर्नल मार्क्स अपलोड करने में देरी करने पर रिजल्ट में भी देरी होगी. इसकी जिम्मेदारी स्कूल के प्रिंसिपल की होगी. हालांकि कई स्कूलों ने अभी भी अंक अपलोड नहीं किए हैं. इसके लिए बोर्ड ने एक जुलाई तक का समय दिया है.

What's your reaction?