बीकानेर

कचरा बीनते और चाय के ठेले पर काम करते बालश्रमिकों पर की कार्यवाही

बीकानेर। बालश्रम रेस्क्यू टीम द्वारा गुरुवार को कचरा बीनते और चाय की दुकान पर काम करने वाले 9 बच्चों को बालश्रम से मुक्त करवाया गया तथा बाल कल्याण समिति के निर्देशानुसार इन बच्चों को किशोर गृह में अस्थाई आश्रय दिलवाया गया। जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल के निर्देशानुसार जिले में बाल श्रम निवारण के लिए गठित दोनों टीमों द्वारा गुरुवार को यह कार्यवाही की गई। इस दौरान किशोर न्याय बोर्ड के सदस्य अरविन्द सिंह सेंगर, जिला बाल कल्याण समिति के सदस्य हर्षवर्द्धन सिंह भाटी तथा किशोर न्याय बोर्ड सदस्य किरण गौड के नेतृत्व मे जोडबीड स्थित नगर निगम के डम्पिंग यार्ड, शिवबाड़ी, के.ई.एम रोड, रेलवे लाईन के पास, कोयला गली क्षेत्र में औचक निरीक्षण किया गया।

रेस्क्यू के दौरान इन क्षेत्रों में 8 बच्चे कचरा बीनते तथा 1 को चाय के ठेले पर काम करते पाया गया। टीमों द्वारा इन्हें मुक्त करवाकर बाल कल्याण समिति अध्यक्ष डॉ. किरण सिंह, सदस्य जुगलकिशोर व्यास व आईदान के समक्ष पेश किया गया। समिति के निर्देशानुसार इन्हें किशोर गृह में अस्थाई प्रवेश दिया गया। रेक्स्यू टीम में मानव तस्करी विरोध प्रकोष्ठ दिलीप सिंह, श्रम विभाग से अमर सिंह व चाइल्ड लाईन के जगदीश मेघवाल शामिल रहे।

What's your reaction?