बीकानेरराजस्थान

शहर के अमन चैन और धार्मिक सद्भाव भंग करने वालो पर हो कार्यवाही ,सौंपा ज्ञापन

बीकानेर। शहर के अमन चैन को भंग करने वाले व्यक्तियों पर कठोर कार्यवाही की मांग को लेकर भाजपा नेताओं ने मंगलवार को जिला कलेक्टर नमित मेहता को ज्ञापन सौंपा और दोषियों को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग की।

गजनेर रोड पर भुट्टो के चौराहा से लेकर  पुलिस लाइन तक चेक पोस्ट होने के बावजूद भी विवादित मजार पर निर्माण कार्य शुरू हुआ जो विवाद में बदल गया। भाजपा द्वारा इसके लिए  जिम्मेदार व्यक्तियों पर कार्यवाही की मांग की गई है।

भाजपा शहर जिलाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह नेजिला कलेक्टर को मजार को पूर्व स्थिति में लाए जाने की मांग की। उन्होंने बताया कि उक्त विवादित भूमि को कुर्क किये जाने के लिए अतिरिक्त जिला कलेक्टर एवं सिटी मजिस्ट्रेट के कार्यलय में विवाद लंबित है। पूर्व के विवाद के चलते यथा स्थिति है और कई वर्षो से यथास्थिति कायम है, लेकिन कुछ शरारती  तत्वो ने कोरोना महामारी का समय चुना और टेंट के पर्दे की आड़ में निर्माण कार्य आरंभ कर विवाद को जन्म दिया। लॉकडाउन काल में  दुर्भावना के चलते उक्त कार्य बेहद योजनाबद्ध तरीके से किया गया है।

प्रदेश कार्यसमिति सदस्य और पूर्व जिलाध्यक्ष ने डॉ सत्यप्रकाश आचार्य ने जिला कलेक्टर को अवगत कराया कि प्रशासन को आगे बढ़ कर लंबे समय से विवादित रहे इस स्थल का उचित समाधान निकालना  चाहिए । उन्होंने कहा कि कोविड महामारी में कुछ चुनिंदा तत्वों द्वारा शहर के साम्प्रदायिक सौहार्द को बिगड़ने की कोशिश की जा रही है जिसे किसी भी सूरत में उचित नहीं ठहराया जा सकता।

जिला उपाध्यक्ष अशोक प्रजापत और डॉ भगवान सिंह मेड़तिया नेभी जिला कलेक्टर से इस मुद्दे का विधिसम्मत उचित समाधान करने की मांग की

जिला कलेक्टर को ज्ञापन देने वाले प्रतिनिधिमंडल में जिला मंत्री अरुण जैन, मण्डल अध्यक्ष अजय खत्री, विजय शर्मा आदि भी उपस्थित रहे ।

जिला कलेक्टर नमित मेहता ने भाजपा नेताओं को दोनों पक्षो को सुनकर समस्या के शीघ्र समाधान करने का भरोसा दिलाया ।

What's your reaction?