महाराष्ट्र के बाद पंजाब में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले, 5 राज्यों ने बढ़ाई टेंशन

महाराष्ट्र के बाद पंजाब में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले, 5 राज्यों ने बढ़ाई टेंशन  महाराष्ट्र के बाद पंजाब में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले, 5 राज्यों ने बढ़ाई टेंशन bikasnj

महाराष्ट्र के बाद पंजाब में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले, 5 राज्यों ने बढ़ाई टेंशन mr bika fb post

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) ने शनिवार को कहा कि केरल, महाराष्ट्र, पंजाब, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में कोविड-19 के नए मामलों (Covid-19 New Cases) में बढ़ोतरी हुई है. मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि पिछले सात दिनों में छत्तीसगढ़ में वायरस संक्रमण के रोजाना के मामलों में वृद्धि हुई है. पिछले 24 घंटे में राज्य से 259 नए मामले आए हैं. केरल में रोजाना संक्रमण के मामलों में वृद्धि होती जा रही है और पिछले एक सप्ताह में महाराष्ट्र में भी तेज बढ़ोतरी हुई है. इससे शनिवार को देश में संक्रमण के नए मामलों में इजाफा हुआ है.

महाराष्ट्र के बाद पंजाब में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले, 5 राज्यों ने बढ़ाई टेंशन prachina in article 1

मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘पिछले 24 घंटे में महाराष्ट्र में कोविड-19 के 6,112 नए मामले आए.’’ महाराष्ट्र की तरह पंजाब में भी रोजाना के मामले बढ़ रहे हैं जहां पिछले 24 घंटे में 383 नए मामले आए. मंत्रालय ने कहा कि 13 फरवरी के बाद से मध्यप्रदेश में भी संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी हुई है. पिछले 24 घंटे में राज्य से 297 नए मामले आए. मंत्रालय ने कहा कि कोराना वायरस संक्रमण की कड़ी तोड़ने और इसके प्रसार पर रोक लगाने के लिए उचित व्यवहार अपनाए जाने की जरूरत है.

केवल दो राज्यों महाराष्ट्र और केरल में कोविड-19 के 75.87 प्रतिशत उपचाराधीन मामले हैं.

24 घंटों में 18 राज्यों में एक भी मौत नहीं
मंत्रालय ने कहा कि पिछले 24 घंटे में 18 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश में संक्रमण से किसी की मौत नहीं हुई. इनमें तेलंगाना, हरियाणा, जम्मू कश्मीर, झारखंड, हिमाचल प्रदेश, त्रिपुरा, असम, चंडीगढ़, लक्षद्वीप, मणिपुर, मेघालय, लद्दाख, मिजोरम, सिक्किम, नगालैंड, अरुणाचल प्रदेश, अंडमान निकोबार द्वीपसमूह, दादरा और नगर हवेली तथा दमन और दीव हैं.

मंत्रालय ने कहा कि सुबह आठ बजे तक अनंतिम रिपोर्ट के मुताबिक 2,22,313 सत्र में कोविड-19 के 1,07,15,204 टीके दिए गए. इनमें 63,28,479 स्वास्थ्यकर्मियों को पहली खुराक दी गयी जबकि 8,47,161 स्वास्थ्यकर्मियों को दूसरी खुराक दी गयी. इसके अलावा 35,39,564 अग्रिम मोर्चे के कर्मी भी हैं, जिन्हें पहली खुराक दी गयी. पहली खुराक दिए जाने के 28 दिन होने पर 13 फरवरी से कोविड-19 टीकाकरण के तहत दूसरी खुराक देने की शुरुआत की गयी. अग्रिम मोर्चे के कर्मियों के लिए दो फरवरी से टीकाकरण शुरू हुआ.

COMMENTS