fbpx

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर निगाहें महाराष्ट्र

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर निगाहें महाराष्ट्र  सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर निगाहें महाराष्ट्र ajit pawar may hold press conference today uddhav will meet congress 1

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर निगाहें महाराष्ट्र mr bika fb post

मुंबई. महाराष्ट्र में तीन दिनों से जारी राजनीतिक उठापठक के बीच आज का दिन महत्वपूर्ण है। विपक्षी दलों (शिवसेना, राकांपा-कांग्रेस) की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट आज फैसला सुना सकता है। उपमुख्यमंत्री अजित पवार के भी आज मीडिया के सामने आने की अटकले हैं। वह मीडिया के सामने आकर राकांपा नेताओं और कार्यकर्ताओं के सामने अपना पक्ष रख सकते हैं। उधर, रविवार को राकांपा विधायकों से मुलाकात के बाद सोमवार को उद्धव ठाकरे कांग्रेस विधायकों से मुलाकात कर सकते हैं।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर निगाहें महाराष्ट्र prachina in article 1

 

फैसले का इंतजार, फिर बैठकों की तैयारी
सूत्रों ने बताया कि तीनों प्रमुख दलों को सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार है। फैसले के बाद की स्थितियों पर तैयारी के लिए एक बार फिर शिवसेना, कांग्रेस-राकांपा नेता मीटिंग कर सकते हैं। माना जा रहा है कि राज्य में फ्लोर टेस्ट जल्द हो सकता है। इसलिए तीनों विपक्षी दलों ने अपने विधायकों को मुंबई से बाहर नहीं भेजा है।

 

ट्विटर पर चाचा-भतीजे हुए आमने-सामने

रविवार को उपमुख्यमंत्री बनने के करीब 30 घंटे बाद अजित पवार ट्विटर पर सामने आए। एक के बाद एक ट्वीट कर उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी समेत कई बड़े भाजपा नेताओं का शुक्रिया किया। अजित ने ट्विटर पर अपना स्टेटस चेंज करते हुए उपमुख्यमंत्री लिखा। अजीत ने एक ट्वीट में कहा- मैं राकांपा में ही रहूंगा और शरद पवार ही हमारे नेता हैं। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा-राकांपा गठबंधन महाराष्ट्र में स्थिर सरकार देगा।

हालांकि, इस ट्वीट के ठीक बाद राकांपा प्रमुख शरद पवार का एक ट्वीट आया। इसमें उन्होंने लिखा-भाजपा के साथ गठबंधन का कोई सवाल ही नहीं है। राकांपा ने एकमत से सरकार गठन के लिए शिवसेना और कांग्रेस के साथ गठबंधन का फैसला लिया है। उन्होंने आगे कहा कि अजित पवार का बयान गलत है और लोगों को भ्रमित करने वाला है। वह लोगों के बीच गलत धारणा बनाना चाहते हैं।

जयंत की अपील-वापस लौट आएं
पवार के इस ट्वीट के तुरंत बाद राकांपा विधायक दल के नए नेता चुने गए जयंत पाटील ने भी ट्वीट कर अजित पवार से घर वापसी की अपील की। उन्होंने मराठी में ट्वीट किया, जिसका मतलब था- शरद पवार के फैसले का सम्मान करते हुए वापस आ जाएं।

Zomato  सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर निगाहें महाराष्ट्र o2 badge r

COMMENTS

You cannot copy content of this page