देश

Astrazeneca Corona Vaccine : कंपनी अब वापिस ले रही कोरोना वैक्‍सीन,नये खुलासे के बाद उठाया बड़ा कदम

Astrazeneca Corona Vaccine

एस्ट्राजेनेका के कोरोना वैक्सीन के साइड इफेक्ट को लेकर हलचल में एक नया मोड़ आया है, जिसके बीच कंपनी ने अपनी वैक्सीन को वापस लेने का फैसला किया है। फिलहाल, कंपनी का दावा है कि साइड इफेक्ट और वैक्सीन को वापस लेने की प्रक्रिया का कोई संबंध नहीं है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, एस्ट्राजेनेका ने वैक्सीन को वापस लेने के बारे में जानकारी दी है।

एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन के साइड इफेक्ट को लेकर ब्रिटेन के एक अदालत में उनकी मान्यता हुई, जहां 50 से अधिक लोगों ने उनकी वैक्सीन के साइड इफेक्ट का विवाद किया था। एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन “वेक्सजेव्रिया” को लेकर सवाल उठे थे। कंपनी का दावा है कि इस वैक्सीन के साइड इफेक्ट सामान्य हैं। अब, “द टेलीग्राफ” की रिपोर्ट के अनुसार, एस्ट्राजेनेका ने वैक्सीन को वापस लेने की प्रक्रिया शुरू की है।

Astrazeneca Corona Vaccine

एस्‍ट्राजेनेका का पक्ष
वेक्‍सजेव्रिया वैक्‍सीन को दुनियाभर से वापस लेने की प्रक्रिया के बीच एस्‍ट्राजेनेका का बड़ा बयान सामने आया है. कंपनी ने बताया कि आदलत में साइड इफेक्‍ट की बात और वैक्‍सीन की वापसी का समय महज एक इत्‍तफाक है.

इन दोनों का कोई संबंध नहीं है. दवा निर्माता कंपनी का कहना है कि COVID-19 वैक्‍सीन वेक्‍सजेव्रिया को व्‍यावसायिक वजहों के चलते बाजार से वापस लिया जा रहा है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी ने कहा कि अब वैक्सीन का निर्माण या आपूर्ति नहीं की जा रही है.

वैक्‍सीन को वापस लने के निर्णय को ‘विशुद्ध रूप से संयोग’ बताते हुए फार्मा कंपनी ने जोर देकर कहा है कि वैक्सीन की वापसी उसके इस स्वीकारोक्ति से जुड़ी नहीं है कि यह TTS की वजह बन सकती है.

Astrazeneca Corona Vaccine

वैक्सीन को वापस लेने के लिए एस्ट्राजेनेका ने 5 मार्च को आवेदन किया था, जो 7 मई से प्रभावी हो गया है। “वेक्सजेव्रिया” एक दुर्लभ दुष्प्रभाव के कारण वैश्विक जांच के दायरे में है, जिससे रक्त के थक्के और कम रक्त प्लेटलेट बनने की बात सामने आई है।

Astrazeneca Corona Vaccine
Astrazeneca Corona Vaccine

फरवरी में हाईकोर्ट में दायर किए गए अदालती दस्तावेजों में एस्ट्राजेनेका ने स्वीकार किया कि टीका बहुत ही दुर्लभ मामलों में टीटीएस का कारण बन सकता है। ब्रिटेन में टीटीएस से कम से कम 81 मौतों के साथ-साथ कई गंभीर प्रभाव पड़े हैं। एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन को लेकर 50 लोगों की ओर से कोर्ट में याचिका दायर की गई है।

Astrazeneca Corona Vaccine
Astrazeneca Corona Vaccine

AstraZeneca Corona Vaccine

There has been a new twist in the stir over the side effects of AstraZeneca’s Corona vaccine, amid which the company has decided to withdraw its vaccine. At present, the company claims that there is no connection between side effects and the process of withdrawing the vaccine. According to media reports, AstraZeneca has given information about withdrawal of the vaccine.

The side effects of AstraZeneca’s Corona vaccine were validated in a UK court, where more than 50 people had disputed the side effects of their vaccine. Questions were raised about AstraZeneca’s vaccine “Vaxzevria”. The company claims that the side effects of this vaccine are normal. Now, according to “The Telegraph” report, AstraZeneca has initiated the process of withdrawing the vaccine.

AstraZeneca Corona Vaccine

AstraZeneca’s side
AstraZeneca’s big statement has come amid the process of withdrawing Vaxzevria vaccine from across the world. The company said that the talk in the court about side effects and the time of withdrawal of the vaccine is just a coincidence.

There is no relation between these two. The drug manufacturing company says that the COVID-19 vaccine Vaxzevria is being withdrawn from the market due to commercial reasons. According to media reports, the company said that the vaccine is no longer being manufactured or supplied.

Astrazeneca Corona Vaccine
Astrazeneca Corona Vaccine

Terming the decision to withdraw the vaccine as ‘purely coincidental’, the pharma company has stressed that the withdrawal of the vaccine is not linked to its admission that it can cause TTS.

AstraZeneca Corona Vaccine

AstraZeneca had applied on March 5 to withdraw the vaccine, which became effective from May 7. “Vaxzevria” is under global scrutiny because of a rare side effect that has led to blood clots and low blood platelet formation.

AstraZeneca vaccine.

What's your reaction?