रमक झमक पर बड़ पापड़ का वितरण हुआ , पंडित भर रहे लग्न

2 Min Read

बीकानेर। पुष्करणा सावा में शादी करने वालों के लिये रमक झमक मंच पर ‘सेवा व सुविधा के लिये खुला मंच बनाया गया है जहाँ रोजाना 4 बजे से रात 10 बजे तक सेवाएँ जारी रहेगी। रमक झमक के मंच पर पंडितों ने वधु परिवार को विवाह लग्न भरकर देने व वर पक्ष को टेवा बनाकर दिया। रमक झमक की ओर से आज वधु परिवार को मेहंदी की एक दर्जन कौन,गुड़ भेली,स्टील कलश,नारियल व बड़ पापड़ का निः शुल्क वितरण शुरू किया गया। प्रहलाद ओझा’भैरु’ ने बताया कि वधु पक्ष ये सामग्री गुरुवार को भी प्राप्त कर सकेंगे। मंच की प्रीति ओझा ने बताया कि बड़ो के सम्मान का प्रतीक ये बड़ पापड़ महिलाओं ने शगुन व मंगलगीत गाकर बनाए है इन पर जयश्रीकृष्ण,पगेलागुसा पायल व बिछुआ जैसे आभूषणों से बनाए गए है। यह परम्परा हमें शादी में बड़ो का महत्व बताती है,इसको सभी कायम रखे।
राधे ओझा ने बताया कि 5 से 8 मंच पर राजस्थानी साफा बांधने की सेवाएं भी निःशुल्क उपलब्ध करवाई जा रही है। आज पण्डित राजेन्द्र किराड़ू,आशीष भादाणी, डॉ गोपाल भादाणी, मुकेश ओझा,मुरलीनारायण व रिंकु ओझा आदि ने सेवाए दी । मंच की गुरुवार को बैठक होगी जिसमें दूल्हों को क्या और कैसे सम्मान दिया जाए उसपर निर्णय किया जाएगा।

Share This Article