बीकानेर

राजस्थान में पेट्रोल-डीजल के दामों को लेकर बड़ी खबर ,अब इतना महंगा होगा पेट्रोल

रूस यूक्रेन संकट से अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमत 117.18 डॉलर प्रति बैरल पहुंच जाने के बावजूद घरेलू स्तर पर शुक्रवार को लगातार 120वें दिन भी पेट्रोल और डीजल के दाम स्थिर रहे। कच्चे तेल की कीमतों में उछाल रूस यूक्रेन संकट के बाद ही शुरू हो गया था। जयपुर में पेट्रोल का दाम 107.06 रुपए और डीजल का दाम 90.70 रुपए प्रति लीटर रहा। केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में क्रमशरू पांच और 10 रुपए घटाने की घोषणा के बाद नवंबर 2021 को ईंधन की कीमतों में तेजी से कमी आई थी। राजस्थान सरकार ने 17 नवंबर को पेट्रोल.डीजल पर लगने वाले वैट में कटौती की थीए जिसके बाद पेट्रोल 4.04 रुपए और डीजल 5.01 रुपए प्रति लीटर सस्ता हो गया था। राज्य सरकार ने पेट्रोल पर वैट 36 के बजाय 31.04 प्रतिशत और डीजल पर 26 के 19.30 प्रतिशत कर दिया था। केन्द्र सरकार द्वारा पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में क्रमश पांच रुपए तथा 10 रुपए प्रति लीटर की कमी करने से देश में इसकी कीमतों में कमी आई थी। इसके बाद उत्तर प्रदेशए कर्नाटक सहित देश के 22 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने इन दोनों उत्पादों पर वैट में कमी की थी। घरेलू बाजार में 43 वें दिन भी पेट्रोल और डीजल के दाम में कोई बदलाव नहीं हुआ।

देश के महानगरों में पेट्रोल-डीजल का हाल दिल्ली में पेट्रोल के दाम 103.97 रुपए व डीजल के दाम 86.67 रुपए प्रति लीटरए मुंबई में पेट्रोल 109.98 रुपए व डीजल के दाम 94.14 रुपए प्रति लीटरए कोलकाता में पेट्रोल 104.67 रुपए और डीजल 89.79 रुपए प्रति लीटरए चेन्नई में पेट्रोल 101.40 रुपए और डीजल के दाम 91.43 रुपए प्रति लीटर पहुंच गए।

रोज होगी थोड़ी-थोड़ी बढ़ोतरी
भारत में पेट्रोल-डीजल की कीमतों और चुनावी मोहलत का ट्रेंड बताता है कि मोदी सरकार विधानसभा चुनावों से ठीक पहले पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी से बचती रही है। हालांकि चुनाव खत्म होते ही वह कीमतों को बढ़ाने में देर नहीं करती। अभी देश में उत्तर प्रदेश समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हो रहे है। इसके नतीजे 10 मार्च को आएंगे। इसी वजह से अगले हफ्ते से दाम बढ़ने के अनुमान लगाए जा रहे हैं। विश्लेषण यह भी कहता है कि पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी एक बार में न होकर, रोज थोड़ी-थोड़ी होगी।20-25

20-25 रुपए तक बढ़ सकते हैं पेट्रोल-डीजल के दाम
IIFL सिक्योरिटीज के वाइस प्रेसिडेंट अनुज गुप्ता ने कहा, अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत 115 डॉलर प्रति बैरल को पार कर गई है। वहीं तेल कंपनियों ने 3 नवंबर से पेट्रोल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया है, लेकिन तब से लेकर अब तक कच्चा तेल 40 डॉलर प्रति बैरल से ज्यादा महंगा हो चुका है।

 

What's your reaction?