fbpx

सात हजार लोगों को आइसोलेशन में रखने के बंदोबस्त

सात हजार लोगों को आइसोलेशन में रखने के बंदोबस्त  सात हजार लोगों को आइसोलेशन में रखने के बंदोबस्त pbm hospital 1

बीकानेर। बीकानेर अभी तक कोरोना मुक्त है लेकिन वैश्विक प्रकोप को देखते हुए इसके कभी भी फैलने की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता। ऐसे में लॉकडाउन, धारा 144 जैसे बंदोबस्त बचाव के लिए हैं। इसके बावजूद अगर रोगी रिपोर्ट हुए तो उनके उपचार के इंतजाम है इस पर मुख्यमंत्री के साथ प्रदेशभर के कलेक्टर्स से चर्चा हुई।

इसमें बीकानेर के लिए जो जानकारी निकलकर सामने आई वो यह है कि यहां सात हजार लोगों को आइसोलेशन में रखने का इंतजाम करना है। इसके लिए जगह तय हो गई है। सोमवार से बिस्तर सहित सारे बंदोबस्त जुटाने का काम शुरू हो जाएगा। इन जगहों में शहर से कुछ दूरी पर बने रिसोर्ट, होटल, कॉलेज, किसान भवन, इंस्टीट्यूट आदि शामिल हैं।

पीबीएम हॉस्पिटल में 30 बैड के आईसीयू सहित 400 मरीजों के उपचार का बंदोबस्त किया है। इसके लिए उस सुपर स्पेशियलिटी सेंटर में भी सेंट्रल ऑक्सीजन पाइप लाइन का बंदोबस्त करने का निर्देश भी दिया गया है जिसके उद्घाटन का दो साल से इंतजार हो रहा है।

सीएम के साथ वीसी के दौरान संभागीय आयुक्त सीएस श्रीमाली, आईजी जोस मोहन, एसपी प्रदीप मोहन शर्मा, मेडिकल कॉलेज प्राचार्य डा.एसएस राठौड़, सुपरिंटेंडेंट डा.पीके बैरवाल, सीएमएचओ डा. बीएल मीणा, एडिशनल कमिश्नर इंदीवर दुबे, एडीएम सिटी सुनीता चौधरी, जनसंपर्क विभाग के सहायक निदेशक विकास हर्ष, पीबीएम के कोरोना नोडल प्रभारी डा. सुरेन्द्र वर्मा, डा. बाबूलाल मीणा आदि मौजूद रहे।

मरीजों को आइसोलेशन में रखने के लिए दे सकते हैं अपना घर या भवन
मरीजों को आइसोलेशन में रखने के लिए सामाजिक संस्थाओं, भवन संचालकों सहित आम लोगों को अपना खाली घर या भवन उपलब्ध करवाने का आह्वान प्रशासन ने किया है। भवन देने के इच्छुक लोग अतिरिक्त कलेक्टर प्रशासन एएच गौरी से मिलकर अपना प्रस्ताव दे सकते हैं।

कार्यालय समय में यह प्रस्ताव देने के बाद प्रशासन की टीम भवन को देख, कब्जा लेकर तुरंत सफाई सहित अन्य इंतजाम करवाएगी। सुपर स्पेशियलिटी सेंटर में सेंट्रली ऑक्सीजन लाइन लगाने के लिए दिल्ली की कंपनी से बात हो गई है। वे जल्द आकर इसे चालू कर देंगे। माहेश्वरी धर्मशाला में क्वारिन्टाइन कैंप चल रहा है। वीरांदेवी धर्मशाला को खाली करवाकर कब्जे में ले लिया है। कुल मिलाकर लगभग 400 बैड पर

बिजली बिल ऑनलाइन जमा कराएं, उपलब्ध रहेगी आपात सेवाएं

कोरोना वायरस को देखते हुए बीकेईएसएल ने उपभोक्ताओं के लिए आपात सेवाएं उपलब्ध करवाने का निर्णय लिया है। साथ ही उपभोक्ताओं से आग्रह किया है कि बिल कैश काउंटर की जगह नेट बैकिंग, पेटीएम, यूपीआई व मोबाइल एप से जमा करवाए। उपभोक्ताओं की सुविधा को ध्यान में रखते हुए जिन बिजली के बिलों की भुगतान की तिथि 21 मार्च के बाद है, उनकी देय भुगतान तिथि बढ़ा दी जाएगी।

कंपनी के सीओओ शांतनु भट्टाचार्य ने बताया कि उपभोक्ताओं की शिकायतों का समाधान करने के लिए फील्ड में गाड़ियों की व्यवस्था की गई है। कंपनी ने राज्य सरकार के निर्देशानुसार जनहित व कर्मचारियों की सुरक्षा को देखते हुए मेंटीनेंस कार्य में कम से कम कर्मचारियों को फील्ड में रखने का फैसला लिया है। कंपनी ऐसी परिस्थितियों में बिजली आपूर्ति संबंधी शिकायतों का जल्दी निस्तारण करने का प्रयास करेगी।

सार्वजनिक व पारिवारिक समारोह पर रोक

कोरोना वायरस की रोकथाम करने के लिए नगर निगम ने सार्वजनिक भवनों के उपयोग पर रोक लगा दी है। आयुक्त डा. खुशाल यादव ने कहा है कि जिला मजिस्ट्रेट ने धारा 144 लगा दी है, जिसकी पालना में 20 या इससे अधिक व्यक्ति एक स्थान पर एकत्रित नहीं होंगे। सभी भवन, मैरिज गार्डन एवं विभिन्न स्थानों पर किसी भी प्रकार के सामाजिक, धार्मिक या पारिवारिक आयोजन नहीं होंगे। विदित रहे शनिवार की रात को जैल वैल त्यागी वाटिका के पास पुलिस ने एक शादी समारोह रुकवाया था।

COMMENTS

WORDPRESS: 0