Bikaner News : राजीव गांधी ग्रामीण और शहरी ओलंपिक खेल प्रारंभ

3 Min Read

जिला स्तरीय स्पर्धाएं शुरू, उद्घाटन मैच में रस्सकस्सी में पांचू की छात्राओं ने बज्जू खालसा की महिलाओं को हराया

Bikaner News संभागीय आयुक्त ने किया ध्वजारोहण, जिला कलेक्टर सहित अंतराष्ट्रीय खिलाड़ी रहे मौजूद

बीकानेर । राजीव गांधी ग्रामीण और शहरी ओलंपिक खेलों Rajiv Gandhi Urban Olympic Khel – Rajasthan की जिला स्तरीय प्रतियोगिताएं शुक्रवार को प्रारंभ हुई। मुख्य समारोह डॉ. करणी सिंह स्टेडियम में हुआ। जहां संभागीय आयुक्त श्रीमती उर्मिला राजोरिया ने ध्वजारोहण किया और जिला स्तरीय खेलों के उद्घाटन की घोषणा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि यह अवसर खेलकूद और लोक कलाओं के प्रस्तुतीकरण का संगम बन गया है। यह अपने आप में ऐतिहासिक है। उन्होंने कहा कि जिला स्तरीय प्रतियोगिताओं में भागीदारी जिले के खिलाड़ी उत्कृष्ट प्रदर्शन करें और राज्य स्तर पर बीकानेर का प्रतिनिधित्व करते हुए खेलों में अपना परचम फहराएं। उन्होंने कहा कि उच्च स्तर पर ग्राम पंचायत से लेकर जिला स्तर तक इन खेलों की प्रभावी मॉनिटरिंग हो रही है। इन खेलों के माध्यम से गांव-गांव और शहरों के खिलाड़ियों को आगे बढ़ने के भरपूर अवसर मिल रहे हैं। यह खिलाड़ी भविष्य में अपने परिवार, शहर और जिले का नाम देश और विदेश में रोशन करेंगे।
Bikaner News
अर्जुन अवॉर्डी और अंतर्राष्ट्रीय फुटबॉलर मगन सिंह राजवी ने खेल भावना से खेलने की शपथ दिलाई। कार्यक्रम में जिला प्रमुख मोडाराम मेघवाल, जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद कलाल, पैरा ओलंपिक श्याम सुंदर स्वामी, अंतरराष्ट्रीय वेटलिफ्टर केशव बिस्सा, गजेंद्र सिंह सांखला इकबाल मालवान, नगर निगम आयुक्त केसर लाल मीणा, उपायुक्त सुभाष चौधरी, जिला खेल अधिकारी श्रवण भांभू, एडीपीसी गजानन सेवक, सीओ स्काउट जसवंत राजपुरोहित, सीओ गाइड मीनाक्षी भाटी सहित अनेक लोग मौजूद रहे।
इससे पहले जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी नित्या के. ने प्रतियोगिता का परिचय दिया। उन्होंने बताया कि जिला स्तर पर 9 खेलों की स्पर्धाओं में 2 हजार 661 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। इसके लिए 369 टीमों का गठन किया गया है। इन मुकाबलों में शहरी क्षेत्र की 282 टीमों में 1 हजार 643 तथा ग्रामीण क्षेत्रों की 187 टीमों में 1 हजार 18 खिलाड़ियों की भागीदारी रहेगी।
 संभागीय आयुक्त द्वारा ध्वजारोहण के पश्चात विभिन्न ब्लॉक के दलों ने मार्च पास्ट निकाला। इस दौरान माने खां और नत्थू खां ने केसरिया बालम लोकगीत की प्रस्तुति दी तो वर्षा सैनी ने भवई नृत्य प्रस्तुत किया। मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी सुरेंद्र सिंह भाटी ने आगंतुकों को का आभार जताया। कार्यक्रम का संचालन ज्योति प्रकाश रंगा और संजय पुरोहित ने किया।
Share This Article