बीकानेर में बर्ड फ्लू संकट: पांचू के बाद लूणकरनसर में भी कौवों की मौत , जिला अलर्ट मोड पर

बीकानेर में बर्ड फ्लू संकट: पांचू के बाद लूणकरनसर में भी कौवों की मौत , जिला अलर्ट मोड पर  बीकानेर में बर्ड फ्लू संकट: पांचू के बाद लूणकरनसर में भी कौवों की मौत , जिला अलर्ट मोड पर hsahgas

बीकानेर में बर्ड फ्लू संकट: पांचू के बाद लूणकरनसर में भी कौवों की मौत , जिला अलर्ट मोड पर mr bika fb post

बीकानेर के पांचू में शनिवार को चार कौवों की मौत के बाद रविवार को लूणकरनसर में भी मृत अवस्था में कौवे मिले हैं। इसके साथ ही वन विभाग ने पूरे जिले में अलर्ट कर दिया है। पांचू व लूणकरनसर में मिले कौवों के शव जांच के लिए अब भोपाल स्थित सेंटर पर भेजे जा रहे हैं।

बीकानेर में बर्ड फ्लू संकट: पांचू के बाद लूणकरनसर में भी कौवों की मौत , जिला अलर्ट मोड पर prachina in article 1

उप वन संरक्षक (वन्यजीव) वी.एस. जोरा ने बताया कि बीकानेर में दो जगह मृत कौवें मिलने के बाद क्षेत्र के सभी अधिकारियों को अलर्ट कर दिया गया है। रविवार को सभी ने वाटरलैंड चैक किए, जहां आये दिन पानी एकत्र रहता है। ऐसी जगहों पर कौवें व अन्य पक्षी आराम करते हैं। ऐसे में सभी जगह मृत कौवों की छानबीन की जा रही है। बीकानेर में अब तक पांचू व लूणकरनसर में ही कौवों की मौत हुई है।

मृत पक्षी को न छुएं

जोरा ने बताया कि अगर कहीं भी कौवा या अन्य कोई पक्षी मृत अवस्था में मिलता है तो उसे छूना नहीं चाहिये। अगर बर्ड फ्लू के कारण उसकी मौत हुई है तो पांच से सात घंटे तक उसका वायरस इंसान में ट्रांसमिट हो सकता है। यह इंसान के जीवन के लिए खतरनाक हो सकता है। उन्होंने कहा कि अभी कौवों की मौत हो रही है, अन्य पक्षियों की नहीं हो रही। हो सकता है अन्य पक्षियों में मौत का सिलसिला विलम्ब से हो। ऐसे में इंसान को ध्यान रखना चाहिए कि मृत पक्षी को फिलहाल न छुएं।

बीकानेर में नियंत्रण कक्ष स्थापित

 हाल ही में कोटा, झालावाड,बारा, जोधपुर, नागौर, पाली आदि जिलों में पक्षियों (कोआ) की अप्राकृतिक मृत्यु के बाद बर्ड फ्लू की आंशका से बीकानेर में सतर्कता बरती जा रही है।
उप वन संरक्षक वीरेन्द्र सिंह जोरा ने बताया कि हाल ही में पांचू पंचायत समिति के गांव पांचू मंे चार कौवो की अप्राकृतिक मौत पर विभाग ने शीघ्र कार्यवाही शुरू की है व पशु चिकित्सकों की सहायता से विसरा/सैम्पल एकत्रित कर जांच हेतु भेजे जाने की कार्यवाही की जा रही है।
उप वन संरक्षक वन्यजीव ने बताया कि बर्ड फ्लू की आंशका को देखते हुए जिला स्तर पर एक कन्ट्रोल रूम की स्थपना की गई है, जिसका दूरभाष नम्बर 0151-2527901 एवं मोबाईल नम्बर 8955045161 है, जिस पर सूचना दी जा सकती है। उन्होंने बताया कि जिले में पूरी सतर्कता बरते हुए अधिनस्थ विभागीय अधिकारियों और कार्मिकों को सतर्क किया गया हैं। साथ ही आमजन, पर्यावरण प्रेमी एवं पक्षियों से जुड़े गैर सरकारी संस्थाओं व व्यक्तियों से अपील की गई है कि कहीं भी इस तरह पक्षियों की अप्राकृतिक मौत पाये जाने पर वे तत्काल प्रभाव से समीपस्थ अधिकारियों को या कन्ट्रोल रूम को सूचित करें।

COMMENTS