बीकानेर

सत्ता सुख में कंठ तक डूबी भाजपा क्या जाने सत्याग्रह की ताकत — कमल कल्ला

बीकानेर। दिल्ली में केन्द्र सरकार की सेवादल के कार्यकर्ताओं व कांग्रेस के नेताओ पर बर्बरता पूर्वक बल प्रयोग कर अहिंसा पूर्वक चल रहे सत्याग्रह को कुचलने के प्रयास का विरोध कर रहे सेवादल के साथियों में सामिल बीकानेर शहर सेवादल अध्यक्ष अनिल व्यास व सेवादल के प्रदेश उपाध्यक्ष कमल कल्ला के साध तेजकरण हर्ष को भी सेवादल के साथियों के साथ हिरासत में लेने व कांग्रेस मुख्यालय मे घुस कर लाठियां भांज कर कई कार्यकर्ताओं को चोटिल करने का विरोध जताने के उद्वेश्य से आज एक आयोजन रखा गया। आयोजन सेवादल के राष्टीय अध्यक्ष लाल जी भाई देसाई व प्रदेश अध्यक्ष हेम सिहं सेखावत के निर्देश पर सेवादल के प्रदेश सचिव शिवशंकर हर्ष द्बारा आयोजित किया गया जिसमें सेवादल के कार्यकर्ताओं ने बढ चढ़ कर हिस्सा लिया। पूर्व नियोजित कार्यक्रम के मुताबिक सर्वप्रथम देर रात दिल्ली स्थित अलीपुर थाने से रिहा होकर बीकानेर पहुंचे अपने साथियों प्रदेश उपाध्यक्ष कमल कल्ला, शहर अध्यक्ष अनिल व्यास व तेजकरण हर्ष की रेलवे स्टेशन पर आगमन पर अगवानी की गयी एवं माला पहनाकर स्वागत किया गया। तत्पश्चात तय कार्यक्रम के मुताबिक सभी उपस्थित कार्यकर्ता पद यात्रा करते हुए शहर  के ह्रदय स्थल कोर्ट गेट पर पहुंच कर महात्मा गांधी के दिखाये गये मार्ग के अनुरुप सांकेतिक धरना दिया गया।

धरना स्थल पर जहां एक और उपस्थित सेवादल के सेवादारो ने महात्मा गांधी के चिर परिचित भजन ” रघु पति राघव राजा राम ” व “वैष्णव जन तो तेने कहिये जे पीड़ परायी जाणे रे ” पर कीर्तन किया वहीं धरना स्थल पर माताओं बहनों ने चरखे पर सूत कात कर अपना विरोध दर्ज करवाया । धरने के दौरान साथियों को संबोधित करते हुए कल्ला ने कहा कि सत्ता सुख में कंठ तक डूबी भाजपा क्या जाने सत्याग्रह की ताकत। हमारा तो शान्ति पूर्ण  सत्याग्रह का इतिहास रहा है। वहीं कल्ला ने कहा कि वर्तमान क्रेन्द्र सरकार का आचरण से साफ जाहिर होता है कि भा ज पा अंग्रेजों के पद चिन्हों पर चलकर दमनकरी नीति अपनाते हुए हमारे सत्य के राह पर चल रहे लोगो को कुचलना चाह रही है। वही शहर अध्यक्ष अनिल व्यास ने बताया कि किस प्रकार दिल्ली पुलिस ने बर्बरता पुर्वक बल प्रयोग करते हुए शान्ति पुर्ण तरीके से किए जा रहे विरोध को कुचलने का प्रयास किया और कहा कि जेलों में ठूंस देने मात्र से झूठ सच नही हो सकता। उन्होने वहा के कांग्रेस कार्यकर्ताओं का सभी हिरासत में लिए गये साथीयों के खाने पीने की माकूल व्यवस्था करने पर आभार प्रकट किया। सत्याग्रह मे उपस्थित  सेवादारो ने भी केन्द्र सरकार पर तीखे प्रहार किए। अंत में वर्तमान भा ज पा सरकार द्वारा कांग्रेस के नेताओं सोनिया गांधी व राहुल गांधी को झूठे सम्मन भेजकर जांच के नाम पर परेशान कर रही सरकार के खिलाफ राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया गया। सेवादल के इस पद यात्रा व सांकेतिक धरने में नरसिंह महाराज,साजिद सुलेमानी,
जाकिर हुसैन ,दुर्गादास छंगाणी पार्षद , सकीना खान, स्वाति पारीक ,असलम ,शंकर बोहरा,जगन पुनिया ,मनोज नायक, दिनेश जोशी, स्याम सुंदर रंगा , रईस अली, धनसुख आचार्य , रतना महाराज, विरेन्द्र किराडू सहित सैकडो कार्यकर्ता उपस्थित थे।

What's your reaction?