महिला अत्याचारों के खिलाफ BJP ने बोला हल्ला, प्रदेशाध्यक्ष पूनिया को लिया हिरासत में

महिला अत्याचारों के खिलाफ BJP ने बोला हल्ला, प्रदेशाध्यक्ष पूनिया को लिया हिरासत में  महिला अत्याचारों के खिलाफ BJP ने बोला हल्ला, प्रदेशाध्यक्ष पूनिया को लिया हिरासत में fjf

जयपुर. राजस्थान में दलितों, महिलाओं और बच्चियों पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ आज बीजेपी (BJP) सड़कों पर उतरी. पार्टी के पूर्व निर्धारित अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ हल्ला बोल कार्यक्रम के तहत जयपुर में बीजेपी ने पैदल मार्च किया. बीजेपी मुख्यालय से सिविल लाइन फाटक तक किये गये पैदल मार्च के के बाद पुलिस ने पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया को हिरासत में ले लिया. हल्ला बोल कार्यक्रम में पैदल मार्च के दौरान धारा 144 और कोविड गाइड लाइन की जमकर धज्जियां उड़ाई गई.

महिला अत्याचारों के खिलाफ BJP ने बोला हल्ला, प्रदेशाध्यक्ष पूनिया को लिया हिरासत में prachina in article 1

सरकार के खिलाफ पैदल मार्च में शामिल होने के लिये बीजेपी पदाधिकारी और कार्यकर्ता सुबह पार्टी मुख्यालय में एकत्र हुये. उसके बाद वहां से बड़ी संख्या में पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने सिविल लाइन फाटक के लिये पैदल मार्च शुरू किया. इस दौरान जबर्दस्त भीड़ ने धारा-144 और कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाकर रख दी.

कार्यकर्ताओं की पुलिसकर्मियों के साथ रस्साकस्सी
हाथों में बैनर लिये पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने प्रदेश में महिलाओं और बच्चियों के साथ हो रहे आपराधिक मामलों की कड़ी निंदा की. सिविल लाइन फाटक पर कार्यकर्ताओं की पुलिसकर्मियों के साथ रस्साकस्सी हुई. पूर्व विधायक प्रमिला कुंडारा और महिला पुलिसकर्मियों के बीच तीखी नोकझोंक हुई. बाद में प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया को पुलिस ने हिरासत में ले लिया. उसके बाद अशोक नगर थाना ले जाकर उन्हें छोड़ दिया गया. इस दौरान भारी पुलिस लवाजमा मौजूद रहा. प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि हम इस संबंध में जल्द ही राज्यपाल से भी मुलाकात करेंगे.

COMMENTS