बीकानेर

राज्य सरकार की विफलताओं को जनता के बीच ले जाएगी भाजपा , भाजपा जिला कार्यसमिति बैठक संपन्न

बीकानेर। शहर भाजपा जिला कार्यसमिति की वृहद बैठक रविवार को जिलाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह की अध्यक्षता में गांधीनगर स्थित पार्टी के जिला कार्यालय में संपन्न हुई। बैठक में प्रदेश उपाध्यक्ष और बीकानेर संभाग प्रभारी माधोराम चौधरी, जिला संगठन प्रभारी ओम सारस्वत, जिलाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य और पूर्व जिलाध्यक्ष डॉ. सत्यप्रकाश आचार्य, एड. मुमताज अली भाटी, राष्ट्रीय परिषद सदस्य विजय आचार्य, महापौर सुशीला कंवर राजपुरोहित मंचस्थ पदाधिकारियों के साथ अपेक्षित श्रेणी के राष्ट्रीय और प्रदेश पदाधिकारी, जिला, मंडल मोर्चा और प्रकोष्ठ पदाधिकारी और जिला कार्यसमिति सदस्य बड़ी संख्या में उपस्थित रहे । इस अवसर पर मंचस्थ पदाधिकारियों द्वारा भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशव्यापी जनाक्रोश यात्रा और रैली के पोस्टर का विमोचन भी किया गया ।

जिला मंत्री और मीडिया प्रभारी मनीष आचार्य ने बताया कि भारत माता, डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी और पंडित दीनदयाल उपाध्याय के चित्रों के समक्ष दीप प्रज्वलन, पुष्पांजलि और वंदे मातरम गायन से शुभारम्भ के साथ कुल चार सत्रों मे आयोजित हुई जिला कार्यसमिति बैठक में जन आक्रोश यात्रा, बीकानेर निगम वार्ड संख्या 5 पार्षद उपचुनाव, मंडल सशक्तिकरण अभियान, आगामी मण्डल कार्यसमिति बैठकों सहित अन्य महत्वपूर्ण संगठनात्मक विषयों पर विस्तार से चर्चा हुई ।

स्वागत भाषण और बैठक प्रस्तावना रखते हुए जिलाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह ने संगठनात्मक गतिविधियों का विस्तृत वृत्त प्रस्तुत किया तथा मंडल, मोर्चा और प्रकोष्ठ कार्यकारिणी सहित संगठनात्मक संरचना निर्माण की जानकारी दी।

सिंह ने अपने संबोधन में मंडल सशक्तिकरण अभियान के अंतर्गत बूथ समिति निर्माण कार्य की प्रगति, जिला और प्रदेश पदाधिकारियों के प्रवास, हर घर तिरंगा अभियान, शिक्षक गौरव अमृत सम्मान, कारगिल विजय दिवस, किसान सम्मेलन, निरोगी राजस्थान यात्रा, प्रबुद्धजन सम्मेलन सहित पार्टी द्वारा आयोजित गतिविधियों की संपूर्ण जानकारी कार्यसमिति के समक्ष प्रस्तुत की ।

जिलाध्यक्ष सिंह ने भाजपा के प्रदेशव्यापी आह्वान के तहत  29 नवम्बर से प्रदेश स्तरीय और 30 नवम्बर से जिला स्तरीय रथयात्रा लांच के साथ शुरू होने वाली जन आक्रोश यात्रा और रैली की समस्त कार्य योजना और करणीय कार्यों को प्रोजेक्टर पर स्लाइड शो के माध्यम से प्रस्तुत किया।

प्रदेश उपाध्यक्ष और बीकानेर संभाग प्रभारी माधोराम चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली सरकार में राजस्थान जैसा गौरवशाली प्रदेश विकास की बजाय महिला अत्याचार, दुष्कर्म, भ्रष्टाचार, अपराध, दलित अत्याचार बेरोजगारी, देश में सबसे महंगी बिजली और पेट्रोल डीजल दरों में नंबर एक पर है जो की बहुत दुर्भाग्यपूर्ण विषय है। उन्होंने कहा कि गहलोत राजस्थान के विकास को पहले ही गर्त में ले जा चुके हैं और अब राजस्थान के अपनी सरकार के इस मॉडल को गुजरात में भी लागू करने की बातें कर रहे हैं जबकि भाजपा शासित गुजरात राज्य देश भर में विकास के क्षेत्र में पहले से ही अव्वल स्थान पर है ।

उन्होंने कहा कि  गहलोत सरकार ने पूर्ववर्ती भाजपा सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का नाम बदलकर चिरंजीवी और इंदिरा रसोई इत्यादि असफल योजनाएं लागू कर जनता को केवल मूर्ख बनाने का कार्य किया है।

चौधरी ने कहा कि जन आक्रोश आंदोलन 2023 विधानसभा चुनाव में भ्रष्ट कांग्रेस सरकार के खिलाफ भाजपा के प्रयासों की शुरुआत है और राजस्थान सरकार के 4 वर्ष पूर्ण होने पर महीने भर चलने वाला यह जन आक्रोश आंदोलन गहलोत सरकार की विफलताओं को उजागर कर जन आक्रोश यात्रा के माध्यम से बुरी तरह से अंतर्कलह और आपसी मनमुटाव में उलझी राज्य सरकार की नाकामियों को आमजन के बीच ले जाने का कार्य करेगी ।

जिला संगठन प्रभारी ओम सारस्वत ने कहा कि कार्यकर्ताओं की सामूहिकता और आपसी समन्वय से ही भारतीय जनता पार्टी संगठन पूर्णता प्राप्त करता है। उन्होंने कहा कि एक समय में भाजपा कार्यकर्ता पार्टी की सरकार बनने के बारे में सोचा करते थे और आज ऐसा सुअवसर है कि कार्यकर्ता बूथ स्तर तक पार्टी को अजेय बनाते हुए पीढ़ी दर पीढ़ी भाजपा के सुशासन को देख रहे हैं । उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार के अंदर व्यक्ति और व्यक्ति में आक्रोश है और इस आक्रोश को जन आंदोलन में बदलना है तथा भाजपा की प्रचंड बहुमत की सरकार बनानी है।

सारस्वत ने बीकानेर नगर निगम के वार्ड संख्या 5 में होने वाले पार्षद उपचुनाव को चुनौती के रूप में लेते हुए पूरी ताकत के साथ जुटने की बात करते हुए पार्टी प्रत्याशी को विजयी बनाने का आह्वान किया।

महापौर सुशीला कंवर राजपुरोहित ने जनाक्रोश यात्रा को सफल बनाने का आह्वान करते हुए पार्टी के सभी पार्षदों और पार्षद प्रत्याशियों के अधिकाधिक सहयोग देने का भरोसा दिलाया। जिला उपाध्यक्ष अशोक प्रजापत ने स्थानीय समस्याओं पर आधारित प्रस्ताव प्रस्तुत करते हुए रेलवे फाटकों की समस्या, शहर में बढ़ रहे अपराध, कांग्रेस के जनप्रतिनिधियों द्वारा भूमाफियाओं और भ्रष्टाचारियों को संरक्षण, नाकाम चिकित्सा व्यवस्था, बदहाल सड़कें इत्यादि विषयों ध्यानाकर्षण किया ।

प्रदेश कार्यसमिति सदस्य और पूर्व जिलाध्यक्ष डॉ. सत्यप्रकाश आचार्य ने स्थानीय समस्याओं पर आधारित प्रस्ताव का समर्थन करते हुए कहा कि बीकानेर शहर में अघोषित आपातकाल की स्थिति में आमजन से जुड़े साधारण कार्यों और विकास योजनाओं में भी सीधा-सीधा राजनीतिक हस्तक्षेप हो रहा है और शहर में विकास कार्यों के नाम पर केवल शिला पट्टिकाएँ लगाने का कार्य चल रहा है। उन्होंने राज्य सरकार से शहर के तीव्र विकास हेतु अतिशीघ्र नाल हवाई अड्डे के लिए कोटा की तरह निशुल्क भूमि आवंटित करने की मांग की  राष्ट्रीय परिषद सदस्य विजय आचार्य ने भी स्थानीय समस्याओं पर आधारित राजनैतिक प्रस्ताव का समर्थन किया ।

जिला उपाध्यक्ष डॉ. सुषमा बिस्सा ने राजनैतिक प्रस्ताव प्रस्तुत करते हुए केंद्र की श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की उपलब्धियों और राज्य की कांग्रेस सरकार की विफल नीतियों और नाकारा प्रशासन की विस्तृत जानकारी दी।

इस राजनैतिक प्रस्ताव का समर्थन करते हुए आईटी विभाग के पूर्व प्रदेश संयोजक अविनाश जोशी और लघु उद्योग प्रकोष्ठ की अदिति राजवंशी ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार को हर मोर्चे पर विफल और राज्य को विकास के पायदान पर नीचे ले जाने वाली नाकारा सरकार बताया।

सभागार में उपस्थित सभी सदस्यों ने हाथ उठाकर राजनैतिक और स्थानीय समस्याओं पर आधारित प्रस्तावों का अनुमोदन किया ।

What's your reaction?