राजस्थान के युवाओं के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लिया बड़ा फैसला

राजस्थान के युवाओं के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लिया बड़ा फैसला  राजस्थान के युवाओं के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लिया बड़ा फैसला cm rajajstahn

जयपुर: राज्य के बेरोजगार युवाओं के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लोकप्रिय फैसला लिया है. इसे प्रदेश के युवाओं के लिए गहलोत का ‘मास्टर प्लान’ माना जा रहा है. ऐसे में अब युवाओं को सरकारी नौकरी में जल्द ही बड़ा तोहफा मिल सकता है. प्रदेश में बाहरी राज्यों के अभ्यर्थियों का कोटा खत्म हो सकता है. सूत्रों के अनुसार सरकार जल्द ही इस प्रस्ताव को कैबिनेट में रखेगी.

राजस्थान के युवाओं के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लिया बड़ा फैसला prachina in article 1

कैबिनेट के फैसले के बाद कार्मिक विभाग को भेजा जाएगा प्रस्ताव:  
बता दें कि अभी प्रदेश के कई विभागों की भर्तियों में 3 से 5% दूसरे राज्यों के अभ्यर्थी नौकरी हासिल कर रहे हैं और इसका खामियाजा प्रदेश के बेरोजगारों को भुगतना पड़ रहा है. ऐसे में अब कैबिनेट के फैसले के बाद कार्मिक विभाग को प्रस्ताव भेजा जाएगा. कार्मिक विभाग की ओर से नियमों में बदलाव के बाद यह नियम लागू हो सकता है. इसको लेकर मुख्यमंत्री गहलोत और शिक्षा राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा की उच्चस्तरीय बैठक होने की भी जानकारी है. ऐसे में गहलोत सरकार रीट सहित अन्य भर्तियों की विज्ञप्ति से पहले इस नियम को अमलीजामा पहनाने के मूड में है.

सीएम गहलोत राज्य के बेरोजगार युवाओं को लेकर खासे चिंतित: 
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरुवार को कार्मिक, प्रशासनिक सुधार, विधि सहित अन्य विभागों के आला अफसरों को इस पूरे मामले का परीक्षण करने के निर्देश दिए, ताकि राज्य के युवाओं के लिए अधिक से अधिक अवसर पैदा किए जा सकें. सूत्रों के अनुसार सीएम गहलोत राज्य के बेरोजगार युवाओं को लेकर खासे चिंतित हैं. इसी को ध्यान में रखकर उनकी ओर से यह कदम उठाया जा रहा है.

पिछले महीने ही मध्य प्रदेश सरकार ने यह फैसला किया था: 
गौरतलब है कि पिछले महीने ही मध्य प्रदेश सरकार ने फैसला किया था कि सरकारी भर्तियों में केवल मध्य प्रदेश के युवाओं को ही तरजीह देंगे. इसी के बाद यह मामला गरमा गया था कि राजस्थान में भी स्थानीय युवाओं को ही प्राथमिकता दी जाए.

COMMENTS