शहर भाजपा का जबरदस्त हल्ला बोल , मुख्यमंत्री का पुतला दहन कर ज्ञापन सौंपा

शहर भाजपा का जबरदस्त हल्ला बोल , मुख्यमंत्री का पुतला दहन कर ज्ञापन सौंपा  शहर भाजपा का जबरदस्त हल्ला बोल , मुख्यमंत्री का पुतला दहन कर ज्ञापन सौंपा WhatsApp Image 2021 03 12 at 4

शहर भाजपा का जबरदस्त हल्ला बोल , मुख्यमंत्री का पुतला दहन कर ज्ञापन सौंपा mr bika fb post

भारतीय जनता पार्टी शहर जिला बीकानेर द्वारा राज्य की कांग्रेस सरकार की नाकामियों, जनविरोधी नीतियों और और घोर विफलताओं के विरोध में विशाल हल्ला बोल कार्यक्रम के तहत  जिलाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह के नेतृत्व में आज शुक्रवार को प्रातः 11:00 बजे रतन बिहारी पार्क से जिला कलेक्टर कार्यालय तक पैदल मार्च करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के  पुतला दहन और विरोध प्रदर्शन के साथ जिला कलेक्टर के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन दिया गया

शहर भाजपा का जबरदस्त हल्ला बोल , मुख्यमंत्री का पुतला दहन कर ज्ञापन सौंपा prachina in article 1

हल्ला बोल कार्यक्रम में भारतीय जनता पार्टी के जिला, मंडल, मोर्चा, प्रकल्प और प्रकोष्ठ पदाधिकारियों के साथ साथ पार्षद,पार्षद प्रत्याशी, पूर्व पदाधिकारी, सक्रिय सदस्य एवं अन्य कार्यकर्ताओं ने मार्च के दौरान सरकार के खिलाफ जबरदस्त नाराजगी और विरोध प्रदर्शन करते हुए बड़ी संख्या में हिस्सा लिया। हल्ला बोल कार्यक्रम की शुरुआत में कार्यकर्ताओं ने रतन बिहारी पार्क से कचहरी परिसर तक  राज्य सरकार के खिलाफ बुलंदी से नारे लगाकर विरोध प्रदर्शन किया।

जिला मंत्री और मीडिया प्रभारी मनीष आचार्य ने बताया कि प्रदर्शन के दौरान बड़ी संख्या में भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ताओं ने हाथों में तख्तियां, पार्टी के झंडे, बैनर और काले कुर्तों पर सरकार की नाकामियों से भरे स्लोगन लगाकर राज्य नाकारा,निकम्मी सरकार और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ नारेबाजी कर अकर्मण्यता का आरोप लगाते हुए प्रदेश की लचर कानून व्यवस्था के खिलाफ जोरदार विरोध प्रदर्शन किया। इस अवसर पर कचहरी परिसर में ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का पुतला भी जलाया गया ।

जिला कलेक्टर कार्यालय के आगे कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए भाजपा जिला प्रभारी ओम सारस्वत ने कहा कि अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली राज्य की कांग्रेस सरकार पूरी तरह से नाकारा और सभी मोर्चों पर विफल  साबित हो चुकी है । उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के पास राजस्थान के लिए कोई भी विकास का रोड मैप नही है। आज राजस्थान पुनः बीमारू राज्य की श्रेणी में शुमार हो गया, आज भ्रस्टाचार के मामलों में राजस्थान देश में पहली पायदान पर है, महिला अत्याचार, दलित अत्याचार के मामलों में राजस्थान देश भर में प्रथम स्थान पर है। इसी प्रकार कर्ज माफी के नाम पर आज भी 50 हज़ार किसान बाट जोह रहे है। बेरोजगारी भत्ता के नाम से युवा बेरोजगार अपने आप को ठगा महसूस कर रहे है। आज प्रदेश में बेरोजगारी चरम पर है, रोजगार के नाम से सरकारी घोषणाएं नाकाफी साबित हुई है। ऐसी जन विरोधी, सरकार को उखाड़ फेंकना आवश्यक हो गया है। उन्होंने कहा कि बिजली बिलों में लगातार बढ़ोतरी से आम नागरिक पीड़ित है, सरकार सभी मोर्चो पर विफल साबित हुई है। राज्य सरकार की इन्हीं नाकामियों को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर उतर कर संघर्ष करने का ऐलान किया है ।

भाजपा जिलाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह ने कहा कि इस सरकार में भ्रष्टाचार चरम पर है और सरकार अपने वादों को पूरा नहीं कर पाई है।  राज्य में पूरी तरह से अभूतपूर्व अराजक स्थिति बनी हुई है, राज्य अपराधों की संख्या में पूरे देश में अव्वल स्थान पर हैं और सरकार बहू,बेटियों,युवाओं, किसानों और अन्य वर्गों की सुरक्षा करने की बजाय केवल अपनी कुर्सी को बचाने के जुगाड़ में लगी हुई है ।

उन्होंने कहा कि राज्य में आपराधिक घटनाओं की पराकाष्ठा हो चुकी है, क्राइम रिपोर्ट में राज्य अव्वल नंबर पर है और इस प्रकार की राज्य के सभी राज्य में कभी नहीं बनी है।  सिंह ने कहा कि राज्य में बाल तस्करी, बहू बेटियों का अपहरण, बेलगाम होते बजरी माफिया, किसानों की आत्महत्या जैसी घटनाएं चरम पर है ।

जिलाध्यक्ष ने कहा कि राज्य में बिजली के बिलों में बेतहाशा वृद्धि हुई है और आम आदमी के लिए महीने का बिजली बिल चुकाना भारी हो गया है राज्य में निजी बिजली कंपनियों द्वारा की जा रही अवैध वसूली परवान पर है, राज्य के किसानों को फसली ऋण भी वितरित नहीं किया जा रहा है जबकि राज्य सरकार द्वारा केवल बड़े-बड़े वादे किए जा रहे हैं

इस अवसर पर प्रदेश कार्यसमिति सदस्य और पूर्व जिलाध्यक्ष डॉ सत्यप्रकाश आचार्य ने कहा कि राज्य सरकार के कुप्रबंधन के चलते पूरा प्रदेश त्राहि त्राहि कर रहा है। सरकार के खिलाफ प्रदेश के सभी वर्ग में जबर्दस्त नाराज़गी है। राज्य के किसानों और नौजवानों को झूठे वादों के दम पर बरगला कर सत्ता में आई कांग्रेस सरकार मात्र 2 साल में ही जनता का विश्वास खो चुकी है।  सत्ताधारी दल के विधायकों में गुटबाजी के चलते पनपे अविश्वास और दो भागों में बंटी कांग्रेस पार्टी आमजन के प्रति अपनी जिम्मेदारी को भूल कर एक दूसरे को नीचा दिखाने में जुटी हुई है।

जिला महामंत्री मोहन सुराणा ने कहा कि किसानों को कर्जमाफी और बेरोजगारी भत्ता देने का वादा अपने घोषणापत्र में करने वाली झूठे वादों की सरकार ने शासन में आने के बाद अपने सभी वादों को भुला दिया है और मतदाताओं के साथ बेईमानी की है।

जिला महामंत्री अनिल शुक्ला ने कहा कि राज्य के किसान आत्महत्या करने को मजबूर हो रहे हैं बेरोजगार नौजवान के लिए न तो सरकार की कोई नीति है ना ही  बेरोजगारी भत्ता दिया गया है।

जिला उपाध्यक्ष अशोक प्रजापत ने कहा कि राज्य में अपराध चरम पर है, अपराधियों के हौसले बुलंद हैं और पुलिस अपना इकबाल खो चुकी है। राज्य में पहली बार कई सारे व्यापारियों पर गोलीबारी की घटनाएं हुई है जिससे आमजन में भय का माहौल पैदा हो चुका है।  सट्टे जुए जैसे अपराध पुलिस संरक्षण में बेखौफ चल रहे हैं।

जिला महामंत्री नरेश नायक ने कहा कि राजस्थान में झूठे और लोकलुभावन वादे कर सत्ता प्राप्त करने वाली कांग्रेस आमजन,महिलाओं, दलितों और किसानों के प्रति अपने उत्तरदायित्व को पूरी तरह से भूल चुकी है और राज्य सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हुई है।

महिला मोर्चा अध्यक्ष मधुरिमा सिंह ने कहा कि महिलाओं के साथ अपराध, बलात्कार, गैंगरेप ब्लैकमेलिंग की घटनाएं निरंतर बढ़ रही है।  अनुसूचित जाति और जनजाति के प्रति अपराधों में भी भारी बढ़ोतरी हुई है इसके बावजूद राज्य के पुलिस पर कठोर कार्यवाही नहीं कर पा रही है।

          भाजपा आईटी विभाग के प्रदेश संयोजक अविनाश जोशी ने कहा कि राज्य में अवैध खनन चरम पर है और खनन माफिया बिना भय के प्राकृतिक संसाधनों का दोहन करने में लगे हैं।  बजरी माफिया के कृत्य रोजाना अखबारों की सुर्खियां बनने लगे हैं।

विरोध प्रदर्शन हल्ला बोल कार्यक्रम में जिला प्रभारी ओम सारस्वत, जिलाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य और पूर्व जिलाध्यक्ष डॉ सत्यप्रकाश आचार्य, , देहात अध्यक्ष ताराचंद सारस्वत, पूर्व विधायक विश्वनाथ मेघवाल, उपमहापौर राजेंद्र पंवार, वरिष्ठ नेता मुमताज अली भाटी, जिला उपाध्यक्ष अशोक प्रजापत, गोकुल जोशी, मधुरिमा सिंह, जिला महामंत्री अनिल शुक्ला, मोहन सुराणा, नरेश नायक, जिला मंत्री मनीष आचार्य, कौशल शर्मा, अरुण जैन, , प्रमिला गौतम, इंद्रा व्यास, असद रजा भाटी, मण्डल अध्यक्ष अजय खत्री, दिनेश महात्मा,मुकेश ओझा, जेठमल नाहटा,नरसिंह सेवग, चंद्र प्रकाश गहलोत, विनोद करोल, कमल किशोर आचार्य, पूर्व महापौर नारायण चौपडा, पूर्व जिलाध्यक्ष विजय आचार्य, विजय उपाध्याय,मीना आसोपा, वेद व्यास, पार्षद अरविन्द किशोर आचार्य, सुधा आचार्य, सुमन छाजेड, माणकलाल प्रजापत, पुनीत शर्मा, दुलीचंद शर्मा, बजरंग सोखल, जितेन्द्र सिंह भाटी, मांगीलाल विश्नोई, प्रतीक स्वामी,ओबीसी मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष हुकुमचंद सोनी, अल्पसंख्यक मोर्चा प्रदेश मंत्री मो. रमजान अब्बासी ,इमरान खान, जगदीश सोलंकी, भारती अरोड़ा, सुनीता स्वामी, मो. फारुख चौहान,फारुख पठान, जतिन सहल,उस्मान खलीफा,हुसैन डार, विक्रम राजपुरोहित, राहुल पारीक , निरंजन सारस्वत, उमाशंकर सोलंकी, ज्योतिप्रकाश श्रीमाली, मनोज पुरोहित, रासबिहारी जोशी,  सोहनलाल चांवरिया, निशांत गौड़, हिमांशु शर्मा, गोपाल चौधरी, प्रेम सिंह मेड़तिया,मनोज पुरोहित,अशोक चांवरिया, ओम सुथार, महेश शुक्ला, घनश्याम लोहिया, महावीर मारु, गिरिराज व्यास, शिव मेघवाल, गिरिराज चारण ,अर्जुन सिंह, रामपाल सेन, मधुसुदन शर्मा इत्यादि उपस्थित रहे।

COMMENTS