घर-घर सर्वे के लिए कमेटियां , गठित सात दिनों में करना होगा सर्वे-स्क्रीनिंग

घर-घर सर्वे के लिए कमेटियां , गठित सात दिनों में करना होगा सर्वे-स्क्रीनिंग  घर-घर सर्वे के लिए कमेटियां , गठित सात दिनों में करना होगा सर्वे-स्क्रीनिंग bikanersrve

घर-घर सर्वे के लिए कमेटियां , गठित सात दिनों में करना होगा सर्वे-स्क्रीनिंग mr bika fb post

बीकानेर। कोरोना संक्रमण नियंत्रण के लिए घर-घर सर्वे कर प्रत्येक व्यक्ति की स्क्रीनिंग करने, जागरूकता फैलाने, टीकाकरण हेतु व्यक्तियों का चिन्हीकरण करने तथा अभियान को और अधिक गति प्रदान करने के लिए जिला कलक्टर नमित मेहता ने विभिन्न कमेटियों का गठन किया है।
सर्वे एवं स्क्रीनिंग कार्य के लिए शहरी क्षेत्र में अतिरिक्त जिला कलक्टर (नगर) अरुण प्रकाश शर्मा तथा ग्रामीण क्षेत्र के लिए जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओमप्रकाश को प्रभारी बनाया गया है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. सुकुमार कश्यप दोनों कमेटियों के सहप्रभारी होंगे। शहरी क्षेत्र के सर्वे दल में संबंधित यूपीएचसी के चिकित्सा अधिकारी, नगरीय निकाय के स्वास्थ्य निरीक्षक, संबंधित क्षेत्र के लिए बीएलओ, एएनएम, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और आशा सहयोगिनी होंगे। ग्रामीण क्षेत्र के सर्वे दल में संबंधित पीएचसी अथवा सीएचसी के चिकित्सा अधिकारी, पंचायत प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी, ग्राम विकास अधिकारी, संबंधित क्षेत्र के बीएलओ व पटवारी, एएनएम, साथिन, आशा सहयोगिनी व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को सम्मिलित किया गया है।

घर-घर सर्वे के लिए कमेटियां , गठित सात दिनों में करना होगा सर्वे-स्क्रीनिंग prachina in article 1

जिला कलक्टर ने बताया कि इन कमेटियों द्वारा प्रत्येक व्यक्ति का सर्वे निर्धारित प्रारूप में किया जाएगा, जिससे सभी वंचित व्यक्तियों का टीकाकरण किया जा सके तथा आमजन को जागरुक किया जा सके। इन कमेटियों द्वारा संबंधित क्षेत्रों के वार्ड पार्षद, सरपंच, वार्ड पंच सहित विभिन्न जनप्रतिनिधियों से भी सतत सपंर्क रखा जाएगा। सर्वे और स्क्रीनिंग का यह कार्य सात दिनों में पूर्ण करना होगा।

किसी स्तर पर नहीं हो लापरवाही
सर्वे कार्य में किसी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी तथा ऐसा पाए जाने पर सख्त कार्यवाही होगी। जिला कलक्टर ने बताया कि प्रत्येक कमेटी द्वारा प्रतिदिन की सर्वे एवं स्क्रीनिंग रिपोर्ट ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दनी होगी। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा जिला स्तर पर इसका संकलन किया जाएगा। संबंधित ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि उनके क्षेत्र में वैक्सीनेशन का प्रतिशत औसत प्रतिशत से नीचे नहीं रहना चाहिए। साथ ही यह सुनिश्चित करना होगा कि कोविड-19

गाइडलाइन पालना में किसी भी स्तर पर ढिलाई नहीं बरती जाए।
माॅनिटरिंग के लिए कमेटियां गठित
जिला कलक्टर ने बताया कि टीकाकरण अभियान को गति प्रदान करने व पूर्ण प्रबंधन के लिए शहरी क्षेत्र के लिए अतिरिक्त जिला कलक्टर (नगर) तथा ग्रामीण क्षेत्र के लिए जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के नेतृत्व में कमेटियां गठित की गई हैं। शहरी क्षेत्र के लिए नगर निगम आयुक्त, उपनिदेशक महिला एवं बाल विकास विभाग, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तथा जिला प्रजनन एवं बाल स्वास्थ्य अधिकारी कमेटी के इसमें शामिल किया हया है। वहीं ग्रामीण क्षेत्र के लिए संबंधित क्षेत्र के उपखंड अधिकारी, उपनिदेशक महिला एवं बाल विकास विभाग, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी तथा उपनिदेशक महिला अधिकारिता विभाग सदस्य होंगे।
यह कमेटियां जिले के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में कोरोना के विरूद्ध प्रभावी प्रबंधन एवं सरकार द्वारा जारी निर्देशों का क्रियान्वयन करेगी। साथ ही कोविड वैक्सीनेशन कार्य की सतत माॅनिटरिंग करेंगी।

COMMENTS