क्राईम ब्रांच की कार्रवाई ,सामानों की बदली जा रही थी एक्सपायरी डेट

क्राईम ब्रांच की कार्रवाई ,सामानों की बदली जा रही थी एक्सपायरी डेट  क्राईम ब्रांच की कार्रवाई ,सामानों की बदली जा रही थी एक्सपायरी डेट jaipur news

जयपुर: प्रदेश में किस कदर जनता एक्सपायर हुई सामग्री का सेवन कर रही है इसकी एक बानगी राजधानी जयपुर में देखने को मिली. जब कमिश्नरेट की क्राईम ब्रांच टीम ने बडी कार्रवाई को अंजाम देते हुए भांकरोटा व मानसरोवर इलाके में ऐसी खादय सामग्री की फैक्टियां पकडी. जो पुराने सामान को नये तरिके से पैक करके बेच रही थी. पुलिस ने 3 ठिकानों पर कार्रवाई करते हुए 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

क्राईम ब्रांच की कार्रवाई ,सामानों की बदली जा रही थी एक्सपायरी डेट prachina in article 1

क्राइम ब्रांच ने आज शहर में तीन फेक्ट्रियों पर दबिश देकर 4 ऐसे आरोपियो को गिरफ्तार किया है. जो कि आपकी जान के साथ खिलवाड़ कर रहे थे. इन फेक्ट्रियों में करीब 3 से 4 साल पुरानी सड़ी और खराब खादय सामग्री को जनता के बीच नए ट्रेड से परोसा जा रहा था. मुखबिर से मिली सूचना के बाद बोगस ग्राहक बेचते हुए पुलिस ने पूरे मामले का भंडाफोड करते हुए राजस्थान के बडे नेटवर्क का पता किया.

पुलिस ने नकली खादय सामग्री के जयपुर के तीन बडे गोदामों पर छापा मारा. ये गोदाम भांकरोटा व मानसरोवर इलाके में संचालित हो रहे थे. छापा के दौरान पुलिस को यहां से भारी मात्रा में मिलावटी और एक्सपायरी डेट के आटा, घी, ड्राईफ्रुटस, मसाला समेत तमाम खाद्य सामग्राी पाई गई. पुलिस ने पूरी सामग्राी को जब्त करते हुए तीनों गोदामों से आधा दर्जन आरोपितों को हिरासत में लिया.  एडिशनल एसपी सुलेश चौधरी की मानें तो फैक्ट्री संचालक एक साल से ज्यादा की एक्सपाईरी डेट के खाद्य पदार्थ को औने पौने दामों पर खरीदते हुए है. इस सामग्री को नई डेट में बदलकर नई पैकिंग में पैककर नामी कंपनियों के नाम से मोटे मुनाफा के लिए बाजारों में सप्लाई करते थे. इसके लिए गोदाम में आरोपियों ने कोल्ड स्टोरेज तक बना रखे थे.

जब्त की ज्यादातर खाद्य सामग्री में एक्सपाईरी डेट की होना सामने आई है. बताया जा रहा है कि फैक्ट्रियों में भारी मात्रा में आटा कट्टे, मसाला, घी आदि खाद्य सामग्री मिली है, जिसकी कीमत करोडों में है. हालांकि पुलिस ने पूरी खादय सामग्री को जब्त कर लिया है. जिसे जब्त कर खाद्य विभाग की टीम ने सैंपल लिया है प्रांरम्भिक जांच में जयपुर के करीब तीन दर्जन बडे नामी दूकानदारों के नाम सामने आए है जहां पर ये खादय सामग्री सप्लाई की जाती थी. बहरहाल, पुलिस पकडे गए सभी आरोपितों से पूछताछ कर रही है.

पुलिस की इस कार्रवाई से सामने आया कि बाजार में जो सामान आप एक्सपायरी डेट देखकर खरीद रहे थे. वास्तव में उनकी एक्सपायरी डेट तो कई साल पहले ही निकल चुकी थी. जांच में ये भी सामने आया कि इन फेक्ट्रियों के गोदाम राजस्थान के सभी जिलों में .. यानि कि पूरे राजस्थान में ऐसे सामान की बिक्री हो रही थी जो कि एक्सपायर हो चूका है, इनमे पतंजली, टाटा सहित कई नामचीन ब्रांड शामिल है जिनके सामान बाजार में बेचे जा रहे थे.

 

COMMENTS