कोरोना वैक्सीन पर निराश कर देने वाली खबर आई सामने

कोरोना वैक्सीन पर निराश कर देने वाली खबर आई सामने  कोरोना वैक्सीन पर निराश कर देने वाली खबर आई सामने corona vaccine iis

एस्ट्रेजेनिका की तरफ से ब्रिटेन में ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन के ट्रायल पर रोक लगाने के बाद अब भारत में भी इस दवा को तैयार कर रही सीरम इंस्टीट्यूट ने इसके ट्रायल को फिलहाल रोकने का ऐलान किया है। ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) की तरफ से कारण बताओ नोटिस मिलने के एक दिन बाद भारतीय दवा निर्माता कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ने कहा कि वह देश में कोविड-19 वैक्सीन के ट्रायल को रोक रही है। सीरम इंस्टीट्यूट भारत में ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के कोविशील्ड वैक्सीन को ब्रिटेन की एस्ट्रेजेनिका के साथ तैयार कर रही है।

कोरोना वैक्सीन पर निराश कर देने वाली खबर आई सामने prachina in article 1

सीरम इंस्टीट्यूट ने कहा- “हम स्थिति की समीक्षा कर रहे हैं और भारत में कोविड-19 वैक्सीन के ट्रायल को एस्ट्रेजेनिका की तरफ से दोबारा शुरू करने तक रोक रहे हैं। हम ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीजीसीआई) के निर्देशों का पालन कर रहे हैं और इस मामले में ट्रायल को लेकर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे।”

इससे पहले, बुधवार को डीजीसीआई ने एस्ट्रेजेनिका की तरफ से अन्य देशों में क्लिनिकल ट्रायल पर रोक लगाने के बारे में नहीं बताने और इस वैक्सीन के दुष्प्रभाव के बारे में रिपोर्ट नहीं देने पर सीरम इंस्टीट्यूट को नोटिस जारी किया था। सीरम से इस बारे में फौरन जवाब मांगते हुए कहा गया था, “यह समझा जाएगा कि आपके पास स्पष्टीकरण के लिए कुछ नहीं है और उसके बाद आपके खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगा।”

बुधवार को नोटिस मिलने के बाद सीरम इंस्टीट्यूट ने कहा, “हम डीसीजीआई के निर्देशों का पालन कर रहे हैं और अभी तक ट्रायल को रोकने को नहीं कहा गया है। अगर डीसीजीआई को सुरक्षा को लेकर चिंताएं हैं तो हम उनकी निर्देशों को मानेंगे और उनके स्टैंडर्ड प्रोटॉकॉल्स का पालन किया जाएगा।”

ब्रिटेन की दवा निर्माता कंपनी ने ट्रायल के दौरान मरीजों में से एक को हुई बीमारी को देखते हुए वैक्सीन के ट्रायल पर 8 सितंबर को रोक लगा दी थी। भारत में दूसर चरण के 26 अगस्त से शुरू हुए परीक्षण में 100 लोगों में से पुणे के भारतीय विद्यापीठ मेडिकल कॉलेज के 34 लोगों को यह वैक्सीन दी गई थी। इनमें से किसी को भी स्वास्थ्य संबंधी कोई समस्या पैदा नहीं हुई।

COMMENTS