आपदा प्रबंधन प्रशिक्षण कार्यक्रम का हुआ समापन

आपदा प्रबंधन प्रशिक्षण कार्यक्रम का हुआ समापन bikaner आपदा प्रबंधन प्रशिक्षण कार्यक्रम का हुआ समापन Photo apda 2

बीकानेर,, हरिश्चन्द्र माथुर राजस्थान राज्य लोक प्रशासन संस्थान, बीकानेर द्वारा तीन दिवसीय आपदा प्रबंधन प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुक्रवार को समापन हुआ। प्र्रशिक्षण में शिक्षा विभाग, राजस्थान पुलिस एवं इंदिरा गांधी नहर परियोजना से कुल 38 सम्भागी ने भाग लिया। साथ ही पीबीएम चिकित्सालय बीकानेर से नर्सिंग स्टाफ ने प्रशिक्षण लिया।
प्रशिक्षण पाठ्यक्रम निदेशक चतुर्वेदी ने कार्यक्रम के उदेश्यों एवं रूपरेखा पर प्रकाश डाला गया। वेटनरी विश्वविद्यालय बीकानेर के आपदा प्रबंधन अनुदेशक शैलेन्द्र सिंह द्वारा आपदा प्रबंधन तथा फस्र्टएड पर व्याख्यान दिया।
सिविल डिफेंस विभाग से अनुदेशक दुर्गराज सिंह द्वारा सुरक्षा तथा आग लगने के दौरान सुरक्षा व प्रबंधन पर विचार व्यक्त किए और अग्नी शमन यंत्र द्वारा आग लगने पर रोकथाम हेतु प्रेक्टीकल करके बताया गया। पीबीएम चिकित्सालय के ट्रोमा नर्सिंग कोर्डिनेटर मेवा सिंह द्वारा आपदा के दौरान मेडिकल सुविधा पर व्याख्यान दिया गया तथा आपात स्थिति में रोगी को दिये जाने वाले प्राथमिक उपचारों से भी प्रशिक्षणार्थियों को अवगत करवाया।
प्रशिक्षण में वक्ताओं द्वारा यह प्रयास किया गया कि सम्भागियों को सैद्धान्तिक जानकारी के साथ-साथ व्यवहारिक जानकारी भी दी जाये तथा प्रशिक्षणार्थी भी इसमें भागीदारी निभायें। व्यवहारिक प्रशिक्षण के लिए प्रथम चिकित्सा की सामान्य जानकारी के साथ-साथ सुरक्षा उपायों के अन्तर्गत मनुष्य जीवन को बचाने के लिए रस्सी/रस्सों का उपयोग कर आपदा की स्थिति में जन-जीवन कैसे बचाया जा सकता है तथा कम साधनों में या यों कहें कि घर पर उपलब्ध सामान से स्ट्रेक्चर का निर्माण कर राहत की दिशा में किस प्रकार बढ़ा जा सकता है, के बारे में प्रेक्टीकल करके बताये गये।

COMMENTS

WORDPRESS: 0