बीकानेर

संवेदनशीलता से करें परिवेदनाओं का निस्तारण-जिला कलेक्टर

बीकानेर। जिला स्तरीय जन जनसुनवाई शुक्रवार को जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित हुई। इस मौके पर जिला कलक्टर ने अधिकारियों को जनसुनवाई में प्राप्त होने वाली जन समस्याओं का त्वरित गति से संवेनशीलता के साथ निस्तारण करने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने गत जन सुनवाई में दिए गए आदेशों की पालना का फीडबैक भी लिया। उन्होंने पूछा कि जो परिवेदनाएं गत जनसुनवाई में मिली थी, उनके निस्तारण होने या नहीं होने की सूचना परिवादी को दी या नहीं? उन्होंने अधिकारियों को स्पष्ट कहा कि जो भी परिवेदना मिले, उसकी जांच कर, तथ्यात्मक रिपोर्ट प्रस्तुत की जाए। सभी अधिकारी कार्यवाही की लिखित जानकारी संबंधित को दें। उन्होंने कहा कि जनसुनवाई के दौरान अतिक्रमण से संबंधित सभी शिकायतों का मुआयना करें और सही पाए जाने की स्थिति में त्वरित कार्यवाही हो। ऐसा कोई भी प्रकरण लंबित नहीं रहना चाहिए।

जनसुनवाई में बीकानेर शहर सहित जिले के उपखण्ड क्षेत्रों के नागरिकों ने कुल 32 परिवेदनाएं प्रस्तुत की। जिन में प्रमुख रूप से वैष्णधाम के पीछे की कॉलोनियों में पेयजल, सीवरेज, सड़क आदि की सुविधाएं नहीं होने की समस्या रखी गई। कॉलोनी वासियों ने बताया कि नगर विकास न्यास द्वारा पट्टे जारी किए हैं, जबकि आधारभूत सुविधाएं अभी तक विकसित नहीं हुई हैं। जिला कलक्टर ने नगर विकास न्यास के अधिकारियों को कार्यवाही के लिए निर्देशित किया।

खाजूवाला क्षेत्र के वार्ड संख्या 17 बेरियावाली के यशपाल की पट्टा दिलाने की मांग पर जिला कलक्टर ने प्रकरण की जांच करने के निर्देश विकास अधिकारी खाजूवाला को दिए और कहा कि अगर ग्राम पंचायत ने इनका पट्टा निरस्त कर दिया है, तो परिवादी को लिखित में सूचना दी जाए।
जन सुनवाई में सेवा निवृत्ति के परिलाभ दिलाने, सत्तासर में बनने वाले जलदाय विभाग के ओवरहैड का निर्माण ऊंचे स्थान पर करवाने, प्रधानमंत्री फसल बीमा का क्लेम दिलाने, बीकानेर के हैड पोस्ट ऑफिस के पास सीवरेज के ओवरफ्लो की समस्या का समाधान करवाने, सादुलगंज में रास्ते पर हुए अतिक्रमण हटवाने, करणीनगर के सी ब्लॉक के पार्क से अतिक्रमण हटावाने सहित सीमाज्ञान, पेंशन स्वीकृत करवाने के संबंध में परिवेदनाएं दी गई।

जनसुनवाई के दौरान जिले के अन्य उपखंड कार्यालयों से सभी एसडीएम, तहसीलदार, विकास अधिकारी व ब्लॉक स्तरीय अधिकारी वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से जुड़े।
इनकी रही उपस्थिति
जनसुनवाई में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) बलदेवराम धोजक, एडीएम सिटी अरूण प्रकाश शर्मा, सहायक निदेशक (लोक सेवाएं) सविना बिश्नोई, यूआईटी सचिव नरेन्द्र सिंह राजपुरोहित, डीएसओ भागुराम मेहला, उपनिदेशक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग एल.डी. पंवार, उप निदेशक महिला एवं बाल विकास विभाग शारदा चौधरी, सीएमएचओ डॉ.बी.एल.मीना, जिला शिक्षा अधिकारी (माध्यमिक शिक्षा) सुरेन्द्र सिंह भाटी, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी राजकुमार शर्मा, सहायक निदेशक कृषि राम किशोर मेहरा सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे।

What's your reaction?