जिला प्रशासन और प्रमुख मस्जिद प्रतिनिधियों के बीच रमजान को लेकर बैठक आयोजित

जिला प्रशासन और प्रमुख मस्जिद प्रतिनिधियों के बीच रमजान को लेकर बैठक आयोजित  जिला प्रशासन और प्रमुख मस्जिद प्रतिनिधियों के बीच रमजान को लेकर बैठक आयोजित IMG 20210411 WA0014

जिला प्रशासन और प्रमुख मस्जिद प्रतिनिधियों के बीच रमजान को लेकर बैठक आयोजित mr bika fb post

बीकानेर। कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के मद्देनजर रविवार को जिला कलक्टर नमित मेहता के नेतृत्व में जिला प्रशासन और शहर की प्रमुख मस्जिदों के इमाम और मौलवियों की बैठक आयोजित हुई। इस दौरान मेहता ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में संक्रमण फैलाव की गति पहले की तुलना में कई गुना अधिक है। ऐसे में हमें और अधिक सतर्क रहने की जरूरत है। जिला प्रशासन द्वारा सभी एहतियातन कदम उठाए गए हैं तथा रविवार से रात्रि कर्फ्यू प्रभावी कर दिया गया है। कोविड एडवाइजरी की अवहेलना करने वालों के खिलाफ सख्ती बरती जा रही है।
मेहता ने कहा कि धार्मिक संस्थानों के प्रतिनिधियों के साथ बैठकों की श्रंखला में शनिवार को शहर के प्रमुख मंदिरों के प्रतिनिधियों के साथ विचार विमर्श किया गया। इस दौरान मंदिर प्रतिनिधियों ने कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर नवरात्रि के दौरान मंदिरों में आमजन के प्रवेश को वर्जित रखने में सहमति जताई तथा देशनोक स्थित करणी माता मंदिर सहित अन्य मंदिरों को नवरात्रि के दौरान बंद रखने के आदेश भी जारी कर दिए हैं।
जिला कलक्टर ने आह्वान किया कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए रमजान माह के दौरान मुस्लिम समाज भी ऐसे कदम उठाए, जो संक्रमण के फैलाव को रोकने में सहायक हों।
नगर निगम आयुक्त ए एच गौरी ने कहा कि रमजान के दौरान लोग घरों में ही नमाज अता करें तथा स्वप्रेरित होकर दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि कोरोना की वर्तमान परिस्थितियों में जीवन रक्षा के लिए ऐसा करना बेहद जरूरी है। इससे हम स्वयं तथा दूसरों को भी कोरोना जैसी संक्रामक बीमारी से बचा सकते हैं।
अतिरिक्त कलक्टर (नगर) अरुण प्रकाश शर्मा ने गत वर्ष रमजान के दौरान मुस्लिम समाज के लोगों द्वारा आगे आकर मस्जिदों को अस्थाई रूप से प्रभावी तरीके से बंद करवाए जाने की सराहना की तथा एक बार फिर इस दिशा में सकारात्मक सहयोग की अपील की।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (शहर) शैलेन्द्र सिंह इन्दोलिया ने कहा कि कोरोना संक्रमण जिस गति से फैल रहा है, ऐसे में हम सभी का दायित्व बनता है कि हम अपनी जिम्म्मेदारी समझें और ऐसे निर्णय लें, जो जनजीवन की रक्षा के लिए जरूरी हों।
बैठक के दौरान मस्जिद प्रतिनिधियों ने कोविड के खिलाफ सामूहिक प्रयासों में पूर्व की भांति प्रभावी सहयोग का भरोसा दिलाया। उन्होंने कहा कि आमजन के स्वास्थ्य की रक्षा सर्वोपरि है। इसे देखते हुए जल्दी ही सर्वसम्मत निर्णय लिया जाएगा।
बैठक में पुलिस वृताधिकारी सुभाष शर्मा सहित पुलिस-प्रशासन के अन्य अधिकारी मौजूद थे।

जिला प्रशासन और प्रमुख मस्जिद प्रतिनिधियों के बीच रमजान को लेकर बैठक आयोजित prachina in article 1

COMMENTS

You cannot copy content of this page