जिला कलक्टर ने किया कार्यों का औचक निरीक्षण , उदासर के ग्राम विकास अधिकारी को चार्जशीट

2 Min Read

बीकानेर। जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने उदासर के ग्राम विकास अधिकारी को चार्जशीट देने तथा मेट को माप-जोख संबधी प्रशिक्षण दोबारा देने के निर्देश दिए हैं।
जिला कलक्टर ने मंगलवार को उदासर में ग्रामीण विकास एवं पंचायत राज विभाग के विभिन्न कार्यों का निरीक्षण किया। ग्राम पंचायत के निरीक्षण के दौरान यहां का रिकॉर्ड अपडेट नहीं मिला। अनेक पत्रावलियां महीनों से संधारित नहीं की गई। इसके अलावा ग्राम विकास अधिकारी की उपस्थिति संबंधी सूचना भी मुख्य दीवार पर अंकित नहीं करवाई गई। इसे गंभीरता से लेते हुए जिला कलक्टर ने ग्राम विकास अधिकारी चिरंजीव शर्मा को चार्जशीट देने के निर्देश दिए। साथ ही समस्त प्रकार का रिकॉर्ड अविलम्ब अपडेट करते हुए सूचित करने के लिए निर्देशित किया।
जिला कलक्टर ने उदासर में मनरेगा के तहत प्रगतिरत खाला सुदृढ़ीकरण और ग्रेवल सड़क निर्माण कार्य का निरीक्षण किया। मेट को कार्य का माप करने के निर्देश दिए लेकिन दोनों स्थानों पर मेट यह कार्य सही तरीके से नहीं कर पाए, इसे गंभीरता से लेते हुए उन्होंने अधिकारियों को इस कार्य की नियमित मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए। साथ ही ऐसे सभी मेट को अगले सात दिनों में दोबारा प्रशिक्षण देने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने दोनों कार्य स्थलों पर नियोजित श्रमिकों, मस्टररोल, भुगतान, मेडिकल किट, छाया एवं पानी आदि की समीक्षा की।
बच्चों को दी मन लगाकर पढ़ने की सीख
जिला कलक्टर ने उदासर के राजकीय प्राथमिक विद्यालय में कमरों और बरामदा निर्माण कार्य का निरीक्षण किया तथा पूर्ण गुणवत्ता रखने के निर्देश दिए। उन्होंने बच्चों से बातचीत की तथा पाठ पढ़वाया। साथ ही बच्चों को मन लगाकर पढ़ने की सीख दी। जिला कलक्टर ने आंगनबाड़ी केन्द्र का निरीक्षण किया तथा शक्ति दिवस के अवसर पर वितरित की जाने वाली आयरन गोलियों के अलावा खाद्यान्न के उठाव एवं वितरण की जानकारी ली। उन्होंने राधा देवी पत्नी सोहन राम को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत स्वीकृत आवास की प्रगति का जायजा लिया।
इस दौरान अधिशाषी अभियंता धीर सिंह गोदारा, विकास अधिकारी सम्पत गोदारा सहित अन्य अधिकारी साथ रहे।

Share This Article