10 हजार श्रमिको ले लिए जिला कलेक्टर ने दिए अहम निर्देश

10 हजार श्रमिको ले लिए जिला कलेक्टर ने दिए अहम निर्देश  10 हजार श्रमिको ले लिए जिला कलेक्टर ने दिए अहम निर्देश

बीकानेर। जिला कलेक्टर नमित मेहता ने कहा कि महात्मा गांधी नरेगा योजना में जो कार्य संचालित हो रहे हैं, उन कार्यों में 50 प्रतिशत कार्यों पर महिला मेट नियोजित होनी चाहिए। इसके लिए विकास अधिकारी समय-समय पर अपनी नियमित दौरे के दौरान यह सुनिश्चित करेंगे जिन कार्यों पर महिला श्रमिक कार्यरत है, तो उनमें से किसी एक शिक्षित महिला को महिला मेट बनाने के आदेश मौके पर ही देने होंगे। मेहता शनिवार को ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग की योजनाओं की समीक्षा बैठक में बोल रहे थे।
मेहता ने कहा कि सभी विकास अधिकारी यह भी सुनिश्चित कर लें की पंचायत समिति द्वारा होने वाले विभिन्न कार्यों में वर्तमान में कोई नया निर्माण कार्य स्वीकृत नहीं किया जाएगा। पूर्व में चल रहे कार्य समय सीमा में पूर्ण हो जाए, यह भी सुनिश्चित कर लें। उन्होंने कहा कि पालनहार योजना तथा विधवा पेंशन योजना में जो पात्र लोग हैं, उन सबको समय पर पेंशन मिलती रहे तथा पालनहार योजना में बच्चे नियमित रूप से स्कूल जा रहे हैं यह भी समय-समय पर निरीक्षण के दौरान जांच की जावे। उन्होंने कहा कि सभी विकास अधिकारी यह भी रिव्यू करें कि सीमांत क्षेत्र विकास योजना के तहत ऐसा कोई कार्य तो पेंडिंग नहीं है जो 2 वर्ष पूर्व स्वीकृत हुआ था और अब तक पूर्ण नहीं हुआ है अगर इस तरह का कोई कार्य हो तो उसे तत्काल पूर्ण किया जाए।
जिला कलेक्टर ने बैठक में उपस्थित सभी अधिकारियों से कहा कि सिमांत क्षेत्र विकास योजना (ठ।क्च्) सहित अन्य योजनाओं में जिस समय कार्य स्वीकृत होते हैं, उस वक्त जितनी धनराशि व्यय करने का प्रावधान रहता है। उससे अधिक राशि किसी भी सूरत में खर्च नहीं की जावे। उन्होंने कहा कि अगर किसी कार्यकारी एजेंसी द्वारा स्वीकृत धनराशि से अधिक खर्च की जाती है तो ऐसे में कार्यकारी एजेंसी के अधिकारी के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई अमल में लाई जावेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी ऐसे कार्यो की सी.सी. भी जिला परिषद को शीघ्र भेजे।
टाइमलाइन से हो कार्य, प्रत्येक पंचायत समिति में 10 हजार श्रमिक हो नियोजित
जिला कलेक्टर ने कहा कि पंचायत समिति स्तर पर होने वाले सभी निर्माण कार्य टाइमलाइन पर पूर्ण हो जाने चाहिए। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना और स्वच्छ भारत मिशन के तहत पूर्व में स्वीकृत सभी कार्य निश्चित समय में पूर्ण करने के लिए भी विकास अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी विकास अधिकारी यह भी सुनिश्चित करें कि प्रत्येक पंचायत समिति में 10 हजार श्रमिक मनरेगा में 22 सितम्बर मंगलवार तक नियोजित हो जाने चाहिए।
उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा कि जन सूचना पोर्टल पर ऑनलाइन एंट्री करने का कार्य भी शीघ्र पूर्ण कर लिया जाए। साथ ही जन आधार कार्ड का कार्य भी सभी ई-मित्र केंद्रों पर व्यवस्थित रूप से चलता रहे, इसकी निगरानी भी करेंगे। उन्होंने विकास अधिकारीयो से कहा कि वह पंचायत समिति स्तर पर हर 15 दिन से बैठक कर संपूर्ण योजनाओं को रिव्यू करे। बैठक में मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद नरेंद्र पाल सिंह सहित सभी पंचायत समितियों के विकास अधिकारी तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

10 हजार श्रमिको ले लिए जिला कलेक्टर ने दिए अहम निर्देश prachina in article 1

COMMENTS