पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव को लेकर जिला कलेक्टर ने दिए निर्देश

पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव को लेकर जिला कलेक्टर ने दिए निर्देश  पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव को लेकर जिला कलेक्टर ने दिए निर्देश bikaner jila clectr

बीकानेर,  जिला निर्वाचन अधिकारी नमित मेहता ने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव के कार्य को सुव्यवस्थित ढंग से सम्पादित कराने के लिए उपखंड अधिकारी व विकास अधिकारी अपने कार्य में गति लाएं एवं जो कार्य उन्हें सौपे गए है उन्हें निर्धारित समय में सम्पादित करना सुनिश्चित करंे।
जिला निर्वाचन अधिकारी मंगलवार  को राजीव गांधी सेवा केन्द्र में पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव 2020 की तैयारी के लिए सभी उपखंड अधिकारी व विकास अधिकारियों को वीसी में आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा कि निर्वाचन के दायित्वों का निर्वाह पूर्ण संवेदनशीलता व कर्तव्य निष्ठा से करें।
आदर्श आचार संहिता की हो पालना
उन्होंने कहा कि निर्वाचन विभाग के सभी दिशा-निर्देशों को अधिकारी सूक्ष्म स्तर पर अध्ययन करें, जिससे सभी कार्य निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों के अनुरूप किए जा सकें। उन्होंने कहा कि चुनाव से जुड़े प्रशासनिक अधिकारी आपस में समन्वय स्थापित कर कार्य करें। निर्वाचन से संबंधित सभी विधि संबंधी आदेश की पालना अक्षरशः हो, इसमें किसी भी स्तर पर कोताही नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि चुनाव कार्यक्रम की घोषणा के साथ ही आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। संबंधित पंचायत क्षेत्रों में आदर्श आचार संहिता भी तुरन्त प्रभाव से लागू हो गई है। उन्होंने बताया कि संबंधित पंचायती राज संस्थाओं में विभिन्न विभागों के विकास कार्य जिसके कार्यादेश आचार संहिता के प्रभाव में आने से पूर्व ही जारी किए जा चुके हंै या जो विकास कार्य पूर्व से ही चल रहे हैं, वे सभी आचार संहिता से प्रभावित नहीं होंगे। नई स्कीम, नए विकास कार्य एवं नए कार्यादेश आचार संहिता के लागू होने के बाद पूर्णतया प्रतिबंधित रहेंगे। सभी अधिकारी इसकी पालना सुनिश्चित करेंगे।
जिला निर्वाचन अधिकारी मेहता ने कहा कि 6 सितंबर तक जो फॉर्म उन्हें उपलब्ध हुए हैं उन सब का निस्तारण 16 सितंबर तक आवश्यक रूप से कर दें । साथ ही उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा कि चुनाव के दौरान कोविड-19 की गाइडलाइन की पूर्ण पालना होनी चाहिए। मतदान करने जब मतदाता पहुंचे तो वहां उनके लाइन में खड़े होने वाले स्थान पर गोले बने हुए होने चाहिए और सैनिटाइजर भी मतदान केंद्रों पर रहे यह भी सुनिश्चित कर लिया जाए। उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा कि वे आपस में समन्वय स्थापित करते हुए टीम भावना से कार्य करें।
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में अतिरिक्त जिला कलक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी एएच गोरी उपखंड अधिकारी बीकानेर मीनू वर्मा, उपनिदेशक सूचना प्रौ़द्योगिकी सत्येंद्र सिंह राठौड़ सहित चुनाव से जुड़े अधिकारी जिला मुख्यालय पर स्थित राजीव गांधी सेवा केंद्र में तथा 6 पंचायत समिति क्षेत्र के उपखंड अधिकारी और विकास अधिकारी अपने-अपने उपखंड मुख्यालय से वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से जुड़े थे।
प्रकोष्ठों का गठन-जिला निर्वाचन अधिकारी नमित मेहता ने एक आदेश जारी कर, ग्राम पंचायतों के निर्वाचन को सुचारू और व्यवस्थित ढंग से सम्पन्न कराने के लिए 24 प्रकोष्ठों का गठन कर, अधिकारियों को चुनाव संबंधी जिम्मेदारी दी है।
उन्होंने बताया कि निर्वाचन प्रकोष्ठ, कानून व्यवस्था प्रकोष्ठ, जोनल, सैक्टर, एरिया मजिस्टेªट नियुक्ति प्रकोष्ठ, नियुक्ति प्रकोष्ठ, प्रशिक्षण प्रकोष्ठ, ईवीएम प्रकोष्ठ, इलेक्शेन मैनेजमेंट, डिप्लोयमेंट, कम्युनिकेशन प्लान प्रकोष्ठ, सामान्य व्यवस्था प्रकोष्ठ, आदर्श आचरण संहिता पालना प्रकोष्ठ, इलेक्शन एक्सपेन्डिचर माॅनिटरिंग प्रकोष्ठ, मतपत्र मुद्रण प्रकोष्ठ, यातायात, वाहन प्रकोष्ठ, निर्वाचन भंडार, लेखा प्रकोष्ठ, विडियोग्राफी, फोटोग्राफी प्रकोष्ठ, रूट चार्ट एवं चैक पोस्ट प्रकोष्ठ, पर्यवेक्षक समन्वय प्रकोष्ठ, नियंत्रण कक्ष, काॅल सेन्टर, पूछताछ प्रकोष्ठ, सांख्यिकी एवं सूचना संप्रेषण प्रकोष्ठ, मीडिया प्रकोष्ठ, अल्पाहार व पीओएल प्रकोष्ठ, स्वीप एवं मतदाता सहायता प्रकोष्ठ, आईटी, डाटा अपलोडिंग प्रकोष्ठ, निर्देशिका मुद्रण प्रकोष्ठ, मतदान कार्मिक परिचय पत्र प्रकोष्ठ आदि का गठन किया गया है।

पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव को लेकर जिला कलेक्टर ने दिए निर्देश prachina in article 1

COMMENTS