बीकानेर

जिला कलेक्टर ने कोविड संक्रमण रोकथाम के मद्देनजर वीडियो कांफ्रेंसिंग कर दिये निर्देश

बीकानेर। जिला कलेक्टर नमित मेहता ने कहा कि जिले में वर्तमान में करीब 2 लाख 25 हजार लोगों की कोविड वैक्सीनेशन की दूसरी डोज ड्यू है।
मेहता ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट सभागार में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से उपखंड अधिकारियों को ऐसे समस्त लोगों को ट्रेक करवाते हुए शत प्रतिशत वैक्सीनेशन सुनिश्चित करवाने के निर्देश दिए। साथ ही लोगों से स्वयं आगे आकर अपनी दूसरी डोज लगवाने की भी अपील की।
मेहता ने कहा कि आवश्यकता हो तो डोर टू डोर वैक्सीन लगवाने की व्यवस्था करें।15-17आयुवर्ग के वैक्सीनेशन में भी तेजी लाएं। स्कूलों में विशेष कैंप लगाकर कार्य करें। साथ ही सभी फ्रंटलाइन वर्कर्स और पात्र व्यक्तियों को प्रिकॉशन डोज लगवाने के काम को भी गति दी जाए।
एक स्थान पर अधिक मरीज आने की स्थिति में कंटेनमेंट या मिनी कंटेनमेंट जोन बनाया जाए। सभी ब्लॉक पर ऑक्सीजन सिलेंडर भरे हुए स्थिति में रखे जाना सुनिश्चित किया जाए।

कंट्रोल रूम में उपस्थित रहे जिम्मेदार अधिकारी

जिला कलेक्टर नमित मेहता ने कहा कि जिले की समस्त उपखंडों में स्थापित कंट्रोल रूम राउंड द क्लॉक ड्यूटी काम करें तथा जिम्मेदार अधिकारी उपस्थित रहें। जिला कलेक्टर ने ग्रामीण क्षेत्र में रेण्डम सेंपलिंग के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि चैक पोस्ट पर तीन कार्मिकों की राउंड द क्लॉक ड्यूटी रहे।

मेहता ने कहा जेईटी भीड़ भाड़ वाले क्षेत्रों की रोजाना भ्रमण करें और रिपोर्ट भेजें। गाइडलाइन की अनुपालना नहीं होने पर सीज और जुर्माना लगाया जाए। शादियों के आगामी सीजन को देखते हुए सख्ती बरती जाए। जिला कलेक्टर ने कहा कि रात्रि कर्फ़्यू की सख्ती से पालना हो ,साथ ही पुलिस चालान आदि की भी प्रतिदिन रिपोर्ट प्रस्तुत की जाए।
उपखंड अधिकारियों को बड़े धार्मिक स्थल संचालकों के साथ शुक्रवार को बैठक करने के निर्देश देते हुए जिला कलेक्टर ने कहा कि सभी संचालकों को राज्य सरकार द्वारा जारी एस ओ पी की जानकारी दी जाए। जिला कलेक्टर ने प्रत्येक ब्लॉक पर एक कोविड केयर सेंटर तैयार करने के भी निर्देश दिए।

डेयरी बूथ खोलने में ना आए परेशानी

जिला कलेक्टर नमित मेहता ने मुख्यमंत्री बजट घोषणा के अनुरूप स्थापित किए जाने वाले डेयरी बूथ के प्रकरणों को समन्वय करते हुए निस्तारित करवाने के निर्देश दिए। जिला कलेक्टर ने खराबा रिपोर्ट की अगले 2 दिन में एंट्री करने के भी निर्देश दिए। बैठक में सीईओ जिला परिषद नित्या के ने पहचान पोर्टल और जन्म मृत्यु पंजीकरण के डाटा अगले दो दिन में उपलब्ध करवाने की बात कही। उन्होंने कहा कि ओडीएफ प्लस के कार्य को विकास अधिकारी सर्वोच्च प्राथमिकता दें। बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर प्रशासन बलदेव राम धोजक, उपखंड अधिकारी अशोक कुमार, वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी योगेन्द्र तनेजा सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहें।

What's your reaction?

Leave A Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *