जिला कलेक्टर ने पिथरासर, जयसिंहदेसर मगरा, ढींगसरी में किया निरीक्षण , दिए निस्तारण के निर्देश

जिला कलेक्टर ने पिथरासर, जयसिंहदेसर मगरा, ढींगसरी में किया निरीक्षण ,  दिए निस्तारण के निर्देश  जिला कलेक्टर ने पिथरासर, जयसिंहदेसर मगरा, ढींगसरी में किया निरीक्षण ,  दिए निस्तारण के निर्देश IMG 20210217 WA0073

जिला कलेक्टर ने पिथरासर, जयसिंहदेसर मगरा, ढींगसरी में किया निरीक्षण ,  दिए निस्तारण के निर्देश mr bika fb post

बीकानेर। जिला कलक्टर नमित मेहता ने बुधवार को पिथरासर, जयसिंहदेसर मगरा, ढींगसरी में विभिन्न विकास कार्यों का निरीक्षण किया। इस दौरान मेहता ने जनसुनवाई की तथा आमजन के अभाव अभियोग सुनकर मौके पर ही अधिकारियों को समस्याओं का निस्तारण करने के निर्देश दिए। पिथरासर में आमजन के अभाव अभियोग सुनने के दौरान ग्रामीणों द्वारा एक उच्च जलाशय व ट्यूबवैल खुदवाने की मांग पर जिला कलक्टर ने पीएचईडी द्वारा इसकी जांच के बाद फिजीबल होने पर कार्य करवाने के निर्देश दिए।
जनसुनवाई के दौरान ग्रामीणों ने ढीले तार और वोल्टेज की समस्या बताई , इस पर जिला कलक्टर ने ढीले तार एक सप्ताह में कसवाने के निर्देश दिए। वोल्टेज समस्या से निजात के लिए जिला कलक्टर ने कहा कि वोल्टेज की समस्या के निदान के लिए नए जीएसएस का तकमीना बनाकर राज्य सरकार को भिजवाया जाएगा। ग्रामीणों ने जिला कलक्टर से यहां स्थित 10 वीं स्कूल को उच्च माध्यमिक विद्यालय तक क्रमोन्नत करने की मांग की, जिससे बच्चों को स्थानीय स्तर पर ही आगे की शिक्षा मिल सके। इस पर जिला कलक्टर ने इस सम्बंध में प्रस्ताव बनाकर भेजे जाने के निर्देश दिए।
जिला कलक्टर मेहता ने कहा कि यदि पिथरासर ग्राम पंचायत पशुपालन विभाग को भूमि उपलब्ध करवा दें तो यहां पशु उप स्वास्थ्य केन्द्र खोलने के प्रयास किए जाएंगे। पिथरासर में ही स्थित मंदिर के आसपास की भूमि पर अवैध खनन रोकने के सम्बंध में ग्रामीणों ने मांग की। इस पर जिला कलक्टर ने कहा कि इस सम्बंध में बुधवार को जांच कर तथ्यात्मक रिपोर्ट प्रस्तुत करें तथा सम्बंधित के विरूद्ध कार्यवाही के निर्देश दिए। ग्रामीणों द्वारा पिथरासर से बंधड़ा तक का रास्ता खुलवाने की मांग पर जिला कलक्टर ने तहसीलदार को नियमानुसार रास्ता खुलवाने के  निर्देश दिए।

जिला कलेक्टर ने पिथरासर, जयसिंहदेसर मगरा, ढींगसरी में किया निरीक्षण ,  दिए निस्तारण के निर्देश prachina in article 1

गौशाला का किया निरीक्षण
जिला कलक्टर मेहता ने विष्णु कन्हैया गौ सेवा समिति द्वारा संचालित गौशाला का निरीक्षण किया। इस गौशाला में 200 गायों की देखभाल की जा रही है। समिति के पदाधिकारियों ने अनुदान दिलवाने की मांग की। इस पर जिला कलक्टर ने कहा कि अनुदान के नियम के तहत दो वर्ष तक गौशाला का संचालन आवश्यक होता है। दो वर्ष पूर्ण होने पर अनुदान के लिए आवेदन करें, अनुदान स्वीकृत किया जाएगा।
जयसिंह देसर मगरा में आयोजित जनसुनवाई में ग्रामीणाों ने कहा कि पिछलेे सात वर्षों से पशु चिकित्सक का पद रिक्त चल रहा है। इस पर जिला कलक्टर ने कहा कि अस्थायी व्यवस्था के तहत जांगलू से सप्ताह में दो दिन पशु चिकित्सक यहां ड्यूटी पर आए। स्थानीय ग्रामीण व जनप्रतिनिधियों द्वारा यहां आबादी भूमि के विस्तार की मांग पर जिला कलक्टर ने तहसीलदार को कहा कि आबादी भूमि जनसंख्या के अनुपात में है अथवा नहीं इसका परीक्षण करने के निर्देश दिए। अराजीराज भूमि पर कब्जे की शिकायत पर जिला कलक्टर मेहता ने तत्काल प्रभाव से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही के निर्देश भी दिए।

जल जीवन मिशन के तहत होेंगे कार्य
जिला कलक्टर ने कहा कि जयसिंहदेसर मगरा में जलजीवन मिशन के तहत घर-घर पानी के कनेक्शन व पाईपलाइन बदलने व ट््यूबवैल स्वीकृति के कार्य किए जाएंगे। जिला कलक्टर ने कहा कि यहां सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बनाने के प्रस्ताव पर भी विचार किया जाएगा।
जिला कलक्टर मेहता जयसिंह मगरा में मनरेगा के तहत बनाए जा रहे पक्के तालाब कार्य का निरीक्षण करते हुए इसे माॅडल तालाब के रूप में विकसित करने और आसपास के क्षेत्र के सौन्दर्यकरण के निर्देश दिए। यहां उन्होंने मनरेगा में नियोजित श्रमिकों से भुगतान के सम्बंध में जानकारी ली।
ढींगसरी में जनसुनवाई के दौरान ग्रामीणों द्वारा  मिसिंग लिंक सड़क की मांग पर उन्होंने कहा की  कुछ स्थानों पर सड़क का निर्माण करवाना रह गया है । इसके  प्रस्ताव बनाकर भेजें ताकि सड़क बनाने का कार्य स्वीकृत करवाया जा सके।  ग्रामीणों ने गांव में जब बालिका विद्यालय खोलने की मांग कि तो जिला कलक्टर ने
कहा कि विद्यालय खोलने के प्रस्ताव ग्राम पंचायत के माध्यम से भेजे जाएं।उचित स्तर पर कार्रवाई करवाने के लिए लिखा जाएगा। उन्होंने ग्रामीणों को बताया कि जल जीवन मिशन योजना के तहत इस गांव में दो करोड़ 51 लाख रुपए की स्कीम तैयार हो रही है जल्द ही इस योजना के तहत कार्य प्रारंभ किए जाएंगे।
जनसुनवाई के दौरान ग्रामीणों ने खेल मैदान विकसित करवाने की बात भी कही । इस पर मेहता ने विकास अधिकारी को निर्देश दिए कि खेल मैदान के निर्माण के प्रस्ताव बनाए जाएं, वही मनरेगा के तहत 1 किलोमीटर की सीसी रोड बनाने व पंचायत भवन नया बनाने की मांग पर जिला कलेक्टर ने मुख्य कार्यकारी जिला परिषद को निर्देश दिए कि दोनों ही कार्य की वस्तुस्थिति से अवगत करवाते हुए तकमीना बनाया जाए।
उन्होंने कहां की खाद्य सुरक्षा योजना के तहत वर्तमान में सरकार स्तर पर हुए निर्णय के तहत अपात्र व्यक्तियों के नाम हटाने की कार्रवाई की जा रही है। जैसे ही सरकार द्वारा वंचित लोगों के नाम जोड़ने का कार्य प्रारंभ करने के लिए परिपत्र जारी किया जाएगा,तब इस गांव के वंचित रहे लोगों के नाम भी जोड़े जाएंगे, उन्होंने यह बात जन सुनवाई के दौरान ग्रामीणों द्वारा खाद्य सुरक्षा योजना में नाम नहीं जोड़ें होने की शिकायत पर कहीं।
इस अवसर पर प्रशिक्षु आईएएस कनिष्क कटारिया, अधिशाषी अभियंता मनीष पूनिया, जयसिंह देसर मगरा की सरपंच बिरजू देवी, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद ओम प्रकाश, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक एल डी पंवार, डीएसओ भागू राम मेहला, तहसीलदार द्वारका प्रसाद, अधीक्षण  अभियंता सार्वजनिक निर्माण डी पी सोनी, उप निदेशक कृषि कैलाश चैधरी, संयुक्त निदेशक पशुपालन ओ पी किलानिया सहित विभिन्न अधिकारी उपस्थित थे।

COMMENTS