जिला कलेक्टर ने कोविड प्रभारी प्रवीण गुप्ता के साथ क्वारंटाइन सेंटर का किया निरीक्षण

जिला कलेक्टर ने कोविड प्रभारी प्रवीण गुप्ता के साथ क्वारंटाइन सेंटर का किया निरीक्षण  जिला कलेक्टर ने कोविड प्रभारी प्रवीण गुप्ता के साथ क्वारंटाइन सेंटर का किया निरीक्षण IMG 20200523 WA0018

आयुक्त विभागीय जांच व बीकानेर कोविड प्रभारी प्रवीण गुप्ता ने और जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम के साथ शनिवार को स्टेट क्वैरंटाइन  सेंटर संपत पैलेस और होम क्वैरंटाइन में रह रहे लोगों का निरीक्षण किया।
दोनों अधिकारी  संपत पैलेस में बनाए गए स्टेट क्वॉरेंटाइन सेंटर पहुंचे और व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस अवसर पर प्रवीण गुप्ता ने सेंटर पर पहुंचाए गए खाने की गुणवत्ता की जांच की और कहा कि यहां रह रहे लोगों को उत्तम गुणवत्ता का खाना पहुंचाना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि क्वॉरेंटाइन में रखे जाने के दौरान साफ-सफाई आदि का भी विशेष ध्यान रखा जाए। लोगों को किसी तरह की दिक्कतों का सामना ना करना पड़े यह भी सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि बीमारी  के संक्रमण संभावनाओं को समाप्त करने के लिए यहां रह रहे लोगों का मनोबल ना टूटे इसके लिए सभी व्यवस्थाएं चाक-चैबंद रखी जाए और उन्हें किसी भी तरह की परेशानी ना हो।
गुप्ता ने इस क्षेत्र में होम क्वॉरेंटाइन रखे गए लोगों का भी निरीक्षण किया और अधिकारियों को निर्देश दिए कि यह सुनिश्चित किया जाए कि क्वॉरेंटाइन अवधि पूरी होने से पहले कोई व्यक्ति या प्रवासी अपने आवास से बाहर नहीं निकले। उन्होंने क्वॉरेंटाइन किए गए लोगों के घरों के बाहर चस्पा किए गए नोटिस  को देखा और आस-पड़ोस के लोगों से भी पूरी निगरानी रखने की बात कही।

गुप्ता ने श्रीडूंगरगढ़ में भी लिया जायजा, दिए निर्देश
गुप्ता ने श्री डूंगरगढ़ उपखंड अधिकारी कार्यालय में अधिकारियों की बैठक ली और उन्हें आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए कहा कि होम क्वैरंटाइन में रहने वाले लोग किसी भी स्थिति में 14 दिन से पहले घर से बाहर नहीं निकले। अधिकारी चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों के साथ समन्वय स्थापित कर नियमित रूप से स्वास्थ्य का चेकअप करवाएं।उन्होंने कहा कि बाहर से आने वाले प्रवासियों का  चेक पोस्ट पर भी स्वास्थ्य परीक्षण और बेहतर तरीके से करें ताकि अगर किसी का स्वास्थ्य खराब हो तो चेक पोस्ट से ही उसे अस्पताल में भर्ती करवा दिया जाए अथवा इलाज प्रारंभ कर घर में ही होमवर्क क्वैरंटाइन कर दें।

उन्होंने उपखंड अधिकारी राकेश नोएल से कहा कि क्षेत्र में मनरेगा के तहत अधिकाधिक कार्य प्रारंभ किया जाए तथा बाहर से आने वाले मजदूरों को भी मनरेगा पर रोजगार उपलब्ध करवाया जाए। मजदूरी ठीक से आए इसका भी ध्यान रखा जाए तथा गर्मी के मौसम में मनरेगा कार्य पर छाया पानी और चिकित्सा की सुविधा उपलब्ध रहनी चाहिए।

चेक पोस्ट की कार्यप्रणाली भी देखी
प्रवीण गुप्ता ने श्रीडूंगरगढ़ तक आने वाले चेक पोस्टों का भी निरीक्षण कर वहां की संपूर्ण कार्यप्रणाली को देखा तथा उपखंड अधिकारी से कहा कि चेक पोस्ट पर भी सभी सुविधाएं बेहतर तरीके से मिलती रहे। यहां कार्य करने वाले कर्मचारी खुद के स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखते हुए यह सुनिश्चित करें कि एक भी संक्रमित व्यक्ति जिले की सीमा में प्रवेश ना कर पाए ताकि कम्युनिटी स्प्रेड के खतरे से बचा जा सके।

COMMENTS