जिला कलक्टर ने साप्ताहिक समीक्षा बैठक में दिए निर्देश

जिला कलक्टर ने साप्ताहिक समीक्षा बैठक में दिए निर्देश  जिला कलक्टर ने साप्ताहिक समीक्षा बैठक में दिए निर्देश IMG 20190701 WA0024

बीकानेर,। जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने कहा कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत जिले में पात्र व्यक्तियों के भौतिक सत्यापन मिशन मोड पर कर लाभान्वित किया जाए। गौतम ने सोमवार को साप्ताहिक समीक्षा बैठक में यह बात कही।
गौतम ने कहा कि शहरी क्षेत्र में नगर निगम तथा ग्रामीण क्षेत्र में पंचायत समिति इस सम्बंध में अपने कर्मचारियों को योजना के तहत पात्र व्यक्तियों के भौतिक सत्यापन करने के लिए एक दिन तय कर दें। निर्धारित दिन सभी कर्मचारी अपने-अपने क्षेत्र में जाकर पात्र व्यक्तियों का भौतिक सत्यापन कर बकाया प्रकरणों को निस्तारण करते हुए पात्र को योजना से जोड़ने का कार्य करेंगे। उन्होंने कहा कि इस कार्य में कोई कोताही नहीं हो यह सुनिश्चित किया जाए।
जिला कलक्टर ने कहा कि सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग अपने यहां से चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के सम्बंध में डिजीटल कार्य को समयबद्ध रूप से पूर्ण करवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि राशन कार्ड, आधार कार्ड आदि के कार्य में आवेदकों को बिना वजह के इंतजार न करना पड़े। यदि उनके दस्तावेज में कोई कमी हो तो दस्तावेज उपलब्ध करवाने या सत्यापन के सम्बंध में सम्बंधित को तुरंत सूचना दी जाए। जिला कलक्टर ने कहा कि सम्बंधित संस्थाप्रधान विद्यार्थियों को छात्रवृति की मॉनिटरिंग करेंगे। सभी संस्थाप्रधानों की भी यह जिम्मेदारी होगी वे पात्र छात्रों से इस सम्बंध में फार्म भरवा कर जमा करवाएं।
आधार कार्ड बनवाने में सम्बंध में निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि आधार कार्ड बनवाने के लिए और केन्द्र खोले जाएं। इसके लिए प्रशिक्षण देकर ऐसे नए सेंटर खोलें जहां आधार कार्ड बनवाए जा सकें। इससे युवाओं को रोजगार मिलेगा ही साथ ही आमजन को आधार कार्ड बनवाने में सुविधा मिल सकेगी।
जिला कलक्टर ने कहा कि जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी विभाग बीएसएफ कैम्पस में पानी पहंुचाने के लिए कार्ययोजना बनाकर प्रस्तुत करें। जिला कलक्टर ने कहा कि सांसद व विधायक कोष के कार्र्याें की समीक्षा वे स्वयं करेंगे। भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु अधिकारी को उन्होंने इन योजनाओं के तहत अब तक शहरी क्षेत्र में स्वीकृत व स्वीकृति के बावजूद अब तक प्रारम्भ नहीं हुए कार्यों को रिपोर्ट देने के निर्देश दिए। जबकि ग्रामीण क्षेत्रों बीडीओ व एसडीएम इस कार्य को देंखेंगे।
गौतम ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से कहा कि नापासर में महिला चिकित्सक को तत्काल लगाया जाए, जिले में किसी अन्यत्र स्थान से किसी महिला चिकित्सक को भेजा जाए। साथ ही इस सम्बंध में भामाशाह से सम्पर्क कर किसी महिला चिकित्सक की नियुक्ति के सम्बंध में भी संभावना तलाशी जाए।
पीडब्ल्यूडी, यूआईटी, आरयूआईडीपी तथा नगर निगम व पीएचईडी के अभियंता प्रत्येक सोमवार को समन्वय बैठक आयोजित कर शहर में चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा करेंगे तथा आपस में सामंजस्य करते हुए कार्य करेंगे, जिससे सड़क न टूटे तथा कार्य गुणवता के साथ पूर्ण हों। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में कार्य की स्वीकृति के साथ ही मस्टरोल जारी कर दिए जाएं ताकि कार्य समय पर प्रारम्भ हो सके और पात्र को आवास निर्माण का उचित लाभ समय पर मिल सके। पीएमएवाई की प्रगति के लिए उपखंड व बीडीओ स्वयं भौतिक सत्यापन करेंगे। उन्होंने मनरेगा के तहत पौधारोपण की कार्ययोजना बनाकर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि जिले के सभी सरकारी स्कूलों में छात्राओं को आत्मरक्षा की ट्रेनिंग दी जाएगी। महिला अधिकारिता एवं शिक्षा विभाग शारीरिक शिक्षकों के माध्यम से आत्मरक्षा प्रशिक्षण की व्यवस्था करेंगे।
सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों का त्वरित निस्तारण करें
जिला कलक्टर ने कहा कि सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों की संख्या में कमी नहीं आ रही है। इस सम्बंध में समीक्षा करने पर पाया गया है कि प्रकरणों के निस्तारण में गंभीरता नहीं बरती जा रही है। उन्होंने कहा कि इस सम्बंध में कार्य प्रगति बढ़ाते हुए सम्पर्क प्रकरणों का गुणवतापरक निस्तारण करें। उन्होंने जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी को सख्त निर्देश दिए कि एक सप्ताह में सम्पर्क शिकायतों का गुणवतापरक निस्तारण हो। गौतम ने कहा कि एक सप्ताह के बाद भी यही स्थिति रहने पर चार्जशीट दी जाएगी। बैठक में विभिन्न विभागों के सम्बंधित अधिकारी उपस्थित थे।

COMMENTS

WORDPRESS: 0