बीकानेरराजस्थान

जिला कलेक्टर ने की प्रशासन गांवों के संग और प्रशासन शहरों के संग अभियान की तैयारियों की समीक्षा

बीकानेर। जिला कलेक्टर नमित मेहता ने शनिवार को श्रीडूंगरगढ़ में प्रशासन गांवों के संग और प्रशासन शहरों के संग अभियान की पूर्व तैयारियों की समीक्षा की। उपखण्ड अधिकारी कार्यालय में आयोजित बैठक के दौरान उन्होंने कहा कि 2 अक्टूबर से प्रारम्भ होने वाले अभियान का प्रभावी क्रियान्वयन तथा इनके माध्यम से अधिकतम लोगों को राहत पहुंचाना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। मुख्य सचिव स्तर पर इसकी समीक्षा की जा रही है। इसके मद्देनजर इससे जुड़े प्रत्येक अधिकारी-कर्मचारी इसकी गंभीरता तथा सरकार की अपेक्षा को समझे। प्रत्येक शिविर का समयबद्ध और प्रभावी तरीके से आयोजन सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि अभियान की सफलता में प्री-कैम्प्स की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण है। शहरी क्षेत्र में 15 सितंबर से प्री-केम्प प्रारम्भ हो गए हैं। वहीं ग्रामीण क्षेत्रों के लिए यह 20 सितंबर से शुरू होंगे। प्रत्येक विभाग के ब्लॉक स्तरीय अधिकारी प्री-कैंप में जाएं तथा समस्याओं का चिन्हीकरण करें। मुख्य शिविरों के दौरान इनके निस्तारण की कार्यवाही की जाए। उन्होंने 2 अक्टूबर से आयोजित होने वाले शिविरों की तिथियों एवं स्थान की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि शिविरों की तिथियों का व्यापक प्रचार-प्रसार तथा इनमें अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी हो। शिविरों में प्रतिदिन किए जाने वाले कार्यों रिपोर्टिंग भी निर्धारित फॉर्मेट में करनी होगी। जिला कलेक्टर ने प्रतिदिन आयोजित होने वाले शिविरों में संबंधित विभागों की योजनाओं का प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए तथा कहा कि शिविरों में बैठक, पानी, छाया आदि की माकूल व्यवस्था हो तथा कोविड एप्रोपिएट बिहेवियर की पालना सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ बैठकें करते हुए शिविरों में उनकी भागीदारी के प्रयास भी किए जाएं। उच्च अधिकारियों द्वारा इन शिविरों का समय-समय पर औचक निरीक्षण भी किया जाएगा, इसके मद्देनजर यह सुनिश्चित किया जाए कि शिविरों में सभी सम्बन्धित विभागों के अधिकारी रहें। उन्होंने कहा कि उपखण्ड अधिकारी द्वारा प्रतिदिन इसकी समीक्षा की जाए तथा नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी द्वारा शहरी और विकास अधिकारी द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के अभियान की मॉनिटरिंग की जाए। शिविर के दौरान कार्य सम्पादन में शिथिलता किसी भी स्तर पर सहन नहीं की जाएगी। उन्होंने विभिन्न विभागों द्वारा किए जाने वाले कार्यों की विभागवार समीक्षा की तथा इन कार्यों के माध्यम से आमजन को राहत पहुंचाने की तैयारियों के बारे में जाना।
इस दौरान उपखण्ड अधिकारी दिव्या चौधरी सहित विभिन्न ब्लॉक स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

What's your reaction?