राजस्थानबीकानेर

आगजनी जैसी दुर्घटनाओं से निपटने के लिए जिला कलेक्टर ने ली समन्वय बैठक

बीकानेर। जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने कहा कि आगजनी जैसी दुर्घटनाओं से निपटने के लिए नगर निगम अन्य एजेंसियों के साथ समन्वय करते हुए आवश्यकता पड़ने पर संसाधनों का बेहतर उपयोग सुनिश्चित करें।
जिला संकट स्थिति समूह की समीक्षा बैठक में जिला कलेक्टर ने कहा कि मॉक ड्रिल में सभी संबंधित विभाग अपना प्रतिनिधि भेजें। मॉक ड्रिल के दौरान सभी संबंधित एजेंसियां अपने यहां उपलब्ध संसाधनों तथा उपकरणों का प्रयोग सुनिश्चित करें ताकि इन उपकरणों के सक्रिय होने के संबंध में जानकारी मिल सके।
बैठक में आइओसीएल, निक लिग्नाइट, बीएस लिग्नाइट, बीपीसीएल सहित विभिन्न प्लांट्स प्रतिनिधियों द्वारा भंडारण क्षमता और सुरक्षा उपकरणों के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई।

जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद ने कहा कि नगर निगम आगजनी की दुर्घटनाओं से निपटने के लिए अपने संसाधन बढ़ाने की दिशा में काम करें। अन्य एजेंसियों के साथ समन्वय बढ़ाने पर भी जोर दें। दुर्घटना ना हो इसके लिए सतर्कता रहे। उन्होंने कहा आगजनी होने की स्थिति में यह संयुक्त जिम्मेदारी है कि उपलब्ध संसाधनों का अधिकतम उपयोग किया जा सके। उन्होंने कहा कि उच्च गुणवत्ता और नई तकनीक के उपकरण क्रय किए जाएं और नॉलेज शेयरिंग पर विशेष ध्यान दिया जाए। ऑफ साइट प्लान के संबंध में इमरजेंसी प्लान को अपडेट करने के निर्देश देते हुए जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने कहा कि सभी एजेंसियां अपने सेफ्टी प्लान को अपडेट करें तथा साल में एक बार मिलकर रणनीति बनाते हुए मॉक ड्रिल करें । जिला कलेक्टर ने सेफ्टी ऑडिट कराने, म्युचुअल ऐड एग्रीमेंट को रिवाइज करने सहित विभिन्न बिन्दुओं पर चर्चा की। बैठक में संबंधित एजेंसियों के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

What's your reaction?