राजस्थानबीकानेर

पशु पक्षी संरक्षण के तहत परिंडे लगाने का जिला स्तरीय अभियान

बीकानेर। जिला कलेक्टर श्रीमती नम्रता वृष्णि ने पशु पक्षी संरक्षण के जिला स्तरीय अभियान की शुरुआत बुधवार को कलेक्ट्रेट परिसर में परिंडे लगाकर की।
जिला कलेक्टर ने बताया कि भीषण गर्मी में पशु-पक्षियों के लिए पानी की व्यवस्था सरकारी कार्यालयों, मैदानों, पार्कों, गांवों व कस्बों में परिंडे व खेंलियां भरवाकर की जाएगी।

परिंडो में स्वच्छ पानी डालने व इनके रखरखाव की जिम्मेदारी संबंधित कार्यालय के कार्मिकों की होगी। अभियान के तहत जिला परिषद द्वारा गांवों एवं कस्बों में आवश्यकतानुसार दाना पात्र और सकोरे रखवाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि बेजुबान पक्षियों की सुरक्षा व संरक्षण हमारा कर्तव्य है। पेड़-पौधों व पशु-पक्षियों के संरक्षण के लिए हमें हर संभव कदम उठाना चाहिए।

उन्होंने आमजन को अभियान से जुड़ने और अपने घर की छतों पर पालसिया रख पक्षियों के लिए पानी डालने के अभियान में योगदान का आह्वान किया। इस दौरान उन्होंने अभियान के बैनर का विमोचन किया।

विभिन्न कार्यालय में हुई शुरुआत
जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सोहनलाल ने बताया कि पशु पक्षी संरक्षण अभियान के तहत जिले के विभिन्न कार्यालयों में परिंडों का वितरण किया गया। उन्होंने बताया कि यूआईटी, जिला परिषद, डाक बंगला सहित विभिन्न कार्यालयों में परिंडे भरकर रख दिए गए हैं। गांवों एवं कस्बों में भी स्थानीय दानदाताओं, भामाशाहों, सामाजिक संस्थाओं एवं ग्रामीणों को प्रेरित कर उनका सहयोग भी लिया जाएगा।

इस दौरान जिला परिषद के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी अवि गर्ग, एक्सईएन धीर सिंह गोदारा और राजेन्द्र बैरवा, सहायक अभियंता सुंदर लाल गोदारा और मनीष पूनिया, आईईसी कोऑर्डिनेटर गोपाल जोशी, सुनील जोशी, राम कुमार व्यास, मोहन लाल, स्काउट-गाइड और पुलिस के जवान आदि मौजूद रहे। जनसंपर्क कार्यालय में सहायक निदेशक हरि शंकर आचार्य और सहायक जनसंपर्क अधिकारी निकिता भाटी ने इसकी शुरुआत की।

What's your reaction?