बीकानेर

संभागीय आयुक्त ने की अवैध खनन और ओवरलोड वाहनों के खिलाफ कार्यवाही की समीक्षा

बीकानेर । संभागीय आयुक्त डॉ. नीरज के. पवन ने अवैध खनन और ओवरलोड वाहनों के खिलाफ कार्यवाही में और अधिक गति लाने के निर्देश दिए हैं।
संभागीय आयुक्त ने सोमवार को आयोजित बैठक के दौरान कहा कि जिले में अवैध खनन और ओवरलोड वाहनों की आवाजाही पर सख्त प्रतिबंध लगाया जाए, इसके लिए राजस्व, पुलिस, खनन और परिवहन विभाग के अधिकारी पूर्ण गंभीरता से कार्य करें।  प्रशासन द्वारा गठित टीमों के सदस्य फील्ड में रहें तथा मोबाइल टीमें क्विक रेसपोंस के साथ कार्य करें। वे स्वयं इस कार्यवाही का औचक निरीक्षण करेंगे तथा यदि कोई भी टीम सदस्य मौके पर नहीं मिला, तो संबंधित के विरूद्ध सख्त अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि जिले के सभी टोल नाकों द्वारा सीसीटीवी कैमरों का समूचा डाटा जिला प्रशासन को उपलब्ध करवाया जाए, जिससे ओवरलोड वाहनों आवाजाही होने की स्थिति में कार्यवाही की जा सके। उन्होंने प्रत्येक टीम के साथ पर्याप्त पुलिस जाब्ता तैानत करने के निर्देश दिए तथा कहा कि इसकी नियमित समीक्षा की जाएगी। उन्होंने अवैध खनन और ओवरलोड वाहनों के विरुद्ध अब तक की कार्यवाही को नाकाफी बताया।
पानी चोरी पर रखें प्रभावी नजर, हो त्वरित कार्यवाही
संभागीय आयुक्त ने कहा कि पूर्ण नहरबंदी के दौरान प्रभावी योजना और पारदर्शी तरीके से पेयजल वितरण किया जाए। इस दौरान निचले और दूरस्थ क्षेत्रों पर नियमित नजर रखें तथा इन क्षेत्रों में आवश्यकता के अनुसार टैंकरों के माध्यम से पेयजल आपूर्ति की व्यवस्था की जाए। आमजन को पेयजल को लेकर कोई परेशानी नहीं हो, यह सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने पेयजल सप्लाई की स्थिति के बारे में आमजन को अवगत करवाने के निर्देश दिए तथा जिले के सभी जल भंडारण स्त्रोतों की स्थिति की समीक्षा की। साथ ही पानी चोरी पर प्रभावी अंकुश लगाने के निर्देश दिए। इसके लिए पुलिस और विभागीय कार्मिकों को मुस्तैदी के साथ कार्य करने के निदेश दिए। उन्होंने आमजन से पेयजल का उपयोग पूर्ण मितव्ययता से करने का आह्वान भी किया है।
इस दौरान उन्होंने नियम विरूद्ध चल रहे डीजे वाहनों के विरूद्ध कार्यवाही करने के निर्देश दिए। साथ ही नगर निगम और सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के माध्यम से कचरा बीनने वाले बच्चों का सर्वे करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि चिन्हित बच्चों को विभिन्न योजनाओं का लाभ दिलाते हुए इन्हें समाज की मुख्यधारा से जोड़ने की कार्यवाही की जाएगी।
बैठक में अतिरिक्त संभागीय आयुक्त एएच गौरी, अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) बलदेव राम धोजक, अतिरिक्त कलक्टर (नगर) अरुण प्रकाश शर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) सुनील कुमार, प्रादेशिक परिवहन अधिकारी नेमीचंद पारीक, अतिरिक्त प्रादेशिक परिवहन अधिकारी जुगल माथुर, खनि अभियंता राजेन्द्र बलारा, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधीक्षण अभियंता बलवीर सिंह, आइजीएनपी के अतिरिक्त मुख्य अभियंता (रेगुलेशन) प्रदीप रस्तोगी, अधीक्षण अभियंता हरीश छतवानी, अधिशाषी अभियंता नफीस खान आदि मौजूद रहे।

What's your reaction?