शिक्षा मंत्री ने किया क्षय निवारण केंद्र के नवीन भवन एवं प्रशिक्षण सभागार का लोकार्पण

4 Min Read

बीकानेर। शिक्षा मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला ने रविवार को जिला क्षय निवारण केन्द्र (टीबी क्लीनिक) के नवीन भवन एवं प्रशिक्षण सभागार का लोकार्पण किया। इस अवसर पर डॉ. कल्ला ने कहा कि शिक्षा एवं चिकित्सा क्षेत्र का सतत एवं सुनियोजित विकास उनकी प्राथमिकता है। इन क्षेत्रों में प्राथमिकता से कार्य करवाए जा रहे हैं। शिक्षा मंत्री ने कहा कि पीबीएम अस्पताल बीकानेर संभाग के साथ पंजाब और हरियाणा के मरीजों के लिए जीवनदाई है। आगामी 25 वर्षों की आवश्यकता के अनुसार प्लान तैयार करते हुए कार्य करें। उन्होंने कहा कि जिले के सभी चिकित्सा केंद्रों की मूलभूत जरूरतों का ड्राफ्ट भी तैयार किया जाए। बजट घोषणाओं में शामिल करवाने के प्रयास किए जाएंगे।

शिक्षा मंत्री ने बताया कि सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज की सीटों को बढ़ाकर 250 किया गया है। कार्डियो वस्कुलर सेंटर में 20 करोड़ रूपए की लागत से सेंटर फॉर एक्सीलेंस बनाया जा रहा है। डॉ. कल्ला ने कहा कि सरकार के साथ भामाशाहों के सहयोग से भी आधारभूत सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है। शहरी क्षेत्र में 6-6 करोड़ रुपए की लागत से मुक्ता प्रसाद एवं गंगाशहर क्षेत्र में शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बनवाए जा रहे हैं। पिछले बजट में बीकानेर के लिए आयुर्वेद कॉलेज, पब्लिक हेल्थ कॉलेज तथा डेयरी साइंस कॉलेज स्वीकृत करवाए गए हैं।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि जिला अस्पताल, गंगाशाहर अस्तपाल एवं शहरी स्वास्थ्य केंद्रों में मूलभूत सुविधाओं का विकास किया जाए, जिससे पीबीएम अस्पताल सुपर स्पेशलिटी के रूप में कार्य कर सके। उन्होंने मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल को गंगाशहर अस्पताल में एक्स-रे एवं सोनोग्राफी मशीनें मुहैया करवाने के निर्देश दिए। शिक्षा मंत्री ने कहा कि राजकीय जिला अस्पताल में 45 लाख रुपए की लागत से ऑक्सीजन प्लांट बनाया गया है। पैतीस लाख रुपए की लागत से दो एंबुलेंस उपलब्ध करवाई गई है। गंगाशहर अस्पताल के लिए 20 लाख रुपए स्वीकृत कराए गए हैं।

- Advertisement -

शिक्षा मंत्री ने कहा कि महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय में बीकानेर का सबसे बड़ा इंडोर स्टेडियम एवं ऑडिटोरियम बनाया गया है। विश्वविद्यालय में 17 करोड़ रुपए की राशि की लागत से साइकिल वेलोड्रोम तथा राजकीय डूंगर महाविद्यालय में 2 करोड़ 62 लाख रुपए की लागत से 10 कक्षा-कक्ष बनवाए जा रहे हैं। सड़कों के निर्माण के लिए 45 करोड़ की राशि स्वीकृत की गई है तथा नगर निगम, नगर विकास न्यास एवं विधायक निधि से भी शहर में विकास कार्य करवाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि शहर के मुक्ति धाम भूमियों की चारदीवारी बनवाने के कार्य करवाए जा रहे हैं। यह कार्य 90 प्रतिशत पूर्ण हो चुका है।

इस दौरान सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. गुंजन सोनी, पीबीएम अस्पताल अधीक्षक डॉ पी के सैनी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मोहम्मद अबरार पंवार, चिकित्सा विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. देवेंद्र चौधरी, टीबी अस्पताल प्रभारी डॉ. चंद्रशेखर मोदी, डॉ. नवल गुप्ता, आरसीएचओ डॉ. राजेश गुप्ता, डॉ. अनिल वर्मा, डॉ. राहुल हर्ष, डॉ. अजय कपूर, अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी सुनील बोड़ा, विक्की पुरोहित आदि मौजूद रहे।

Share This Article