ऊर्जा मंत्री और शिक्षा राज्य मंत्री ने राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक स्कूल का किया विधिवत उद्घाटन

 ऊर्जा मंत्री और शिक्षा राज्य मंत्री ने राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक स्कूल का किया विधिवत उद्घाटन

बीकानेर। ऊर्जा मंत्री डाॅ. बी. डी. कल्ला तथा शिक्षा राज्य मंत्री एवं जिला प्रभारी मंत्री श्री गोविदं सिंह डोटासरा ने शुक्रवार को नापासर के राजकीय गीता देवी बागड़ी बालिका उच्च विद्यालय में 5.50 करोड़ की लागत से बने विद्यालय भवन का विधिवत उद्घाटन कर, निरीक्षण किया। इस भवन का निर्माण श्रीमती सी.एम. मूंधड़ा चेरिटेबल ट्रस्ट, मुंबई द्वारा करवाया गया है।

इस दौरान डाॅ. कल्ला ने कहा कि सज्जन व्यक्ति अपने धन को परोपकार, विद्या को दूसरों को सीखाने तथा शक्ति का उपयोग पीड़ित मानवता की रक्षा के लिए करते हैं। उन्होंने कहा कि सीएम मूंधड़ा चेरिटेबल ट्रस्ट द्वारा भी जनहित में किए जा रहे कार्य सराहनीय हैं तथा दूसरों को प्रेरणा देने वाले हैं। ट्रस्ट द्वारा गौशाला संचालन और अन्य धर्मार्थ कार्य किए जाते हैं, लेकिन इन सभी से आगे बढ़कर बीकानेर में 40 करोड़ की लागत से मेडिसिन विंग का निर्माण करवाया जा रहा है। इसे इतिहास में स्वर्ण अक्षरों में रेखांकित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा नापासर के विकास में किसी प्रकार की कमी नहीं आने दी जाएगी। स्थानीय जनप्रतिनिधियों एवं लोगों द्वारा जो मांगें रखी गई हैं, इन्हें प्राथमिकता से पूर्ण किया जाएगा।

शिक्षा राज्य मंत्री श्री डोटासरा ने कहा कि अपनी कमाई में से करोड़ों रुपये मातृभूमि के विकास के लिए खर्च करने वाले लोग विरले ही होते हैं। मूंधड़ा परिवार इस कार्य के लिए साधुवाद के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि जुलाई में नापासर में सरकारी अंग्रेजी माध्यम महात्मा गांधी विद्यालय खोला जाएगा। सरकार लूणकरणसर के विकास के लिए तत्पर हैं तथा स्थानीय आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए मुख्यमंत्री से पैरवी की जाएगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बालिका शिक्षा को प्रोत्साहित करने के पक्षधर हैं। श्री गहलोत द्वारा पहली बार यह घोषणा की गई है कि जहां पांच सौ बच्चियां होंगी, उस सीनियर सैकण्डरी स्कूल को काॅलेज में क्रमोन्नत किया जाएगा। उन्होंने कहा कि नापासर में काॅलेज खुले इसके लिए सभी जनप्रतिनिधि मुख्यमंत्री से बात करेंगे।

श्री डोटासरा ने कहा कि बीकानेर में भी जैसलमेर की तर्ज पर भव्य मरू मेला आयोजित किया जाएगा, इसके लिए प्रस्ताव तैयार करवाकर भिजवाए जाएं। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण की मुश्किल परिस्थितियों में राज्य सरकार द्वारा प्रभावी मैनेजमेंट किया गया है। मुख्यमंत्री इसके प्रति सतत चिंतित रहते हैं। उन्होंने कहा कि राजस्थान, देश का ऐसा राज्य है, जहां मृत्यु दर कम है, रिकवरी रेट अच्छी है और वैक्सीनेशन में पूरे देश में अव्वल है।
इस अवसर पर पूर्व गृह राज्यमंत्री वीरेन्द्र बेनीवाल ने कहा कि नापासर को सबसे बड़ी ग्राम पंचायत का गौरव प्राप्त है। उन्होंने नापासर में अग्रेंजी माध्यम की स्कूल खुलवाने, गौण मण्डी को पुनः विकसित करने तथा कृषि कुओं के लोड को देखते हुए जीएसएस स्थापित करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि नापासर भामाशाहों की भूमि है। भामाशाहों ने नापासर में विकास के बहुतेर काम किए है। उन्होंने मूदंडा परिवार द्वारा बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय का शानदार भवन बनवाकर देने पर आभार व्यक्त किया।

शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी ने आगंतुकों का आभार जताया। इस दौरान ट्रस्ट के एस के मूंधड़ा, जिला उद्योग संध के अध्यक्ष डी पी पचिसिया, यशपाल गहलोत, महेन्द्र गहलोत, अनिल कल्ला, गजेन्द्र सिंह सांखला, हैदर मिर्जा बेग,सहायक निदेशक शिक्षा निदेशालय दिलीप परिहार, जिला शिक्षा अधिकारी दयाशंकर अडावतिया आदि मौजूद रहे।

इससे पहले नापासर की गीता देवी बागड़ी बालिका विद्यालय का विधिवत शुभारंभ शुक्रवार को पंडित शिव शास्त्री के सानिध्य में वैदिक मंत्रोचारण के साथ शिक्षा राज्य मंत्री श्री गोविंद सिंह डोटासरा, ऊर्जा मंत्री बी डी कल्ला, माध्यमिक शिक्षा निदेशक शौरभ स्वामी, पूर्व गृह राज्यमंत्री वीरेंद्र बेनीवाल, श्रीमती सी एम मूंधड़ा चेरिटेबल ट्रस्ट के श्री किशन मूंधड़ा ने मां सरस्वती की पूजा अर्चना करते हुए दीप प्रज्ज्वलित करके किया। गौरतलब है कि इस विद्यालय को सन 2019 में  श्रीमती सी एम मूंधड़ा चेरिटेबल ट्रस्ट मुम्बई द्वारा 5 करोड़ 50 लाख की लागत से बनवाकर ट्रस्ट के द्वारा विद्यालय को चालू करवा दिया गया था।  इस विद्यालय भवन में नापासर व आस पास के क्षेत्र की करीब 1500 छात्राएं अध्यनरत हैं । पहलीवार नापासर आए शिक्षा राज्यमंी डोटासरा का ट्रस्ट के द्वारा भव्य स्वागत किया गया। श्रीमती सी एम मूंधड़ा चेरिटेबल ट्रस्ट ने डोटासरा को गीता देवी बागड़ी बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में सौर ऊर्जा का प्लांट लगवाने, नापासर में एक महिला कॉलेज के लिए जगह की स्वीकृति देने, भूगोल, गृह विज्ञान एवं हिंदी अनिवार्य के एक एक अतिरिक्त पद स्वीकृत करने, राजनीति विज्ञान विषय खुलवाने आदि की मांग की। उन्होंने नापासर ग्राम पंचायत को तहसील बनाने की भी मांग की हैं। हरिराम मेघवाल ने भी नापासर में महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम स्कूल सहित राजकीय अंबेडकर छात्रावास की स्वीकृति दिलाने के साथ ही नापासर राजकीय चिकित्सालय को क्रमोनत कर रेफरल हॉस्पिटल का दर्जा दिलाने की मांग रखी। संचालन ज्याति प्रकाश रंगा ने किया।

S.N.Acharya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page