चार वर्षीय पीटीईटी पाठ्यक्रम का परीक्षा परिणाम घोषित

चार वर्षीय पीटीईटी पाठ्यक्रम का परीक्षा परिणाम घोषित  चार वर्षीय पीटीईटी पाठ्यक्रम का परीक्षा परिणाम घोषित piti

बीकानेर।  राजकीय डूंगर महाविद्यालय द्वारा आयोजित प्रदेश स्तरीय चार वर्षीय बीए बीएडबीएसी.बीएड प्रवेश परीक्षा का परिणाम रविवार को उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने बटन दबाकर घोषित किया।
इस अवसर पर मंत्री भाटी ने कहा कि लगातार दूसरी बार डूंगर महाविद्यालय ने पीटीईटी परीक्षा का सफल आयोजन किया एव ंसमय पर परिणाम भी घोषित किया।  इसके लिये उन्होंने पूरी पीटीईटी टीम एवं डूंगर महाविद्यालय का आभार प्रकट किया।  उन्होनें कहा कि प्रथम छह स्थान में चार स्थान पर बालिकाओं ने बाजी मारी है, यह इस बात का प्रमाण है कि राजस्थान प्रदेश बालिका शिक्षा में अग्रणीय है।  इस अवसर पर खुशी का इजहार करते हुए मंत्री उन्होंने ने स्वयं अपने मोबाईल से प्रथम स्थान पर आने वाले विद्यार्थियों को बधाई एवं आशीर्वाद दिया।
उच्च शिक्षा मंत्री भाटी ने कहा कि प्रदेश केे लोकप्रिय मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत पूरे प्रदेश को कोरोना मुक्त करने हेतु दृढ़ संकल्प हैं। मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार ही एनएसएस, एनसीसी एव ंस्काउट गाइड का इस पुनीत कार्य में हर सम्भव सहयोग लिया जा रहा है।  उन्हानें कहा कि राज्य सरकार ने कुल छह मंत्रालयों को कोरोना बचाव संबंधी कार्य करने हेतु जिम्मेवारी सौंपी है।  इसमें स्वायत्त शासन विभाग को नोडल आॅफिसर बनाया गया है, साथ ही उच्च शिक्षा, स्कूल शिक्षा, चिकित्सा विभाग, खेल तथा महिला एवं बाल कल्याण विभाग को भी यह जिमेवारी सौंपी गयी है
पीटीईटी समन्वयक डाॅ.जी.पी.सिंह ने कहा कि रविवार को प्रातः पीटीईटी कार्यालय में हुए एक संक्षिप्त कार्यक्रम में परीक्षा परिणाम की घोषणा की गयी। डाॅ. सिंह ने कहा कि पूरे प्रदेश में रघुवीर पारीक प्रथम, सुश्री प्रियंका चैधरी द्वितीय, जागृती चैधरी तृतीय, मनीषा चतुर्थ एवं प्रिया मीणा पांचवे स्थान पर रही।
समन्वयक डाॅ. जी.पी.सिंह ने बताया कि राज्य सरकार ने पीटीईटी की जो जिम्मेवारी डूंगर काॅलेज को सौंपी थी उसे सफलतापूर्वक सम्पन्न करने में डूंगर काॅलेज ने अपना दायित्व का निष्ठापूर्वक निर्वाहन किया है।
प्राचार्य डाॅ. शिशिर शर्मा ने बताया कि इस दौरान नो मास्क नो एन्ट्री कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया, जिसमें डूंगर काॅलेज के एनएसएस प्रभारी डाॅ. सत्यनारायण जाटोलिया के नेतृत्व में एनएसएस स्वयं सेवकों ने पोस्टर एवं बैनर के माध्यम से मंत्री के समक्ष कोरोना को दूर भगाने का संकल्प लिया।  मंत्री भाटी ने एनएसएस के कार्यों की विशेष रूप से सराहना की। इस अवसर पर उन्होंने एनएसएस के प्रभारी डाॅ. जाटोलिया एवं स्वयंसेवकों को योग मित्र अवार्ड से भी नवाजा। इस अवसर पर सहायक निदेशक डाॅ. राकेश हर्ष ने भी सभी आगन्तुकों का स्वागत करते हुए सफल परीक्षा आयोजन हेतु सभी को बधाई प्रेषित की।
इस अवसर पर डाॅ. रविन्द्र मंगल, डाॅ. राजेन्द्र पुरोहित, डाॅ. शालिनी मूलचन्दानी, डाॅ. मीरा श्रीवास्तव, डाॅ. ऋषभ जैन, डाॅ. असित गोस्वामी, डाॅ. मोहम्मद हुसैन, डाॅ. धर्मवरी कटेवा सहित श्री उमेश व्यास, श्री आशीष रंगा, विद्यासागर रंगा तथा विभिन्न महाविद्यालयों के संकाय सदस्य उपस्थित रहे।

चार वर्षीय पीटीईटी पाठ्यक्रम का परीक्षा परिणाम घोषित prachina in article 1

COMMENTS