दसवीं और बारहवीं में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को हिंदी-अंग्रेजी शब्दकोश का निःशुल्क वितरण

3 Min Read

बीकानेर। जिले की सरकारी स्कूलों में दसवीं और बारहवीं में पढ़ने वाले एक लाख विद्यार्थियों को हिंदी-अंग्रेजी डिक्सनरी के निःशुल्क वितरण का अभियान मंगलवार को राजकीय महारानी सीनियर सैकण्डरी स्कूल में शुरू हुआ। संभागीय आयुक्त डॉ. नीरज के. पवन की पहल पर संत श्री पद्माराम कुलरिया के परिजनों ने आगे आते हुए 25 हजार शब्दकोश उपलब्ध करवाए हैं।

प्रार्थना सभा के दौरान आयोजित कार्यक्रम में संभागीय आयुक्त डॉ. पवन ने कहा कि आज के प्रतियोगी दौर में हिंदी के साथ अंग्रेजी का ज्ञान भी बेहद जरूरी है। सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाली बेटियों की दोनों भाषाओं पर पकड़ रहे, इसके मद्देनजर यह पहल की गई है। उन्होंने आह्वान किया कि बेटियां इस डिक्सनरी से प्रतिदिन कम से कम एक मीनिंग याद करें। इस प्रकार एक वर्ष में बच्चियां 365 नए शब्द सीखने का प्रयास करें। उन्होंने कहा कि जीवन में सफलता के लिए लक्ष्य का निर्धारण जरूरी है। बेटियां लगन और समर्पण के साथ पढ़ाई करें तो उन्हें सफलता जरूरी हासिल होगी।

संभागीय आयुक्त ने संत श्री पद्माराम कुलरिया के परिजनों कानाराम, शंकरलाल और धर्म कुलरिया का आभार जताया और कहा कि जिले के समस्त सरकारी विद्यालयों में दसवीं और बारहवीं में पढ़ने वाली सभी लगभग एक लाख बालिकाओं को ऐसे शब्दकोश उपलब्ध करवाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जिले के अनेक भामाशाहों ने समय-समय पर आगे आकर सहयोग दिया है। डिक्सनरी वितरण के इस कार्य में दानदाताओं के योगदान के दूरगामी बेहतर परिणाम सामने आएंगे।

भामाशाह शंकर लाल कुलरिया ने कहा कि संत श्री पद्माराम कुलरिया बालिका शिक्षा के पक्षधर थे। उनके पदचिन्हों पर चलते हुए यह पहल की गई है। बेटियां पढ़ें-लिखें और आगे बढ़ें इसके मद्देनजर आगे भी सहयोग दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि पहले चरण में उनके परिवार के माध्यम से 25 हजार शब्दकोश उपलब्ध करवाए गए हैं।
कार्यक्रम का संयोजन करते हुए साहित्यकार राजेन्द्र जोशी ने संत श्री पदमाराम कुलरिया परिवार के सामाजिक सरोकार से जुड़े कार्यों पर प्रकाश डाला। उन्होंने कार्यक्रम की रूपरेखा और इसकी आवश्यकता के बारे में भी बताया।

इस दौरान संभागीय आयुक्त और शंकर लाल कुलरिया ने बारह बालिकाओं को डिक्सनरी वितरित कर अभियान की शुरूआत की। वहीं शहरी क्षेत्र के प्रधानाचार्यों तथा नोखा और पांचू के ब्लॉक शिक्षा अधिकरियों को बच्चों की संख्या के आधार पर वितरण के लिए यह शब्दकोश प्रदान किए।
इससे पहले जिला शिक्षा अधिकारी (माशि) सुरेंद्र सिंह भाटी ने स्वागत उद्बोधन दिया। प्रधानाचार्य शारदा पहाड़िया ने अतिथियों का आभार व्यक्त किया। इस दौरान अतिरिक्त संभागीय आयुक्त ए. एच. गौरी, अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) पंकज शर्मा, अतिरिक्तजिला शिक्षा अधिकारी (माध्यमिक शिक्षा) सुनील बोड़ा सहित शिक्षा विभाग के अधिकारी उपस्थित थे। इससे पहले अतिथियों ने दीप प्रज्जवलित कर समारोह का शुभारंभ किया।

Share This Article