बीकानेरराजस्थान

मुख्यमंत्री का बीकानेर पहुंचने पर किया भव्य अभिनंदन , 1.33 करोड़ महिला मुखियाओं को सरकार देगी मुफ्त स्मार्टफोन

बीकानेर। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य के ग्रामीण अंचल में राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेलों को लेकर जबरदस्त उत्साह का माहौल है। सभी आयुवर्ग व राजनीतिक पृष्ठभूमि के लोग इन खेलों में बढ़ चढ़ कर हिस्सा ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि 40 करोड़ के बजट से आयोजित हो रहे ग्रामीण ओलंपिक खेलों में 30 लाख से ज्यादा खिलाड़ियों ने भाग लिया है, जिनमें 10 लाख महिला खिलाड़ी भी शामिल हैं। 2 लाख से ज्यादा टीमें बनी हैं।मुख्यमंत्री शनिवार को डॉ. करणी सिंह स्टेडियम में जिला स्तरीय राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेलों के तहत आयोजित प्रतिस्पर्द्धाओं का अवलोकन कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में खेलों के लिए सकारात्मक माहौल का निर्माण करना अत्यन्त आवश्यक है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में खेल प्रतिभाओं की कोई कमी नही है। ग्रामीण ओलंपिक के माध्यम से उन्हें तलाशने का कार्य किया जा रहा है। इसके बाद इन खिलाड़ियों की प्रतिभा को निखारने के लिए उच्च स्तरीय प्रशिक्षण दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण ओलंपिक खेलों से प्रदेश में एक नई खेल संस्कृति की शुरूआत हुई है। राज्य सरकार खिलाड़ियों को अच्छे मैदान, उपकरण, प्रशिक्षण व पर्याप्त अवसर उपलब्ध कराने के लिए निरंतर कार्य कर रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि खिलाड़ियों को प्रोत्साहन देने के लिए राज्य सरकार ने सरकारी नौकरियों में 2 प्रतिशत पद खिलाड़ियों के लिए आरक्षित कर दिए हैं। खिलाड़ियों को डीएसपी स्तर के पदों पर नियुक्ति दी जा रही है। 229 खिलाड़ियों को ‘आउट ऑफ टर्न’ नियुक्ति दी गई है। विश्वस्तरीय प्रतिस्पर्द्धाओं में पदक जीतने वाले खिलाड़ियों को 3 करोड़ तक की पुरस्कार राशि दी जा रही है। इसके अलावा पदक विजेता खिलाड़ियों को 25 बीघा जमीन आवंटित करने का भी प्रावधान किया गया है। खिलाड़ियों और प्रशिक्षकों का भविष्य सुरक्षित करने हेतु उनके लिए पेंशन योजना शुरू की गई है। दूसरे राज्यों या केन्द्र में कार्यरत खिलाड़ियों को पदक जीतने पर राजस्थान में पे-प्रोटेक्ट करते हुए नियुक्ति दी जा रही है। ग्रामीण ओलंपिक में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को विभिन्न विभागों में कॉन्ट्रेक्चुअल पदों पर भर्ती में प्राथमिकता दी जाएगी।

छात्र जीवन से खिलाड़ी को अवसर देना आवश्यक
श्री गहलोत ने कहा कि एक उत्कृष्ट खिलाड़ी को तैयार करने के लिए छात्र जीवन से ही उपयुक्त प्रशिक्षण व प्रतिभागिता के अवसर देना आवश्यक है। राज्य सरकार इसके लिए संकल्पित होकर कार्य कर रही है। प्रदेश के विभिन्न भागों में खिलाड़ियों के लिए आवासीय छात्रावास व खेल अकादमियां खोली जा रही है। दिव्यांग खिलाड़ियों के लिए भी उत्कृष्ट खेल इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार किया जा रहा है। राज्य और राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले खिलाड़ियों का दैनिक भत्ता बढ़ाया गया है।

सामाजिक सुरक्षा में राजस्थान एक मॉडल स्टेट
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा राज्य में सभी वंचित वर्गाें को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए शानदार योजनाएं संचालित की जा रही है। चिरंजीवी योजना के माध्यम से आमजन को 10 लाख तक का निःशुल्क उपचार दिया जा रहा है। किडनी, हार्ट, लीवर ट्रांसप्लांट जैसे महंगे इलाज में 10 लाख की सीमा समाप्त कर दी गई है। साथ ही, 5 लाख रूपए तक का दुर्घटना बीमा भी दिया जा रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा आईपीडी, ओपीडी में सभी प्रकार के उपचार निःशुल्क कर दिए गए हैं। प्रदेश में आमजन की सिटी स्केन, एम.आर.आई. स्केन जैसी महंगी जांचें निःशुल्क की जा रही हैं। 1 करोड़ प्रदेशवासियों को पेंशन देने का कार्य राज्य सरकार कर रही है। मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना से 5 लाख से अधिक किसानों का बिजली बिल शून्य हुआ है। प्रदेश सरकार द्वारा 50 यूनिट बिजली मुफ्त देने से 45 लाख घरेलू उपभोक्ताओं का बिजली का बिल जीरो हुआ है। सरकारी कर्मियों का भविष्य सुरक्षित करने हेतु पुरानी पेंशन योजना प्रदेश में फिर से लागू की गई है। श्री गहलोत ने कहा कि केन्द्र सरकार को भी कार्मिकों के हित में निर्णय लेते हुए पुरानी पेंशन योजना लागू करनी चाहिए।

युवाओं को मिल रहा रोजगार
मुख्यमंत्री ने कहा कि युवाओं को रोजगार देना प्रदेश सरकार की प्राथमिकता है। वर्तमान कार्यकाल में 1 लाख से अधिक पदों पर भर्तियां की जा चुकी है। 1.29 लाख पदों पर भर्ती का कार्य प्रक्रियाधीन है। 1 लाख युवाओं को रोजगार देने की घोषणा सरकार द्वारा बजट में की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि आने वाला बजट युवाओं और किसानों को समर्पित होगा।
शिक्षा के क्षेत्र में राजस्थान अग्रणी
श्री गहलोत ने कहा कि प्रदेश सरकार के निर्णयों से शिक्षा के क्षेत्र में राजस्थान आज एक अग्रणी राज्य बनकर उभर रहा है। महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों के द्वारा वंचित तबके के विद्यार्थी अंग्रेजी भाषा में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा निःशुल्क प्राप्त कर रहे हैं। उच्च शिक्षा के क्षेत्र में भी राजस्थान लगातार प्रगति कर रहा है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में प्रदेश में 210 महाविद्यालय खोले गए हैं, जिनमें 90 कन्या महाविद्यालय शामिल हैं। 500 बालिकाओं के नामांकन वाले विद्यालयों को कॉलेज बनाने का निर्णय सरकार द्वारा लिया गया है। राज्य में उत्कृष्ट शिक्षण संस्थानों की स्थापना हुई है।

इन्वेस्ट राजस्थान समिट से आएगा व्यापक निवेश
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस माह आयोजित होने जा रही इन्वेस्ट राजस्थान समिट से प्रदेश में व्यापक स्तर पर निवेश आएगा तथा औद्योगिकीकरण को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि विभिन्न उद्योगपतियों के साथ राज्य सरकार द्वारा लाखों करोड़ के एमओयू साइन किए जा चुके हैं। राज्य सरकार उद्यमिता के लिए अनुकूल वातावरण तैयार कर प्रदेश के आर्थिक विकास को गति देने के लिए प्रतिबद्ध है।

1.33 करोड़ महिला मुखियाओं को प्रदेश सरकार देगी मुफ्त स्मार्टफोन
मुख्यमंत्री ने कहा कि जल्द¬ ही प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के 1.33 करोड़ परिवारों की महिला मुखियाओं को निःशुल्क स्मार्टफोन दिए जाएंगे। इसके साथ 3 साल के लिए मुफ्त इंटरनेट सेवाएं भी दी जाएगी। श्री गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार की इस पहल से प्रदेश की महिलाओं एवं बच्चों को डिजिटल युग से जोड़ा जा सकेगा। वे निःशुल्क स्मार्टफोन एवं इंटरनेट से विभिन्न क्षेत्रों का ज्ञान हासिल कर सकेंगे तथा सरकारी योजनाओं के बारे में सभी प्रकार की जानकारी घर बैठे ले सकेंगे।

इंदिरा गांधी नहर में दूषित पानी की आवक पर लगेगी रोक
मुख्यमंत्री ने कहा कि इंदिरा गांधी नहर में पंजाब से दुषित पानी छोड़े जाने की शिकायतें पिछले कुछ समय से सामने आई है। दूषित पानी से क्षेत्र के लोगों को स्वास्थ्य संबंधी विभिन्न समस्याओं का खतरा लगातार बना हुआ है। इस समस्या के स्थाई निराकरण हेतु प्रदेश सरकार लगातार पंजाब सरकार से सम्पर्क में है। पंजाब सरकार को लिखे पत्र में हरिके बैराज से इंदिरा गांधी नहर में आने वाले दूषित पानी की रोकथाम करने का आग्रह किया गया है। जिसकों लेकर पंजाब सरकार ने सकारात्मक रूख दिखाया है।
मुख्यमंत्री ने बीकानेर में जिला स्तरीय मुकाबलों में सभी छह खेलों की विजेता टीमों को ट्रॉफी प्रदान कर सम्मानित किया। इस अवसर पर श्री गहलोत द्वारा अंतर्राष्ट्रीय साइकलिस्ट मोनिका जाट को 8 लाख 63 हजार रूपए की साइकिल भेंट की गई।
इससे पूर्व मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने डॉ. करणी सिंह स्टेडियम पहुचंकर बीकानेर और लूणकरणसर ब्लॉक की बालिकाओं के कबड्डी मैच का अवलोकन किया। मुख्यमंत्री ने खिलाड़ियों से मिलकर उनकी हौसला अफजाई की।
इससे पहले मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने बीकानेर स्थित राजस्थान राज्य अभिलेखागार का अवलोकन किया। उन्होंने अभिलेख संग्रहालय में ‘स्वतंत्रता संग्राम में समाचार पत्रों की भूमिका’ प्रदर्शनी का उद्घाटन किया और स्वतंत्रता सेनानी दीर्घा का अवलोकन किया। उन्होंने दीर्घा में स्वतंत्रता सेनानी श्री जयनारायण व्यास के स्वंतत्रता गीत की सराहना की। मुख्यमंत्री ने राजस्थान राज्य अभिलेखागार के निदेशक डॉ. महेन्द्र खड़गावत द्वारा संपादित पुस्तक ‘स्वतंत्रता संग्राम में समाचार पत्रों की भूमिका’ एवं ‘स्वाधीनता के गीत’ पुस्तकों का विमोचन किया।
शिक्षा मंत्री डॉ. बी.डी. कल्ला ने अपने उद्बोधन में कहा कि राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेलों से आमजन में खेलों के प्रति रूचि और आपसी सद्भाव बढ़ा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार के ढांचे को मजबूत करने की दिशा में संकल्पबद्ध रूप से काम कर रही है।
कृषि मंत्री श्री लालचंद कटारिया ने कहा कि प्रदेश की खेल प्रतिभाओं को ओलंपिक, एशियाड, कॉमनवेल्थ जैसे अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्द्धाओं के लिए तैयार करने में राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे है।
आपदा प्रबंधन मंत्री श्री गोविंद राम मेघवाल ने कहा कि राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक के रूप में ग्रामीण क्षेत्र के खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभा के प्रदर्शन के लिए बड़ा मंच मिला है। इससे खेलों के प्रति सकारात्मक माहौल तैयार होने के साथ-साथ सामाजिक समरसता को बढ़ावा मिला है।
समारोह में ऊर्जा मंत्री श्री भंवर सिंह भाटी, भूदान बोर्ड अध्यक्ष श्री लक्ष्मण कडवासरा, राज्य महिला आयोग अध्यक्ष श्रीमती रेहाना रियाज चिश्ती, केश कला बोर्ड अध्यक्ष श्री महेन्द्र गहलोत, पूर्व मंत्री श्री वीरेन्द्र बेनीवाल, पूर्व संसदीय सचिव श्री कन्हैया लाल झंवर, पूर्व विधायक श्री मंगलाराम गोदारा, डॉ. भीमराव फांउडेशन (अम्बेडकर पीठ) के महानिदेषक श्री मदन गोपाल मेघवाल सहित बड़ी संख्या में खिलाड़ी एवं आमजन उपस्थित थे।

What's your reaction?