प्रदूषण को रोकने के लिए जारी की गाइडलाइंस, करना होगा इन नियमों का पालन

प्रदूषण को रोकने के लिए जारी की गाइडलाइंस, करना होगा इन नियमों का पालन  प्रदूषण को रोकने के लिए जारी की गाइडलाइंस, करना होगा इन नियमों का पालन fdgf

सरकार ने प्रदूषण के बढ़ते स्तर को देखते हुए बड़ा फैसला लिया है. सोमवार को दिल्ली सरकार के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय (Gopal Rai) ने बड़ा ऐलान किया है. अब कंस्ट्रक्शन और डिमोलिशन साइट पर नियमों में बदलाव किए गए हैं. अब सभी छोटे-बड़े साइट्स पर 5 नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा. बता दें कि इस बार सर्दी की दस्तक से पहले ही दिल्ली में हवा की गुणवत्ता (Air Quality) खराब हो गई है. आलम यह है कि अक्टूबर के शुरुआती दिनों में ही दिल्ली में सांस लेना दूभर हो गया है. एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) इतना खराब हो गया है कि भीड़-भाड़ वाली जगहों पर आंखों में जलन हो रही है.

प्रदूषण को रोकने के लिए जारी की गाइडलाइंस, करना होगा इन नियमों का पालन prachina in article 1

प्रदूषण को लेकर दिल्ली सरकार ने उठाया ये बड़ा कदम
गोपाल राय ने कहा, ‘प्रदूषण के खिलाफ युद्धस्तर पर काम शुरू किए जा रहे हैं. इसके तहत डस्ट प्रदूषण को कम करने के लिए एंटी डस्ट कैम्पेन जारी है. 14 टीमें अलग-अलग क्षेत्रों में डस्ट के मापदंड का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ काम कर रही हैं. मैंने खुद कई साइट्स की विजिट की जहां से शिकायतें आईं थीं. खासतौर से 20 हजार वर्ग मीटर से बड़ी साइट्स का मैंने विजिट किया. पिछले दिनों फिक्की सभागार के डिमोलिशन स्थल पर अनियमितता पाई गई. 20 लाख का जुर्माना लगाया गया. रविवार को भी एक साइट देखी, जो 20 हजार स्क्वायर मीटर से कम की थी. कल जिन दो साइट्स का निरीक्षण किया वहां पर एंटी स्मॉक गन लगाया था. कई जगह पता चला है कि 20 हजार से कम की साइट्स पर भी मानकों का उल्लंघन हो रहा है. अब कोई भी साइट, जहां काम हो रहा है, वो चाहे प्राइवेट हो या सरकारी, सबको पांच चीजों की गारंटी करनी होगी.’

करनी होंगी पांच नियमों का पालन

-10 मीटर की हाइट का टिन शेड लागाना होगा.

-ग्रीन तिरपाल से टिन शेड को कवर करना होगा.
-कार्यस्थल के अंदर और बाहर नियमित पानी का छिड़काव करना होगा.
-कार्यस्थल के अंदर भी मिट्टी को नेट से ढकना होगा.
-किसी भी गाड़ी से कंस्ट्रक्शन मैटेरियल लाया जा रहा हो तो उसे ढककर लाया जाए और चक्कों को भी लगातार धोया जाएगा.

सभी डीसी इलाके में करेंगे मीटिंग
गोपाल राय ने कहा है कि गाड़ियों के जरिए जो मिट्टी सड़कों पर आती है, वो टूटते-टूटते पीएम 10 के रूप में आ जाता है और सांसों में चला जाता है. यह काफी खतरनाक है. इस मामले में दिल्ली सरकार सभी से सहयोग चाहती है. अगर कोई सहयोग न करने की जिद पर उतारू है तो हमारी भी जिद है कि उनकी जिद नहीं चलने देंगे. आज से 13 हॉट स्पॉट्स की माइक्रो मॉनिटरिंग शुरू की गई है. साउथ एमसीडी में 7, नॉर्थ एमसीडी में 5 और ईस्ट एमसीडी में 2 हॉट स्पॉट हैं. इसके लिए 9 डीसी को नोडल ऑफिसर बनाया गया है.

 

गौरतलब है कि सोमवार को दिल्ली सरकार के पर्यावरण मंत्री अधिकारियों के साथ एक महत्वपूर्ण मीटिंग की है. इस मीटिंग में तय किया गया है कि प्रदूषण को लेकर आगामी 14 तारीख तक सभी डीसी अपने एरिया में मीटिंग करेंगे. जो एजेंसियां कॉपरेट नहीं कर रह रही हैं, उन पर कार्रवाई करेंगे. ग्रीन ऐप लॉन्च होने से पहले ऐप के बैकएंड की तैयारी अलग-अलग एजेंसियों के साथ मिलकर कर रहे हैं. मंगलवार से पूरे दिल्ली में बायो डिकम्पोजर के छिड़काव की शुरुआत करेंगे. नरेला क्षेत्र के हिरनकी गांव से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल खुद छिड़काव की शुरुआत करेंगे.

COMMENTS