बीकानेर थिएटर आर्ट एंड कल्चर फेस्टिवल के दुसरे दिन गूंजी हडाऊ मेहरी रम्मत की हुई प्रस्तुति

बीकानेर थिएटर आर्ट एंड कल्चर फेस्टिवल के दुसरे दिन गूंजी हडाऊ मेहरी रम्मत की हुई प्रस्तुति  बीकानेर थिएटर आर्ट एंड कल्चर फेस्टिवल के दुसरे दिन गूंजी हडाऊ मेहरी रम्मत की हुई प्रस्तुति WhatsApp Image 2021 01 16 at 5

बीकानेर थिएटर आर्ट एंड कल्चर फेस्टिवल के दुसरे दिन गूंजी हडाऊ मेहरी रम्मत की हुई प्रस्तुति mr bika fb post

लोकायन एवं राजस्थान कला एवं संस्कृति विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित हो रहे बीकानेर कला, संस्कृति एवं थिएटर फेस्टिवल के दुसरे दिन की शुरुआत हेरिटेज वॉक विषयक संवाद से हुई. “आओ इतिहास की गलियों में टहलें” विषयक हुए इस वर्चुअल संवाद में जयपुर हेरिटेज वाक के विपुल बंसल, जोधपुर ब्लू सिटी वाक के गोविन्द सिंह के अलावा कोलकाता के प्रदीप चोपड़ा एवं अहमदाबाद से देबाशीष नायक ने भाग लिया।

बीकानेर थिएटर आर्ट एंड कल्चर फेस्टिवल के दुसरे दिन गूंजी हडाऊ मेहरी रम्मत की हुई प्रस्तुति prachina in article 1

फेस्टिवल निदेशक गोपाल सिंह चौहान ने बताया कि वर्चुअल संवाद के बाद बीकानेर शहर के बारह गुवाड़ की प्रशिद्ध रम्मत का प्रदर्शन किया गया. बीकानेर के बारह गुवाड़ चौक में आयोजित होने वाली लगभग 250 साल पुरानी रम्मत ‘ हडाऊ मेहरी रम्मत’ का सीधा प्रसारण फेसबुक पर शाम 7 बजे किया गया जिसे बड़ी संख्या में दर्शकों ने देखा। इस रम्मत में राजा हड़ाऊ और रानी पद्मिनी के बीच रूठना और मनाने के सवांद की प्रस्तुति है, और इस रम्मत परंपरा की सबसे खास बात यह है की इस कला में निभाए जाने वाले हर किरदार पुरुषों द्वारा निभाए जाते है।रम्मत में भेरू रतन पुरोहित, आशानंद, कन्हैयालाल, विजय कुमार इत्यादि लोक कलाकारों ने रम्मत के विभिन्न चरित्रों को निभाया।

फेस्टिवल में शाम को 8 बजे अभिषेक मजूमदार द्वारा लिखित नाटक “राशन” का प्रदर्शन किया गया. दुसरे दिन के सांस्कृतिक कार्यक्रमों का समापन पूगल गाँव के अंतर खान द्वारा मीरा के भजनों की शानदार प्रस्तुति से हुआ. अंतर खान ने मीरा के प्रशिद्ध भजन “मेवाड़ी राणा भजनों सु लागे मेरा मीठी” के अलावा अनेक भजनो की प्रस्तुति दी.

लोकायन के अध्यक्ष महावीर स्वामी ने जानकारी दी कि फेस्टिवल के तीसरे दिन शाम को 6 बजे “वेब सीरीज के दौर में थिएटर” विषय पर संवाद के अलावा शाम 7:15 पर बीकानेर की प्रशिद्ध गणगौर गीतों की प्रस्तुति, बीकानेर के शायरों द्वारा “अर्ज किया है” मुशायरे का भी आयोजन किया जायेगा तथा विरह के लोक गीतों का प्रदर्शन बीकानेर के लोक गायक बबलू दमामी द्वारा रात को 9 बजे की जाएगी।

इस से पूर्व फेस्टिवल के उद्घाटन कार्यक्रम पचीस हजार से अधिक दर्शकों ने ऑनलाइन फेसबुक, इंस्टाग्राम एवं यूट्यूब के माध्यम से दुनिया भर में देखा गया.

COMMENTS