उच्च शिक्षा मंत्री श्री भाटी ने किया नवीनीकरण कार्य का शिलान्यास , सुने अभाव अभियोग

 उच्च शिक्षा मंत्री श्री भाटी ने किया नवीनीकरण कार्य का शिलान्यास , सुने अभाव अभियोग

बीकानेर। उच्च शिक्षा मंत्री श्री भंवर सिंह भाटी ने रविवार को रणजीतपुरा से ओसियां तक वाया गोडू-बज्जू-कोलायत सड़क के सुदृढ़ीकरण एवं नवीनीकरण कार्य का शिलान्यास किया।
इस कार्य पर बीस करोड़ रुपए खर्च होंगे। 28 किलोमीटर लंबी रोड का कार्य दीपावली तक पूर्ण कर लिया जाएगा।
इस अवसर पर श्री भाटी ने कहा कि आगामी 2 सालों में कोलायत विधानसभा क्षेत्र में कोई भी सड़क नॉन पेचेबल नहीं रहे, इसके लिए सार्वजनिक निर्माण विभाग के साथ मिलकर सकारात्मक प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि रणजीतपुरा ओसियां सड़क नवीनीकरण कार्य पूर्ण होने से यहां के सौ से डेढ़ सौ गांवों के लोगों का आवागमन अति सुगम हो जाएगा। उन्होंने बताया कि यह रोड पिछले 30 वर्षों से क्षतिग्रस्त थी, जिसे अब सुधारा जा रहा है। यह सडक गुणवतापूर्ण और समय पर बने इसके निर्देश दिए गए है।
मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा बजट घोषणा 2020-21 तथा 2021-22 के तहत रणजीतपुरा से सांखला फांटा व कोलायत होते हुए जयसिंहदेसर मगरा तक की रोड को 7 मीटर चौड़ा किया जाएगा। सड़क निर्माण का यह कार्य मार्च 2022 तक पूर्ण कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि कोलायत विधानसभा क्षेत्र में 14.5 किलोमीटर सड़कों का निर्माण करवाकर 500 से अधिक आबादी के गांवों को जोड़ा जा रहा है। कोलायत विधानसभा क्षेत्र में विकास पथ बनाया गया है। लगभग 150 किलोमीटर नॉन पेचेबल सड़कों का नवीनीकरण करवा दिया गया है तथा 100 किलोमीटर सड़कों के नवीनीकरण का कार्य प्रगतिरत है, जिसे शीघ्र ही पूर्ण करवा दिया जाएगा।
उन्होंने बताया कि बजट घोषणा 2021-22 में घोषित 50 किलोमीटर रणजीतपुरा-ओसियां, 26 किलोमीटर बीकानेर-ओसिया वाया दासूड़ी तथा 28 किलोमीटर नाल बीकानेर बाईपास की स्वीकृति जल्दी प्राप्त होगी। इनके अलावा 500 से अधिक आबादी के 2 गांव मेड़ी का मगरा और सराहलवायत में 14.50 किलोमीटर नई सड़क बना कर इन्हें जोड़ा गया है।
उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री गहलोत द्वारा बज्जू में आयोजित जनसभा में बज्जू में पंचायत समिति, उपखंड अधिकारी कार्यालय, महाविद्यालय तथा बज्जू साखला फाटा रोड बनाने की घोषणा की थी। इन घोषणाओं के अनुसार बज्जू की सभी मांगें पूरी कर दी गई हैं। उन्होंने कहा कि राज्य की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के बावजूद मुख्यमंत्री श्री गहलोत ने विकास की गति रुकने नहीं दी। आगे भी यह कार्य अनवरत रूप से होते रहेंगे। उन्होंने बताया कि कोलायत विधानसभा क्षेत्र में अगले 2 सालों में कोई भी ऐसी सड़क बाकी नहीं रहेगी जो क्षतिग्रस्त हो। उन्होंने बताया कि बज्जू में हाल ही में बालिकाओं के लिए उच्च माध्यमिक विद्यालय स्वीकृत कर दी गई है तथा यहां 11वीं और 12वीं की कक्षाएं इसी सत्र से प्रारंभ कर दी जाएंगी। उन्होंने बताया कि बज्जू पंचायत समिति बनने से यहां पंचायत समिति स्तर के सभी कार्यालय प्रारंभ हो जाएंगे, जिससे स्थानीय निवासियों को अधिक सुविधा मिलेगी। भाटी ने कहा कि वर्ष 2018 में कोलायत विधानसभा क्षेत्र में जहां एक भी महाविद्यालय नहीं था, वहीं अब यहां चार महाविद्यालय खोल दिए गए हैं। कोलायत विधानसभा क्षेत्र में अब जो भी नया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र स्वीकृत होगा, उसे प्राथमिकता के आधार पर गोडू के लिए स्वीकृत करवाने के प्रयास होंगे। भाटी ने बताया कि कोलायत विधानसभा के 40 उप स्वास्थ्य केंद्र स्टाफ के अभाव में बंद थे, जहां स्टाफ नियुक्त करते हुए इन्हें चालू कर दिया गया है।
भाटी ने कहा कि वर्तमान में कोरोना संक्रमण का खतरा कम हुआ है लेकिन यह खत्म नहीं हुआ है। इसके मद्देनजर प्रत्येक व्यक्ति को सावधानी रखनी होगी। सभी कोरोना एडवाइजरी की पालना करें। मास्क लगाए बिना घरों से बाहर ना निकलें। उन्होंने कोरोना के नई वेरिएंट डेल्टा प्लस के बारे में भी बताया तथा इसके प्रति सावधानी रखने का आह्वान भी किया। उन्होंने कहा कि सभी ग्रामीण कोविड से बचाव के लिए वैक्सीनेशन जरूर करवाएं। उन्होंने कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों के लिए मुख्यमंत्री श्री गहलोत की पहल पर प्रारंभ की गई योजना के बारे में बताया तथा कहा कि ऐसे बच्चों की सूची बनाई जाए, जिससे उन्हें आर्थिक संबल देकर समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के प्रयास हो सकें। भाटी ने मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के बारे में भी बताया।
इस अवसर पर जिला परिषद सदस्य मोहन दान चारण, बज्जू सरपंच मोहनलाल गोदारा, व्यापार मण्डल अध्यक्ष राजेन्द्र शर्मा, मण्डी अध्यक्ष भागीरथ ज्याणी,गणपत राम सीगड़, उपखंड अधिकारी जयपाल राठौड़, ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी अनिल वर्मा ने भी विचार रखे।
कार्यक्रम के दौरान सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता डीपी सोनी, अधिशासी अभियंता संजय चौधरी, तहसीलदार हरि सिंह शेखावत, बिशन सिंह भाटी सहित अन्य जनप्रतिनिधि और अधिकारी मौजूद रहे। इससे पहले उच्च शिक्षा मंत्री ने रणजीतपुरा ओसियां सड़क के सुदृढ़ीकरण एवं नवीनीकरण कार्य का शिलान्यास किया।
भाटी ने सुने अभाव अभियोग
उच्च शिक्षा मंत्री श्री भंवर सिंह भाटी ने बज्जू में ग्रामीणों की विभिन्न समस्याएं सुनी तथा इनके त्वरित समाधान के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। भाटी ने कहा कि कोरोना संक्रमण के कम होते प्रभाव के बाद आमजन की समस्याओं को सुनना तथा इनका समय पर निस्तारण राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता में है। शीघ्र ही अधिकारी भी गांवों में आएंगे और आमजन की समस्याएँ सुनकर इनका निस्तारण करेंगे। इससे पहले उच्च शिक्षा राज्य मंत्री ने बीकानेर स्थित अपने आवास पर भी आमजन की समस्याएं सुनी। यहां बड़ी संख्या में आमजन उनसे मिलने पहुंचे।

उच्च शिक्षा मंत्री श्री भाटी ने किया नवीनीकरण कार्य का शिलान्यास , सुने अभाव अभियोग WhatsApp Image 2021 06 27 at 4

S.N.Acharya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page