fbpx

भागवत कथा में बताया आत्ममंथन का महत्व, बूंद-बूंद पानी बचाने की अपील

भागवत कथा में बताया आत्ममंथन का महत्व, बूंद-बूंद पानी बचाने की अपील bikaner hulchul भागवत कथा में बताया आत्ममंथन का महत्व, बूंद-बूंद पानी बचाने की अपील bhagwat 21 1

bikaner hulchul भागवत कथा में बताया आत्ममंथन का महत्व, बूंद-बूंद पानी बचाने की अपील mr bika fb post

बीकानेर, मुरलीधर व्यास काॅलोनी स्थित गीता आश्रम में चल रहे श्रीमद्भागवत कथा ज्ञानयज्ञ में मंगलवार को नंद महोत्सव आयोजित हुआ। व्यास पीठाधीश्वर पं. संजय कृष्ण भारद्वाज ने भगवान कृष्ण की बाल लीलाओं का वर्णन किया। उन्होंने समुद्र मंथन की कथा के माध्यम से आत्ममंथन की प्रेरणा दी कहा कि मनुष्य को कर्मशील होना चाहिए। उन्होंने बूंद-बूंद पानी के सदुपयोग का संदेश दिया तथा कहा कि भूजल स्तर लगातार गिरता जा रहा है। हमें इसके प्रति जागरुक होना होगा। इस अवसर पर मास्टर नानू व रवि उस्ताद ने स्वर ताल के साथ संगत की। व्यास पीठ की प्रातःकालीन पूजा मुरली किराडू ने सपत्नीक की। जिला एवं सेशन न्यायाधीश एल. डी. किराडू और वरिष्ठ अधिवक्ता मंजूबाला किराडू ने आंगतुकों का स्वागत किया।

bikaner hulchul भागवत कथा में बताया आत्ममंथन का महत्व, बूंद-बूंद पानी बचाने की अपील prachina in article 1
Zomato bikaner hulchul भागवत कथा में बताया आत्ममंथन का महत्व, बूंद-बूंद पानी बचाने की अपील o2 badge r

COMMENTS

You cannot copy content of this page