बीकानेर में “नहीं सहेगा राजस्थान” अभियान में भाजपा का काली पट्टी बांध कर धरना

7 Min Read

भारतीय जनता पार्टी बीकानेर शहर पदाधिकारियों, मंडल अध्यक्षों, मोर्चा अध्यक्षों, प्रकोष्ठ संयोजकों, पार्षदों के साथ कार्यकर्ताओं ने “नही सहेगा राजस्थान” अभियान के तहत आज राज्य की नकारा गहलोत सरकार के अत्याचार के खिलाफ काली पट्टी बांधकर गांधी पार्क में भाजपा शहर जिलाध्यक्ष विजय आचार्य की अध्यक्षता में धरना दिया और गहलोत सरकार को जमकर कोसा उसके बाद गांधी पार्क से सैंकड़ों की संख्या में भाजपाइयों ने कलेक्ट्रेट तक पदयात्रा करते हुए गहलोत सरकार की तुष्टिकरण की नीतियों को जमकर कोसा धरना स्थल पर गहलोत सरकार के फेलियर के फेल कार्ड का विमोचन हुआ ये फेल कार्ड भाजपा कार्यकर्ता घर घर पहुंचाएंगे और गहलोत सरकार की नाकामियों को उजागर करेंगे आज के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भाजपा शहर जिलाध्यक्ष विजय आचार्य ने कहा कांग्रेस की अशोक गहलोत सरकार लूटने वाली सरकार है। गरीबों का हिस्सा चोरी करना, सरेआम भ्रष्टाचार करना, भ्रष्टाचार के नित नए रिकॉर्ड बनाना – यही कांग्रेस की गहलोत सरकार का चाल, चलन और चरित्र है। राजस्थान की कांग्रेस सरकार के पांच साल का रिकॉर्ड यह है कि गहलोत सरकार ने राजस्थान में भ्रष्टाचार का रिकार्ड बनाने का काम किया है। गहलोत सरकार ने अत्याचार करने का रिकार्ड बनाया है। महिलाओं, बच्चों, आदिवासियों पर अत्याचार करने में भी गहलोत सरकार ने रिकार्ड बनाया है। इसलिए भाजपा ने नहीं सहेगा राजस्थान’ अभियान शुरू किया है। भाजपा देहात जिलाध्यक्ष जालम सिंह भाटी ने कहा कांग्रेस की अशोक गहलोत सरकार उत्पीड़न, पक्षपात और जनता पर अत्याचार करने में नंबर एक सरकार है। दूसरी ओर, आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी की एनडीए सरकार है जो बिना किसी भेदभाव के सबका साथ, सबका विकास के सिद्धांत पर राजस्थान सहित समग्र राष्ट्र के कल्याण एवं विकास के लिए काम कर रही है। भाजपा पश्चिम विधान सभा प्रभारी गोपाल मारू ने कहा राजस्थान की कांग्रेस सरकार जनविरोधी है प्रदेश की जनता अपने आप को ठगा सा महसूस कर रही है गहलोत शासनकाल में प्रदेश में भय भूख भ्रष्टाचार महिला उत्पीड़न और अत्याचार को बढ़ावा मिला तो वही पेपर लीक के चलते प्रदेश का युवा मायूस है वही कर्ज माफी नहीं होने से किसान भी कर्ज के बोझ से तड़प रहा है। प्रदेश कार्यकारणी सदस्य मुमताज अली भाटी ने कहा रीट पेपर लीक मामले की अगर सीबीआई जांच करती राजस्थान सरकार के कई मंत्री और नेता जेल जाते ऐसे में लगता है कांग्रेस का हाथ भ्रष्टाचार के साथ है जिसके चलते प्रदेश अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ गया विकास ठप हो गया और नेता भोली भाली जनता को लूट कर अपनी जेब भर रहे हैं। महापौर सुशीला कंवर राजपुरोहित ने कहा गहलोत सरकार का रिपोर्ट कार्ड यह भी है कि राजस्थान में वृद्धा पेंशन में लगभग 400 करोड़ रुपये का घोटाला हुआ। भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम में 567 अभियोजन मामलों में स्वीकृति नहीं दी गई ।

20230720 123257

गहलोत परिवार के लोग हजारों करोड़ रुपये के कॉन्ट्रैक्ट ले रहे हैं। रैप मामलों में प्रदेश नंबर वन लचर कानून व्यवस्था राजस्थान में प्रतिदिन औसतन 18 से 19 रेप और 7 मर्डर हो रहें है। कांग्रेस की गहलोत सरकार में 45 हजार से अधिक महिलाओं के साथ बलात्कार के मामलें दर्ज हुए हैं। राजस्थान में प्रतिदिन औसतन 18 से 19 रेप और 7 मर्डर हो रहें है। कांग्रेस की गहलोत सरकार में 45 हजार से अधिक महिलाओं के साथ बलात्कार के मामलें दर्ज हुए हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा 56 फीसदी महिलांए झूठे मामले दर्ज करवाती है जो दुर्भाग्य पूर्ण है। भाजपा प्रदेश कार्यकारणी सदस्य सत्यप्रकाश आचार्य ने कहा गहलोत सरकार के प्रशासन ने एफआईआर करने में भी कोताही करती है। कांग्रेस सरकार में भ्रष्टाचार के मामले में राजस्थान देश में नंबर- 1 है ट्रांसपेरेन्सी इंटरनेशनल के करप्शन सर्वे में राजस्थान भ्रष्ट राज्यों की सूची में नंबर वन है। राजस्थान में भर्ती परीक्षाओं के 17 पेपर लीक हो चुके हैं, रीट पेपर लीक मामले को सीबीआई जाँच करती तो गहलोत सरकार के मंत्री व कांग्रेस के बड़े नेता जेल जाते है आरपीएससी का सदस्य पेपर लीक में अभियुक्त है, पूर्व राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त से 18 लाख नकदी बरामद हो रही है।

 

खुलमखुला भ्रष्टाचार हैं  मुख्यमंत्री की मजबूरी है या कमजोरी है कि उन्हें हटा नहीं पा रहे हैं। कार्यक्रम संयोजक मोहन सुराणा ने कहा कांग्रेस के विधायक जौहरी लाल मीणा के पुत्र पर दुष्कर्म के मामले में एफ़आइआर नाम के बावजूद पुलिस ने आरोपी नहीं माना, कोर्ट के आदेश से गिरफ़्तार हुआ। महिला उत्पीड़न मामले में थाना गाजी के गैंगरेप को भुलाया नहीं जा सकता। परिवार और पति के सामने महिला का गैंग रेप हुआ और कोई सुध लेने वाला नहीं है।  गहलोत सरकार तुष्टिकरण व भेदभाव कर रही हैं कांग्रेस सरकार राजस्थान में गहलोत सरकार खुलेआम अन्याय और तुष्टिकरण की राजनीति कर रही है। आज के धरने व पदयात्रा में शहर जिलाध्यक्ष विजय आचार्य, देहात जिलाध्यक्ष जालम सिंह भाटी, प्रदेश कार्यकारणी सदस्य सत्य प्रकाश आचार्य, महामंत्री मोहन सुराणा, अनिल शुक्ला, नरेश नायक, पूर्व महापौर नारायण चोपड़ा, पूर्व यूआईटी चेयरमैन महावीर रांका, उप महापौर राजेंद्र पंवार, अविनाश जोशी, आनंद सिंह भाटी, भगवान सिंह मेड़तिया, गोकुल जोशी, अशोक प्रजापत, बंसीलाल तंवर, रमजान अब्बासी, इंद्रा व्यास, अरुण जैन, हनुमान सिंह चावड़ा, मधुरिमा सिंह, कोशल शर्मा, गोपाल मारू, प्रोमिला गौतम, मीना आसोपा, ओम सोनगरा, सुषमा बिस्सा, सुमन छाजेड़, भूपेंद्र शर्मा, मनीष सोनी, जेठमल नाहटा, नरसिंह सेवक, दिनेश महात्मा, कमल आचार्य, मुकेश ओझा, चंद्रप्रकाश गहलोत, कपिल शर्मा, पुनीत शर्मा, महेश व्यास, वेद व्यास, श्याम सुंदर चौधरी, सुधा आचार्य, देव किशन मारू, उस्मान गनी, ओम प्रकाश मीणा, पंकज अग्रवाल, विक्रम सिंह भाटी,  बाबूलाल गहलोत, संगीलाल गहलोत, पाबूदान सिंह राठौड़, संपत पारीक, भारती अरोड़ा, दिलीप पूरी, सुरेंद्र सिंह शेखावत, विजय उपाध्याय, जतिन सहल, शिव रंगा, जितेंद्र रजवी, जमनलाल गजरा, मुकेश आचार्य, संगीता शेखावत, अनुराधा व्यास, राहुल पारीक, कमल गहलोत, शिखरचंद डागा, दुर्गाशंकर व्यास, जितेंद्र सिंह भाटी, हुलास भाटी, नवरतन सिसोदिया, उपासना जैन, फारुख चौहान, बजरंग सोखल, राजकुमार पारीक, सलीम जोइया, मनीष पंवार, इमरान कायमखानी, पवन सुथार, विमल पारीक के साथ भाजपा सैंकड़ों की संख्या में भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Share This Article