डूंगर काॅलेज मैंअन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन के ई-ब्रोशर का लोकार्पण

डूंगर काॅलेज मैंअन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन के ई-ब्रोशर का लोकार्पण bikaner डूंगर काॅलेज मैंअन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन के ई-ब्रोशर का लोकार्पण Photo VC Speech

बीकानेर. डूंगर काॅलेज के प्राणीशास्त्र विभाग द्वारा 12 से 14 अक्टूबर 2020 को आयोजित होने वाले अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन के ई-ब्रोशर का लोकार्पण वेटेरीनरी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. डाॅ. विष्णु शर्मा ने किया। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि काॅलेज शिक्षा के सहायक निदेशक डाॅ. राकेश हर्ष रहे एवं अध्यक्षत प्राचार्य डाॅ. सतीश कौशिक ने की।
आयोजन संयोजक डाॅ. राजेन्द्र पुरेाहित ने बताया कि मुख्य अतिथि प्रो. विष्णु शर्मा ने संबांधित करते हुए कहा कि आज आवश्यकता है कि बह ुविषयक शोध कार्य किये जावें। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि आगामी अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन विकिरण एव ंकेन्सर के मूल तथ्यों को बारीकी से समझने  में काफी सहायक होगा।डाॅ. शर्मा ने कहा कि किसी भी शोध का सीधा सम्बन्ध समाज कल्याण से होना चाहिये एवं उसका लाभ समाज के हर तबके को मिलना चाहिये तभी उस शोध की सार्थकता सिद्ध होगी। उन्होने कहा कि डूंगर काॅलेज में चल रहे विकिरण जैविकी की शोध कार्य के सारांश को विश्व के ख्यातनाम शोध ग्रन्थों जैसे नैचर एवंलैन्सेट आदि मेंप्रकाशित करना चाहिये जिससे कि विश्व वैज्ञानिक भी इन कार्यो से रूबरू हो सके। डाॅ.शर्मा ने कहा कि विश्व की अनेक ऐसी संस्थाये ंहैं जो कि इस प्रकार के सम्मेलनों हेतु आर्थिक एवं अन्य सभी प्रकार की सहायता करती हैं।
विशिष्ट अतिथि डाॅ. राकेश हर्ष ने अपने उद्बोधन में विद्यार्थियों एवं शोधार्थियों से आह्वान किया कि वे अधिकाधिक रूप से औषधीय पादपों की उपयोगिता पर शोध कार्य करें। साथ ही उन्हांेने कहा कि इस प्रकार के अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन के आयोजन से शोधार्थियों को अधिकाधिक लाभ उठाना चाािहये।
अपने अध्यक्षीय उद्बोधन मे ंप्राचार्य डाॅ. सतीश कौशिक ने कहा कि विकिरण जैविकी पर होने वाला आगामी अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन ऐतिहासिक होगा एवं विश्व पटल पर डूंगर काॅलेज की शोध के क्षेत्र में अनूठी पहचान बनेगी। उन्हांेने आयोजन समिति को सफल आयोजन हेतु शुभकामनाएंप्रेषित की।
कार्यक्रम के प्रारम्भ में विभाग प्रभारीडाॅ. मीरा श्रीवास्तव ने अपने स्वागत उद्बोधन में अतिथियों का स्वागत करते हुए प्राणीशास्त्र विभाग की उपलब्धियों का जिक्र किया। डाॅ. श्रीवास्तव ने कहा कि सम्मेलन हेत ुविभिन्न्ा कार्यों को सम्पादित करने हेतु विभाग के सभी सदस्य सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं।
आयोजन सचिव डाॅ. अरूणा चक्रवर्ती ने विषय प्रवर्तन किया तथा सहसंयोजक डाॅ. दीप्ति श्रीवास्तव ने सम्मेलन हेतु अब तक किये गये कार्यों का उल्लेख किया। कोषाध्यक्ष डाॅ. मनीषा अग्रवाल ने सभी अतिथियों एवं आगन्तुकों का आभार प्रकट किया।
इस अवसर पर डाॅ. जी.पी.सिंह., डाॅ. संध्या जैन, डाॅ. ए.के.यादव,  डाॅ. प्रताप सिंह, डाॅ. लीना शरण, डाॅ. नरेन्द्र ंिसंह राठौड़, डाॅ. योगेन्द्र सिंह, डाॅ. महेन्द्र सिंह सोलंकी, डाॅ. इन्द्रा विश्नोई, डाॅ. अनिला पुरोहित सहित अनेक संकाय सदस्य एवं बड़ी संख्या में विद्यार्थी उपस्थित रहे।

COMMENTS

WORDPRESS: 0