fbpx

राजलदेसर में ज्ञान फाउंडेशन के कार्यक्रम में टाउन हॉल का उद्घाटन, सम्मान व कृतियों का लोकार्पण

राजलदेसर में ज्ञान फाउंडेशन के कार्यक्रम में टाउन हॉल का उद्घाटन, सम्मान व कृतियों का लोकार्पण  राजलदेसर में ज्ञान फाउंडेशन के कार्यक्रम में टाउन हॉल का उद्घाटन, सम्मान व कृतियों का लोकार्पण WhatsApp Image 2019 10 08 at 19

बीकानेर। ज्ञान फाउंडेशन द्वारा राजलदेसर में निर्मित राजकिशोरी टाउनहॉल का उद्घाटन बुधवार को शिवबाड़ी स्थित लालेश्वर महादेव मंदिर के अधिष्ठाता संवित सोमगिरीजी महाराज और वरिष्ठ रंगकर्मी, साहित्यकार, पत्रकार मधु आचार्य ‘आशावादी’ ने किया। इस अवसर पर फाउंडेशन द्वारा 11000 रुपए का शोध पुरस्कार मृदुला धरेंद्र और मालचंद जोशी स्म़ृति 5100 रुपए का आदर्श शिक्षक सम्मान  प्रहलादराय सोनी का प्रदान किया गया। वरिष्ठ कवयित्री-कथाकार डॉ.उषाकिरण सोनी की गायत्री प्रकाशन से प्रकाशित ‘जस करनी तस…’ तथा ‘मन सृजन और जीवन’ का लोकार्पण भी किया गया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए संवित सोमगिरीजी ने कहा कि लोकचित्त को परिष्कार करने की आज बहुत जरूरत है। यह कार्य रचनाकार भलीभांति करना जानता है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र के चौथे स्तंभ का यह कत्र्तव्य बनता है कि समाज को सही-गलत की सीख दे। ज्ञान फाउंडेशन द्वारा शुरू किए गए राजकिशोरी टाउन हॉल के माध्यम से युवाओं के कौशल विकास की कामना करते हुए उन्होंने कहा कि आने वाली पीढिय़ों के लिए यह कार्य एक मील का पत्थर होगा।
मधु आचार्य ‘आशावादीÓ ने कहा कि कला, साहित्य और संस्कृति के माध्यम से ही व्यक्ति अपने इंसान होने की पुष्टि करता है। उन्होंने कहा कि जयचंदलाल सोनी और उषाकिरण सोनी की सामाजिक और साहित्यिक प्रतिबद्धताओं से हम सुपरिचित हैं, देश के हर गांव में एक ऐसा युगल होना चाहिए। उन्होंने कहा क डॉ.सोनी ने अपने निबंध संग्रह में अनछुए विषय उठाए हैं।
कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि दुर्गादत्त शर्मा ने कहा कि बिरले ही लोग होते हैँ जो समाज की सेवा के लिए अपना सर्वस्व अर्पित कर देते हैं। गंगाराम सोनी ने कहा कि राजकिशोरी टाउन हॉल के माध्यम से राजलदेसर को एक नई पहचान मिलेगी।
कार्यक्रम के प्रारंभ में डॉ.उषाकिरण सोनी ने ज्ञान फाउंडेशन की गतिविधियों की जानकारी देते हुए बताया कि पूर्वजों की स्मृति में उनके नाम पर संचालित यह फाउंडेशन पूरी तरह से समाज सेवा के विभिन्न आयामों में कार्यरत है। हमारा उद्देश्य है कि जिस समाज से हमें मिला है, उस समाज को वापस भी दें, यह भाव सभी में होना चाहिए।
फाउंडेदश के उपाध्यक्ष गौतम विवेक ने अतिथियों को स्वागत किया। कोषाध्यक्ष जयचंद लाल सोनी ने आभार स्वीकार किया। संचालन हरीश बी. शर्मा ने किया।

COMMENTS

WORDPRESS: 0