विकासशील देशों में सबसे तेजी से गरीबी हटाने वाला देश बना भारत

भारत विकासशील देशों में सबसे तेजी से गरीबी दूर करने वाला देश बन गया है। संयुक्त राष्ट्र ने 101 देशों में गरीबी की एक रिपोर्ट जारी की है, जिसमें ये बात कही गई है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि साल 2006 से 2016 के बीच भारत ने 10 विकासशील देशों के समूह में सबसे तेजी से गरीबी कम की है। इस दौरान देश के 27.1 करोड़ लोग गरीबी से बाहर आए हैं।

भारत में कितने घटे गरीब

यूएनडीपी की मल्टीडाइमेंशनल पॉवर्टी इंडेक्स रिपोर्ट के अनुसार भारत में गरीबों की संख्या 64 करोड़  (55.1 फीसदी) से घटकर 36.9 करोड़ (27.9 फीसदी) हो गई है। इस रिपोर्ट में भारत के अलावा बांग्लादेश, कंबोडिया, हैती, पेरू, कांगो, इथोपिया, नाइजीरिया, पाक, वियतनाम जैसे देशों को भी शामिल किया गया है।

दुनियाभर में कितने गरीब

रिपोर्ट के मुताबिक दुनियाभर के 130 करोड़ गरीब लोगों में 50 फीसदी ऐसे हैं, जिनकी उम्र 18 साल से कम है। इनमें दो तिहाई मध्यम आय वाले देशों में रहते हैं। गरीबी के कारण दक्षिण एशिया में 3.6 करोड़ बच्चे आठवीं तक पढ़ाई नहीं कर पाते हैं।

चार राज्यों में सबसे ज्यादा गरीब

देश के 19.6 करोड़ गरीब लोग चार राज्यों बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश और मध्यप्रदेश से हैं। ये संख्या देश के कुल गरीबों में आधे से ज्यादा है। मध्यप्रदेश के अलीराजपुर में 76.5 फीसदी लोग गरीब हैं। उत्तर प्रदेश में 70 फीसदी से ज्यादा आबादी गरीब है।

किस पैमाने पर रेटिंग

इंडेक्स में इन पैमानों के आधार पर गरीबी की रेटिंग की गई है। पोषण की कमी, शिशु मृत्यु दर में कमी, रसोई गैस में कमी, स्वच्छता में कमी, पीने का पानी कम होना, बिजली की कमी, घरों की कमी, संपत्तियों का अभाव। भारत ने स्कूल जाने के साल और स्कूल में मौजूदगी की दर में भी सुधार किया है।

COMMENTS

WORDPRESS: 0