India News : भीषण आग से पिता और 2 बेटियाँ जिंदा जले

4 Min Read
India News

India News

मध्यप्रदेश के ग्वालियर के बहोडापुर थाना क्षेत्र के कैलाश नगर में एक दर्दनाक हादसा हुआ। ड्राई फ्रूट कारोबारी विजय उर्फ बंटी अग्रवाल के तीन मंजिला मकान में भीषण आग लग गई, जिसमें पिता और उनकी दो बेटियों की जिंदा जलने से मौत हो गई।

घटना की सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की 13 गाड़ियां मौके पर पहुंचीं और करीब ढाई घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। शॉर्ट सर्किट को आग लगने का कारण बताया जा रहा है।

India News

यह हादसा कैलाश नगर में हुआ, जहां ग्राउंड फ्लोर पर ड्राई फ्रूट्स की दुकान और दूसरे फ्लोर पर गोदाम था। व्यापारी अपने परिवार के साथ तीसरे फ्लोर पर रहता था। आग की इस भीषण घटना ने इलाके में शोक की लहर दौड़ा दी है।

- Advertisement -

स्थानीय प्रशासन और पुलिस मामले की जांच कर रहे हैं, ताकि आग लगने के सटीक कारणों का पता लगाया जा सके और भविष्य में ऐसे हादसों से बचा जा सके। इस घटना ने सुरक्षा उपायों की अनदेखी के गंभीर परिणामों को उजागर किया है।

विजय की पत्नी राधिका, बेटे अंश के साथ ससुराल मुरैना गई हुई थी. घर पर विजय और उनकी बेटी आएशा (15) और यशिका (14) ही थे. देर रात को घर में आग लगने पर बाहर आने के एक रास्ते में लपटें थीं तो दूसरा बंद था. ऐसे में पिता और दोनों बेटियां आग में घिर गईं और बाहर नहीं निकल सकीं.

India News

A tragic incident took place in Kailash Nagar of Bahodapur police station area of ​​Gwalior, Madhya Pradesh. A massive fire broke out in the three-storey house of dry fruit businessman Vijay alias Bunty Agarwal, in which the father and his two daughters died after being burnt alive.

As soon as the incident was reported, 13 fire brigade vehicles reached the spot and after about two and a half hours of hard work, the fire was controlled. Short circuit is being said to be the cause of the fire.

India News

This accident happened in Kailash Nagar, where there was a dry fruits shop on the ground floor and a warehouse on the second floor. The businessman lived with his family on the third floor. This horrific fire incident has sent a wave of mourning in the area.

The local administration and police are investigating the matter, so that the exact causes of the fire can be ascertained and such accidents can be avoided in future. This incident has exposed the serious consequences of ignoring safety measures.

Vijay’s wife Radhika had gone to her in-laws’ house in Morena with son Ansh. Only Vijay and his daughters Ayesha (15) and Yashika (14) were at home. When the house caught fire late at night, one exit was engulfed in flames and the other was blocked. The father and his two daughters were trapped in the fire and could not get out.

Share This Article