यूक्रेन के खारकीव में गोलाबारी में भारतीय छात्र की मौत, विदेश मंत्रालय ने की पुष्टि

3 Min Read

नई दिल्ली. यूक्रेन के खारकीव में मंगलवार सुबह रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध के दौरान हुई गोलाबारी में एक भारतीय छात्र की मौत हो गई. भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा, “दुख के साथ हम पुष्टि करते हैं कि आज सुबह खारकीव में गोलाबारी में एक भारतीय छात्र की जान चली गई. मंत्रालय उनके परिवार के संपर्क में है.” उन्होंने यह भी कहा, “हम परिवार के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करते हैं.” मृतक छात्र का नाम शेखरप्पा ज्ञानगौदर बताया जा रहा है, जो कि कर्नाटक के चालगेरी के रहने वाले थे.

भारत के विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला रूस और यूक्रेन के राजदूतों से भारतीय नागरिकों की स्वदेश वापसी के लिए बात करेंगे. अभी भी छात्र खारकीव और अन्य संघर्ष क्षेत्रों में फंसे हुए हैं. बागची ने कहा, “इसी तरह की कार्रवाई रूस और यूक्रेन में हमारे राजदूतों द्वारा भी की जा रही है.”

खारकीव में फिर से रूसी सेना का जोरदार हमला
इस बीच, रूस ने यूक्रेन के दूसरे सबसे बड़े शहर खारकीव में फिर से भीषण गोलाबारी की है और वहां के पॉवर सब-स्टेशनों सहित विभिन्न प्रतिष्ठानों को नुकसान पहुंचाया है. 87 से ज्यादा घर क्षतिग्रस्त हो गए हैं. खारकीव के मेयर इगोर तेरखोव ने कहा, “आक्रमणकारियों ने हमें बिजली की आपूर्ति करने वाले सबस्टेशनों को उड़ा देना शुरू कर दिया है. खारकीव में जो हो रहा है वह नरसंहार है. यह एक ऑपरेशन नहीं बल्कि लोगों को समाप्त करने के लिए एक युद्ध है. यह पूरी दुनिया के खिलाफ एक अपराध है.”

- Advertisement -

तेरखोव ने उल्लेख किया कि रूसी सैनिक लगातार शहर में सेंध लगाने की कोशिश कर रहे हैं, तोड़फोड़ करने वाले समूह काम कर रहे हैं, लेकिन खारकीव जीत जाएगा. यूक्रेनी सोशल नेटवर्क पर पोस्ट किए गए वीडियो में दिखाई दे रहा है कि खारकीव में सोवियत काल की एक ऊंची प्रशासनिक इमारत में भीषण विस्फोट हुआ, जिससे उसके पास खड़ी कई कारें क्षतिग्रस्त हो गईं. इस विस्फोट से इमारत की खिड़कियां टूट गईं.

खारकीव में रूसी सैनिकों को बढ़ने से रोकने की कोशिश जारी
खारकीव क्षेत्रीय प्रशासन के प्रमुख ओलेह सिनेहुबोव ने कहा कि रूस ने खारकीव के बीचों-बीच आवासीय इमारतों के साथ एक प्रशासनिक इमारत पर मंगलवार को गोलाबारी की. इससे पहले, उन्होंने बताया कि सोमवार को खारकीव में हुई गोलाबारी में कम से कम 11 लोगों की मौत हो गई थी और कई अन्य लोग घायल हुए थे. उन्होंने कहा कि यूक्रेन की सेना 14 लाख की आबादी वाले इस शहर में आगे बढ़ने की रूस की कोशिशों को बाधित करने की कोशिश कर रही है.

Share This Article