नशामुक्ति अभियान के तहत केंद्रीय कारागृह में संवाद कार्यक्रम आयोजित

1 Min Read

बीकानेर। मिशन अगेंस्ट नारकोटिक सब्सटेंस एब्यूज (मनसा) के तहत बुधवार को केंद्रीय कारागृह में कैदियों के साथ संवाद कार्यक्रम आयोजित हुआ।
अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) अरुण प्रकाश शर्मा ने कैदियों को नशा न करने और न करने देने का संकल्प दिलाया और कहा कि नशाखोरी के विरूद्ध जागरूकता लाने में समाज के प्रत्येक वर्ग की भूमिका महत्वपूर्ण है। इसके मद्देनजर जागरूकता की सतत गतिविधियां आयोजित की जा रही हैं।
मनसा जागरूकता अभियान के कोर्डिनेटर राजेंद्र जोशी ने कहा कि समाज को नशे के दंश से दूर करने के लिए जिले भर में अनेक गतिविधियां आयोजित की जा रही हैं। इसका उद्देश्य जिले को नशामुक्त बनाना है।
केंद्रीय कारागृह अधीक्षक आर. अनंतेश्वरन ने बताया कि नशे के विरुद्ध कार्यक्रम के तहत कार्यक्रमों की श्रंखला में कैदियों के साथ संवाद के दौरान नशे के कारण, दुष्प्रभाव, बचाव के उपायों के बारे में जानकारी दी गई।
सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक एल.डी. पंवार ने कहा कि नशे की लत से केवल नशा करने वाले को नुकसान नहीं होता, बल्कि इसका दुष्प्रभाव परिवार, मोहल्ले और समूचे समाज तक फैलता है।
इस दौरान कारापाल सुरेश कुमार, उप कारापाल इंद्राज झुरियां,विनोद कुमार उपस्थित रहे।

Share This Article