बीकानेर पेंटिंग परम्परा पर हुआ अंतर्राष्टीर्य संवाद, लंगा कलाकारों ने लोक धुनों से बिखेरा लोक रंग

बीकानेर पेंटिंग परम्परा पर हुआ अंतर्राष्टीर्य संवाद, लंगा कलाकारों ने लोक धुनों से बिखेरा लोक रंग  बीकानेर पेंटिंग परम्परा पर हुआ अंतर्राष्टीर्य संवाद, लंगा कलाकारों ने लोक धुनों से बिखेरा लोक रंग WhatsApp Image 2021 01 23 at 5

बीकानेर पेंटिंग परम्परा पर हुआ अंतर्राष्टीर्य संवाद, लंगा कलाकारों ने लोक धुनों से बिखेरा लोक रंग mr bika fb post
बीकानेर कला, थिएटर एवं कल्चर फेस्टिवल में शनिवार को आयोजित हुए दो अलग अलग संवाद कार्यक्रमों में बीकानेर की पारम्परिक पेंटिंग परम्पराओं और साहित्य पर चर्चाएं आयोजित हुई. शनिवार को शाम 6 बजे आयोजित हुए अंतर्राष्ट्रीय संवाद  “इट इस ऑलवेज रेनिंग इन बीकानेर” विषय पर सिटी यूनिवर्सिटी ऑफ न्ययॉर्क की एसोसिएट प्रोफेसर मौली आईतकेन के साथ कला विशेषज्ञ शैनेन डेविस के बीच हुई चर्चा में बीकानेर की ऐतिहासिक उस्ता कला और मिनिएचर कला की विशेषताओं पर विस्तृत संवाद हुआ। जानी मानी अंतर्राष्टीर्य ख्याति प्राप्त कला विशेषज्ञ मौली  आईतकेन द्वारा ऐतिहासिक प्रमाणों द्वारा बीकानेर में उस्ता कला की यात्रा को स्पष्ट किया गया.
शाम 7 बजे शिखर संवाद कार्यक्रम की कड़ी में राजस्थान पर्यटन विभाग के निदेशक और लेखक निशांत जैन और प्रशिद्ध दास्तानगो हिमांशु वाजपेई के साथ “साहित्य के इर्द गिर्द” विषय पर संवाद कार्यक्रम हुआ जिसमें दोनों लेखकों ने अपनी साहित्यिक यात्रा के अलावा साहित्य जगत में अपने अनुभवों को साझा किया।
फेस्टिवल संयोजक निकिता तिवारी ने बताया कि फेस्टिवल के सांस्कृतिक कार्यक्रमों की श्रृंखला में रात्रि 8 बजे बिस्सा चौक में आयोजित होने वाली नौटंकी शहजादी रम्मत का प्रदर्शन धरणीधर रंग मंच पर हुआ. रम्मत में कृष्ण कुमार बिस्सा, मनोज कुमार व्यास, इंद्र कुमार बिस्सा, विकास पुरोहित, प्रेम गहलोत, रविंद्र बिस्सा, गोविन्द गोपाल बिस्सा तथा अविनाश बिस्सा ने रम्मत के विभिन्न चरित्रों को मंच पर उतारा। कार्यक्रम के समापन अवसर पर रात्रि 9 बजे असगर लंगा पार्टी द्वारा लोक एवं सूफी गीतों की प्रस्तुति दी गयी. असगर लंगा ने छाप तिलक सब छीन ली, लड़ली लूमा झूमा तथा दमादम मस्त कलंदर जैसे गीत गाकर वाही वाही लूटी।
फेस्टिवल से जुड़े नवल किशोर व्यास ने बताया कि फेस्टिवल में रविवार को सराजस्थान में फेस्टिवल की परम्परा, रंगमंच तथा राजस्थान में पर्यटन से जुड़े विभिन्न विषयों पर तीन संवाद कार्यक्रम आयोजित होंगे। शिखर संवाद कार्यक्रम के अंतर्गत शाम को 5 बजे देश के प्रशिद्ध ध्रुपद गायक पद्मश्री उमाकांत गुंडेचा कथाकार अनिरुद्ध उमट के साथ अपनी संगीत यात्रा पर संवाद करेंगे। सांस्कृतिक कार्यक्रमों की श्रृंखला में शाम को 7 बजे बीकानेर के सुप्रशिद्ध लोक गायक सांवरलाल रंगा द्वारा संगीत की प्रस्तुति दी जाएगी। इसके अलावा दयानन्द शर्मा द्वारा लिखित एवं निर्देशित नाटक “लेखक का कुत्ता” का ऑनलाइन मंचन किया जायेगा।

COMMENTS